Featured Posts

Most selected posts are waiting for you. Check this out

Photo
एचआईवी संक्रमण के प्रति आमजन को जागरुक करने के लिए जानकारी ही बचाव है- सीजेएम

एचआईवी संक्रमण के प्रति आमजन को जागरुक करने के लिए जानकारी ही बचाव है- सीजेएम


                          डीएलएसए ने एचआईवी संक्रमण के बारे में आमजन को किया जागरुक

कुरुक्षेत्र (डिस्कवरी टाइम्स) 6 फरवरी:जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की सचिव एवं सीजेएम डा. कविता काम्बोज ने कहा कि डीएलएसए की तरफ से एचआईवी संक्रमण के प्रति आमजन को जागरुक करने के लिए जानकारी ही बचाव है अभियान के तहत विशेष कानूनी साक्षरता शिविरों का आयोजन किया जा रहा है। इन शिविरों के माध्यम से लोगों को एड्स संक्रमण की रोकथाम और इससे बचाव के तरीकों को विस्तार से बताया जा रहा है और एड्स जैसी भयानक बिमारी के प्रति जानकारी ही बचाव कार्यक्रम के जानकारी देकर जागरुक किया जा रहा। 

उन्होंने कहा कि एड्स एक खतरनाक बिमारी है, जिससे के प्रति सावधानी ही बचाव है। इसलिए हमें सभी को इस बिमारी के प्रति सावधान रहना चाहिए और लोगों को भी जानकारी देकर जागरुक करना चाहिए। उन्होंने कहा कि इस अभियान के तहत पैनल के अधिवक्ता वरुण गर्ग व पीएलवी तनुज ने गांधी नगर, कीर्ति नगर, डींग इंट भट्टा , अधिवक्ता कुलदीप सिंह व पीएलवी रामप्रसाद ने राजकीय स्कूल भेरियां, राजकीय स्कूल बीड़ मथाना, राजकीय स्कूल चढुनी जाटान में स्कूली बच्चों व आमजन को एचआईवी संक्रमण के कारण व इससे बचाव की जानकारी देकर जागरुक किया।
स्वच्छता ना केवल हमारे घर सडक़ तक के लिए ही जरूरी, यह देश ओर राष्ट्र की आवश्यकता: डा. किरण

स्वच्छता ना केवल हमारे घर सडक़ तक के लिए ही जरूरी, यह देश ओर राष्ट्र की आवश्यकता: डा. किरण


                           एसडीएम ने स्वच्छता अभियान को लेकर अधिकारियों की ली बैठक

कुरुक्षेत्र, शाहबाद (डिस्कवरी टाइम्स) 6 फरवरी:उपमंडल अधिकारी नागरिक डा. किरण सिंह ने कहा कि स्वच्छता ना केवल हमारे घर सडक़ तक के लिए ही जरूरी नहीं होती है। यह देश ओर राष्ट्र की आवश्यकता होती इससे ना केवल हमारा घर आंगन ही स्वच्छ रहेगा पूरा देश ही स्वच्छ रहेगा।

वे वीरवार को शाहबाद में 7 फरवरी से शुरु किए जाने वाले स्वच्छता अभियान को लेकर अधिकारियों की एक बैठक को सम्बोधित कर रही थी। इससे पहले उन्होंने स्वच्छता अभियान की सभी तैयारियां पूरी करने के लिए अधिकारियों को जरुरी दिशा-निर्देश भी दिए है। उन्होंने कहा कि शहर व गांवों को स्वच्छ बनाना है। यह तभी सम्भव होगा जब हम सभी मिलजुलकर आपसी सहयोग से काम करेंगे। साफ-सफाई से हमारा तन-मन दोनों स्वस्थ और सुरक्षित रहता है। यह हमें किसी और के लिए नहीं, बल्कि खुद के लिए करना है। यह जागरूकता जन-जन तक पहुंचानी होगी। हमें इसके लिए जमीनी स्तर से लगकर काम करना होगा। हमें बचपन से ही बच्चों में सफाई की आदत डलवानी होगी।

उन्होंने कहा कि अगर हम स्वच्छ और सुंदर माहौल में न रहें तो हमें गंदगी से अनेक प्रकार की बिमारियों और परेशानियों का सामना करना पड़ता है जिसके लिए हम खुद जिम्मेदार होते हैं। हम सभी यही सोचते हैं कि अपने घर और आस-पास की सफाई रखें लेकिन सफाई करने के बाद कूड़े-कचरे को इधर-उधर फेंक देते हैं। इसके अलावा एसडीएम ने सीएचसी का निरीक्षण कर चिकित्सकों को कुछ आवश्यक दिशा-निर्देश दिए और राज्य विभाग के अधिकारियों को रिकवरी करने के लिए कहा है। इस मौके पर तहसीलदार, एसडीओ राष्ट्रीय राजमार्ग, जेई पीडब्लयूडी, सफाई निरीक्षक सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित थे।
थीम पार्क में बनेंगा मुख्य बचाव केन्द्र, एनआईसी कार्यालय में बनेगा कंट्रोल रुम, भूकम्प को लेकर होगी मॉकड्रिल:धीरेन्द्र

थीम पार्क में बनेंगा मुख्य बचाव केन्द्र, एनआईसी कार्यालय में बनेगा कंट्रोल रुम, भूकम्प को लेकर होगी मॉकड्रिल:धीरेन्द्र



कुरुक्षेत्र (डिस्कवरी टाइम्स) 6 फरवरी:उपायुक्त धीरेन्द्र खडगटा ने कहा कि 7 फरवरी को सुबह 11 बजे मॉकड्रिल का समय निर्धारित किया गया है। इसके लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली गई है। सम्बन्धित अधिकारी इस मॉकड्रिल के दौरान अपनी-अपनी डयूटी को पूरी मुस्तैदी से करना सुनिश्चित करे। उन्होंने कहा कि इस मॉकड्रिल से लोगों को भयभीत होने की जरुरत नहीं है, यह केवल रिहर्सल मात्र है, इसलिए लोग अपना रुटीन का कार्य करते रहेंगे, इस दौरान किसी भी व्यक्ति कोई परेशानी नहीं आने दी जाएगी।

उन्होंने कहा कि थीम पार्क में स्टेजिंग सेंटर बनाया जाएगा और लघु सचिवालय के एनआईसी कार्यालय में कंट्रोल रुम स्थापित किया जाएगा। इसके अलावा लघु सचिवालय, डीएन कालेज, डिवाईन मॉल और बस स्टैंड स्थलों को प्रभावित क्षेत्र के रुप में दिखाया जाएगा, सिविल अस्पताल को आपातकालीन स्वास्थ्य सेवाओं के लिए तैयार किया गया है। उन्होंने कहा कि 7 फरवरी को सुबह 11 बजे एक सायरन बजेगा जो कि भूकम्प की मॉकड्रिल की सूचना देगा। इस सायरन के साथ ही स्वास्थ्य विभाग, पुलिस विभाग, खाद्य एवं आपूर्ति विभाग, रैडक्रास और सामाजिक संस्थाओं के स्वयं सेवी एनसीसी, स्काउट, एनएसएस सहित अन्य विभाग हरकत में आ जाएंगे और मॉकड्रिल में लोगों को बचाने के लिए निर्धारित 4 स्थलों की तरफ कूच करेंगे। यह सभी थीम पार्क से ही कूच करेंगे और लोगों को इलाज के लिए अस्पताल और अन्य सुविधाओं के लिए थीम पार्क में लेकर आएंगे।
विभिन्न योजनाओं से सम्बन्धित विकास कार्यो की समीक्षा बैठक में ओर अधिक गति देने के उदेश्य से अधिकारियों को दिशा-निर्देश -  उपायुक्त

विभिन्न योजनाओं से सम्बन्धित विकास कार्यो की समीक्षा बैठक में ओर अधिक गति देने के उदेश्य से अधिकारियों को दिशा-निर्देश - उपायुक्त



कुरुक्षेत्र (डिस्कवरी टाइम्स ) 6 फरवरी:उपायुक्त धीरेन्द्र खडगटा ने कहा कि अधिकारी समय सीमा के अंदर-अंदर कार्य करे और बैठक में पूरी तैयारी के साथ विकास कार्यो की रिपोर्ट के साथ आए तथा सम्बन्धित ग्रुपों में प्रतिदिन अपने-अपने विभाग से सम्बन्धित रिपोर्ट की अपडेट भी डाले।

उपायुक्त वीरवार को लघु सचिवालय के सभागार में जिले में चल रही विभिन्न स्कीमों से सम्बन्धित विकास कार्यो को ओर अधिक गति देने के उदेश्य से आयोजित समीक्षा बैठक में अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दे रहे थे। उन्होंने बैठक में सबसे पहले मनरेगा के कार्यो पर चर्चा की और बीडीपीओ व एबीपीओ को निर्देश दिए कि ज्यादा से ज्यादा से मनरेगा में काम करवाए । उन्होंने एबीपीओ से कहा कि अगली बैठक में जब आए तो उन्हें पता होना चाहिए कि मनरेगा के तहत कितनी तरह के कार्य किए जा सकते है, इससे सम्बन्धित वह एक एक्शन प्लान तैयार करे तथा उसकी रिपोर्ट उपायुक्त कार्यालय में दे। उन्होंने कहा कि जल्द ही मनरेगा के तहत सौलर वेस्ट मिनी एसटीपी प्रोजैक्ट की शुरुआत की जाएगी। 

उन्होंने डीडीपीओ को कहा कि सम्बन्धित अधिकारियों और कर्मचारियों की मनरेगा के तहत ट्रेनिंग करवाएं ताकि उन्हें बारीकि से मनरेगा की जानकारी प्राप्त हो सके। उन्होंने पंचायती विभाग के एसडीओ को कहा कि विभाग का जेई अपने क्षेत्र में हो रहे कार्यो की साईट का एक बार विजिट करे। वे जल्द ही सरपंचों की बैठक लेंगे और उन्हें मनरेगा से क्या कार्य हो सकते है, इसके बारे में विस्तार से जानकारी दी जाएगी। डीसी ने एबीपीओ की समस्याओं को बारीकि से सुना और उनका मौके पर समाधान किया तथा सम्बन्धित अधिकारियों को कहा कि जरुरत की हर चीज एबीपीओ को दी जाए। बीडीपीओ को कहा कि वे अपने-अपने ब्लाक में वीडियो कान्फ्रेंस रुम स्थापित करे, इस रुम में हर प्रकार की सुविधा होनी चाहिए ताकि जरुरत पडऩे पर सम्बन्धित अधिकारी वहीं से ही वीसी के माध्यम से अपनी बात रख सके। उन्होंने कहा कि सभी विभागों में पूरी तरह से साफ सफाई होनी चाहिए और जो भी कंडम समान है, उसे इस माह के अंत कंडम करवाएं। उन्होंने बीडीपीओ से यह भी कहा कि वर्ष 2014 से अब तक जो-जो कार्य पेंडिंग है, उनकी सूचि बनाकर एडीसी कार्यालय में दे।

उन्होंने प्रधानमंत्री आवास योजना की समीक्षा करते हुए कहा कि जिन लाभार्थियों की दूसरी व तीसरी किश्त जारी की जानी है, वह समय सीमा के अंदर जारी करे। पंचायती राज विभाग के जेई इस योजना में हुए कार्यो का फिजीकल वैरफिकेशन करेंगे और अपनी रिपोर्ट देंगे। आगामी वित्त वर्ष में प्रत्येक गांव में मॉडल पांउड, पौधारोपण, स्कूल में प्ले ग्राउंड आदि कार्य करवाएं जाएंगे, इसके लिए भी पूरी तैयारी कर ले। इसके बाद डीसी ने राष्टटीय जीविका मिशन के तहत हो रहे कार्यो की समीक्षा की और कहा कि जिले में ज्यादा से ज्यादा स्वयं सहायता समुह बनाए जाए ताकि वे स्वयं का रोजगार स्थापित कर सके और उनकी आय में बढौतरी हो सके। उन्होंने स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत किए गए कार्यो की समीक्षा करते हुए कहा कि जिन गांवों में अभी कचरा शैड नहीं बने, वहां पर निर्माण कार्य की प्रक्रिया को पूरा करे। इस कार्य के लिए ग्राम स्तर पर ग्रामीणों को ज्यादा से ज्यादा जागरुक करे। उन्होंने बीडीपीओ को कहा कि अपने-अपने ब्लाक में स्वच्छता दस्ता बनाए और उस दस्ते के माध्यम से गांव में साफ-सफाई का कार्य करवाना सुनिश्चित करे।

उपायुक्त ने बैठक में लोकायुक्त से जुड़े मामलों की समीक्षा करते हुए कहा कि इससे सम्बन्धित मामलों को गम्भीरता से ले और उनका समाधान जल्द से जल्द करे। उन्होंने बीडीपीओ से यह भी कहा कि पंचायत की जमीन पर या जोहड़ पर अगर कोई अवैध कब्जा है, तो उसे तुरंत हटवाए। जो भी विकास कार्य होते है, उनका उपयोगिता प्रमाण पत्र समय पर दे। इसके बाद डीसी ने एचआरएमएस साफ्टवेयर की समीक्षा की और कहा कि इससे सम्बन्धित सभी चीजे अपडेट होनी चाहिए। बैठक में उपायुक्त ने महात्मा गांधी बस्ती ग्रामीण योजना की भी समीक्षा की और आवश्यक दिशा-निर्देष दिए। उन्होंने एमपी लैंड स्कीम की समीक्षा करते हुए बताया कि इस स्कीम में ढाई करोड़ रुपए की राशि आ चुकी है, इस स्कीम से सम्बन्धित 13 विकास कार्य प्राप्त हुए है, इन कार्यो को जल्द ही शुरु करके पूरा करे। उन्होंने बताया कि डी-प्लान के अंतर्गत 14 करोड़ 35 लाख रुपए आए है, जिसमें से 7 करोड़ 91 लाख रुपए खर्च किए जा चुके है और इसके तहत 580 कार्य थे, जिसमें से 314 पूरे हो चुके है और 257 पर काम चल रहा है तथा 9 विकास कार्य शुरु होने वाले है। उन्होंने अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए कि एमपी लैंड स्कीम से सम्बन्धित कार्यो को समय सीमा के अंदर पूरा करे, वे इससे सम्बन्धित जल्द ही फिर से समीक्षा करेंगे।

उपायुक्त ने इसके बाद मुख्यमंत्री की घोषणाओं से सम्बन्धित कार्यो की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि जिले में 297 घोषणाएं हुई, जिनमें से 98 पूरी हो चुकी है तथा 125 घोषणाओं पर कार्य चल रहा है, 60 घोषणाएं मुख्यालय स्तर पर लम्बित है। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि मुख्यालय स्तर पर लम्बित सभी घोषणाओं के लम्बित कार्यो को जल्द पूरा करे। इसमें किसी प्रकार की कोई लापरवाही ना हो। बैठक में ग्रामीण विकास की स्कीमों के साथ-साथ सौर उर्जा आदि योजनाओं की भी समीक्षा की। इस मौके पर एडीसी वीना हुड्डा  नगराधीश सतबीर सिंह कुंडू, डीडीपीओ रेणू जैन सहित सम्बन्धित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

थानेसर में दिव्यांग जनों को सहायक उपकरण वितरण करने के लिए एक शिविर का आयोजन

थानेसर में दिव्यांग जनों को सहायक उपकरण वितरण करने के लिए एक शिविर का आयोजन



कुरुक्षेत्र (डिस्कवरी टाइम्स ) 6 फरवरी :   उपायुक्त एवं जिला रैडक्रास सोसायटी के प्रधान धीरेन्द्र खडगटा ने बताया कि आगामी 14 फरवरी को नई अनाज मंडी थानेसर में दिव्यांग जनों को सहायक उपकरण वितरण करने के लिए एक शिविर का आयोजन किया जाएगा। इस शिविर में मुख्यातिथि के रुप में सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय भारत के राज्यमंत्री रतनलाल कटारिया मुख्यातिथि के रुप में शिरकत करेंगे।

डीसी वीरवार को लघु सचिवालय स्थित उपायुक्त कार्यालय में शिविर की तैयारियों से सम्बन्धित आयोजित बैठक में अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दे रहे थे। उन्होंने कहा कि यह शिविर भारतीय कृत्रिम अंग निर्माण निगम सहायक उत्पादन केन्द्र मोहाली पंजाब और जिला प्रशासन के संयुक्त तत्वाधान में किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि अगस्त 2019 में खंड स्तर पर दिव्यांग मुल्यांकन शिविरों का आयोजन किया गया था, जिसमें 1151 दिव्यांगजनों की सहायक उपकरण प्रदान करने हेतू पहचान की गई थी। उन्होंने बताया कि इन दिव्यांगजनों को आगामी 14 फरवरी को एलिमको कम्पनी द्वारा सहायक उपकरण जैस तिपाहिया साईकिल, व्हील चेयर, श्रवण यंत्र, वैसाख आदि यंत्र वितरित किए जाएंगे।

उन्होंने बताया कि इस शिविर के लिए डीआरओ डा. चांदी राम चौधरी को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। उन्होंने डीआरओ को कहा कि समय रहते सभी तैयारियां पूरी करवा ले ताकि कोई समस्या ना आए। इस मौके पर जिला रैडक्रास सोसायटी कुरुक्षेत्र के सचिव कुलबीर मलिक, एलिमको कम्पनी के सहायक मैनेजर ईशविन्द्र सिंह, कम्पनी के अधिकारी अंजनी सिन्हा सहित सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित थे।
धर्मनगरी कुरुक्षेत्र के लोग हुए हस्त रेखा ज्ञान के महामंडलेश्वर राजस्थानी स्वामी दलीप नाहटा के दीवाने।

धर्मनगरी कुरुक्षेत्र के लोग हुए हस्त रेखा ज्ञान के महामंडलेश्वर राजस्थानी स्वामी दलीप नाहटा के दीवाने।


पोर्टेबल साइंटिफिक हस्तरेखा मशीन से नाहटा ने कुरुक्षेत्र-वासियों को अपनी निःशुल्क  सेवाएं दी एवं जरूरतमंद लोगों को निःशुल्क  कीमती स्टोन भी वितरित किए ।

 कुरुक्षेत्र के लोग हुए नाहटा के दीवाने, नाहटा से मिलने के लिए लोगों की लगी लंबी कतारे।
सम्मेलन में आये कई ज्योतिषी भी लगे कतारों में।

हरियाणा, कुरुक्षेत्र (वैद्य पण्डित प्रमोद कौशिक) :-  धर्मनगरी कुरुक्षेत्र  ब्रह्मसरोवर के तट पर  ध्यानयोग केन्द्र में " पंच तत्व स्पिरिचुअल एंड चैरिटेबल ट्रस्ट " की ओर से आयोजित ज्योतिष सम्मेलन में उत्तर भारत के प्रसिद्ध जिला अजमेर गांव  ब्यावर के  ज्योतिषाचार्य  एवं हस्तरेखा विशेषज्ञ स्वामी दिलीप नाहटा द्वारा बनाई गई विश्व की पहली पोर्टेबल साइंटिफिक हस्तरेखा मशीन से कुरुक्षेत्र के सैकड़ों लोगों को भूत , वर्तमान की सटीक बातें  बताकर  न केवल उनका दिल जीता अपितु उनके आने वाले भविष्य की बातें भी बताई गई और साथ में नाहटा जी  द्वारा अपनी तरफ से कई तरह के कीमती जवाहारात एवं स्टोन भी यहां की जनता को निःशुल्क  रूप से वितरित किए गए । मशीन से हस्तरेखा गणना का अपना अलग तरीका है

पोर्टेबल साइंटिफिक हस्तरेखा  इस मशीन में तीन खाने बने हैं। पहले खाने में वैवाहिक, पारिवारिक स्थिति, दूसरे खाने में भूतकाल के बारे में तथा तीसरे खाने में बच्चों व संतती के बारे में जानकारी मिलती है। मशीन से हस्तरेखा गणना का अपना अलग तरीका है। हाथ की रेखाओं को गणितीय डिग्री के आधार पर नापकर इसमें गणना की जाती है। मशीन से हस्तरेखाओं की विस्तृत्व गणना में करीब दो से ढाई घंटे का समय लगता है।

नाहटा से मिलने के लिए कुरुक्षेत्र में लोगों की उमड़ी भारी भीड़ को देख कर दूरदराज से कुरुक्षेत्र ज्योतिष सम्मेलन में आये ज्योतिषी भी लगे लाइनों में।                                                


   नाहटा जी का स्थाई पता:                     

 एस्ट्रोलॉजर एवं हस्तरेखा विशेषज्ञ  स्वामी दिलीप नाहटा ज्योतिषाचार्य   21 , 

अब्बानी गली , मालियान चौपड़ के पास , नया बास , ब्यावर ,  जिला - अजमेर  , 

 राजस्थान  दूरभाष नम्बर 08769002100 

संपर्क कर अपनी समस्याओं का निवारण कर सकते है।

अंतरराष्ट्रीय हस्त रेखा ज्ञान के महामंडलेश्वर संत शिरोमणि दलीप नाहटा को षड्दर्शन साधु समाज ने किया सम्मानित।

अंतरराष्ट्रीय हस्त रेखा ज्ञान के महामंडलेश्वर संत शिरोमणि दलीप नाहटा को षड्दर्शन साधु समाज ने किया सम्मानित।

     वैद्य पण्डित प्रमोद कौशिक

  कुरुक्षेत्र, 3 फरवरी :- अंतरराष्ट्रीय हस्त रेखा ज्ञान के महामंडलेश्वर संत शिरोमणि दलीप नाहटा के कुरुक्षेत्र प्रवास पर षड्दर्शन साधु समाज हरियाणा के संगठन सचिव वैद्य पण्डित प्रमोद कौशिक द्वारा नाहटा को कुरुक्षेत्र के महाभारतकालीन तीर्थो पर पूजा अर्चना उपरांत तीर्थो के महत्व संबंधित ग्रंथ को भेंट कर गीता की जन्मस्थली पर  सम्मानित किया गया। नाहटा ने कुरुक्षेत्र प्रवास के दौरान सैंकड़ो की संख्या ने आम नागरिकों के हाथ की रेखाओं को देखकर उनके कष्टों ओर समस्याओं के निवारण हेतू कीमती रत्नों को भी उपहार में दिया।

नाहटा समय समय पर आम नागरिकों की समस्याओं रोगों के निवारण हेतू अपनी सेवाएं निःशुल्क देते रहते है। नाहटा  राजस्थान में जिला अजमेर के नया बास ब्यावर के रहने वाले है जिन्हें यह अलौकिक शक्तियां ब्रह्मलीन आचार्य  हस्तीमल महाराज के स्थान से लोगों का कल्याण करने हेतू प्राप्त हुई।  नाहटा द्वारा  राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सैंकडों भविष्यवाणीयां  सत्य साबित हुई व राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय  स्तर पर विभिन्न ज्योतिष जनकल्याण  समजसेवा अवार्डों  द्वारा सम्मानित किया जा चुका है।  नाहटा द्वारा विश्व की पहली पोर्टेबल  एस्ट्रोलॉजर हस्त रेखा यंत्र बनाने पर भी सम्मानित किया जा चुका है आज नाहटा  की यश कीर्ति देश ही नही विदेशों में भी दस्तक दे चुकी है और विदेशी श्रद्धालु इस प्राचीन विद्या द्वारा लाभ उठा रहे है।

गैस पाईप व इन्टरनैट की लाईन बिछाने वाली कम्पनियों को जारी होंगे नोटिस :सुधा

गैस पाईप व इन्टरनैट की लाईन बिछाने वाली कम्पनियों को जारी होंगे नोटिस :सुधा


                     नगरपरिषद के ईओ को दिए नोटिस जारी करने के आदेश
डिस्कवरी टाइम्स 
कुरुक्षेत्र, (पवन )31 जनवरी  थानेसर विधायक सुभाष सुधा ने कहा कि शहर में गैस पाईप लाईन और इन्टरनैट की तार बिछाने वाली कम्पनियों को नगर परिषद की तरफ से नोटिस जारी किया जाएगा। इन कम्पनियों को नोटिस जारी करने के लिए नगरपरिषद के कार्यकारी अधिकारी और नगरपालिका इंजीनियर को आदेश दिए गए है। इतना ही नहीं अब इन दोनों कम्पनियों के अधिकारियों को शहर में खुदाई के बाद रोजाना अपनी रिपोर्ट नगरपरिषद को देनी होगी। 

विधायक सुभाष सुधा ने दूरभाष पर बात करते हुए कहा कि सेक्टर 3 में गन्दें पानी के कारण पीलिया फैलने से जहंा बहुत बडा हादसा हुआ है और दर्जनों लोग बीमार भी हुए। इस प्रकार की कोई भी घटना शहर के अन्य इलाके में ना घटे। इसके लिए सभी विभागों को मुस्तैद होकर कार्य करने होंगे। इस शहर में गैस पाईप लाईन और इन्टरनैट की लाईन बिछाने का काम कम्पनियों द्वारा किया जा रहा है। इसलिए इन कम्पनियों के कार्य करने के दौरान पीने के पाईप लाईन को किसी प्रकार का नुक्सान ना हो इसको जरूर सुनिश्चित किया जाएगा। इसलिए दोनों कम्पनियों को नगरपरिषद की तरफ से नोटिस जारी किया जाएगा। इस नोटिस के बाद दोनों कम्पनियों के अधिकारियों को यह सुनिश्चित करना होगा कि उनके  कार्य करने से किसी प्रकार की पानी की लीकेज नहीं हुई है। 

उन्होंने कहा कि दोनों कम्पनियों को इस बारें रोजाना नगरपरिषद के अधिकारियों को रिपोर्ट देनी होगी। इन कम्पनियों के अधिकारी पीने के पानी की पाईप लाईन को ध्यान में रखकर ही खुदाई का काम करेंगे। अगर किसी भी तरह की कोई लीकेज हुई तो सम्बन्धित कम्पनी की जिम्मेदारी तय की जाएगी। उन्होंने कहा कि सेक्टर 3 की घटना के मामलें में लापरवाह अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी गई है। इस मामलें में सरकार ने मृतक परिजनों को 2-2लाख रुपए का मुआवजा देने की घोषणा की है। इसके अलावा सरकार पीडि़त परिजनों के साथ हमेशा खड़ी है। 

विधायक ने कहा कि पिपली से थर्ड गेट तक सडक़ निर्माण कार्य को लेकर अब 14 फरवरी 2020 को टैंडर भरें जाएंगे। इस बार नई शर्तो के साथ टैंडर भरवाएं जाएंगे, इन टैंडरों में प्रतिभूति राशि को लेकर कुछ शर्ते तय की गई है। इस टैंडर के भरने की अवधि के बाद टैंडर खोले जाएंगे और यह टैंडर लगभग 40 करोड रुपए का होगा। 
भारतीय हॉकी टीम की कप्तान रानी रामपाल ने बढ़ाया हरियाणा का गौरव:संदीप

भारतीय हॉकी टीम की कप्तान रानी रामपाल ने बढ़ाया हरियाणा का गौरव:संदीप



डिस्कवरी टाइम्स
कुरुक्षेत्र/पिहोवा (पवन)31 जनवरी।  हरियाणा के खेल एवं युवा मामलें मंत्री संदीप सिंह ने कहा कि महिला हॉकी टीम की कप्तान रानी रामपाल को वल्र्ड गेम्स एथलीट ऑफ द ईयर अवार्ड मिलना पूरे देश के लिए गौरव की बात है। इससे अकेले जिला कुरुक्षेत्र का ही नहीं, बल्कि पूरे हिंदुस्तान का नाम दुनिया में चमका है। खेल मंत्री संदीप सिंह ने जारी विज्ञप्ति में कहा कि वे उन खिलाडिय़ों की बहुत कदर करते हैं। जो विपरीत परिस्थितियों में भी संघर्ष करते हुए अपनी काबिलियत को साबित करते हैं। ऐसे खिलाडिय़ों के लिए खेल मंत्रालय के दरवाजे 24 घंटे खुले हुए हैं। बतौर खेल मंत्री  उनका प्रयास हमेशा यही रहेगा कि  सुविधाओं के अभाव में कोई प्रतिभा अपने मुकाम से वंचित ना रहे। खेल मंत्री ने कहा कि रानी रामपाल  कस्बा शाहाबाद की हैं। इनके माता-पिता ने जीवन में संघर्ष करते हुए अपनी इच्छाओं  को दबा लिया। लेकिन कभी अपने बेटी का सपना पूरा  करने के लिए उसकी  परवरिश में कमी नहीं आने दी। ऐसे अभिभावकों को भी वे  सलाम करते हैं । 

उन्होंने बताया कि रानी रामपाल यह पुरस्कार पाने वाली पहली भारतीय हैं और उनके लिए गौरव की बात यह है कि वह खुद भारतीय हॉकी टीम के कप्तान रह चुके हैं। इसलिए इस खेल और खिलाड़ी को सम्मान मिलने से उनकी खुशी दोगुनी हो जाती है। खेल मंत्री ने कहा कि रानी रामपाल को देश का चौथा सबसे बड़ा नागरिक सम्मान पद्मश्री मिलना भी प्रदेश की बेटियों की एक बेहतरीन उपलब्धि है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल इसके लिए बधाई के पात्र हैं कि उन्होंने बेटियों को सम्मान दिलाने के लिए बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ जैसा अभियान शुरू किया। प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री के  इसी अभियान को आगे बढ़ाने में हरियाणा की बेटियां की बागडोर थाम रही हैं। रानी रामपाल प्रदेश की बेटियों के लिए एक प्रेरणा स्त्रोत हैं और उनके पद चिन्हों पर चलते हुए हमारी बेटियों को खेलों में एक बेहतर मुकाम हासिल करके अपनी एक अलग पहचान बनानी होगी। खेल मंत्रालय इसमें उनका पूरा सहयोग करने को तैयार है।
दुकानदार के पास ट्रेड लाईंसेंस नहीं होने पर सील होंगे दुकानें:धीरेन्द्र

दुकानदार के पास ट्रेड लाईंसेंस नहीं होने पर सील होंगे दुकानें:धीरेन्द्र


 
             अधिकारियों और कर्मचारियों को भी देनें होगी फीस

 डिस्कवरी टाइम्स
कुरुक्षेत्र (पवन) 31 जनवरी   उपायुक्त धीरेन्द्र खडग़टा ने कहा कि शहर को स्वच्छ और सुदंर बनाना सभी का नैतिक और सामाजिक कर्तव्य है। इस कर्तव्य को पूरा करने के लिए सभी को अपना सहयोग देना होगा। इसके लिए सबसे पहले शहर में गीले और सूखे कचरें का प्रबंधन करना होगा। हर घर में गीले और सूखे कचरें को एकत्रित करने के लिए अलग-अलग डस्टबीन होंगे। इसकी शुरूआत उपायुक्त निवास से की जाएगी। अगर किसी भी दिन इस मामलें में कमी पाई गई तो उपायुक्त निवास पर नियमानुसार कार्रवाई करने से बिल्कुल भी गुरेज ना किया जाए। 

वे शुक्रवार को देर सायं उपायुक्त कार्यालय में ठोस कचरा प्रबंधन को लेकर नगरपरिषद और नगरपालिका की बैठक को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि नप और नपा सबसे पहले पालिथीन और प्लास्टिक पर बैन लगाना सुनिश्चित करेेंगे और इस जिले को पालिथीन और प्लास्टिक फ्री बनाने की तरफ आगे बढ़ेेंगे। इस जिलें में पालिथीन रखने वालों दुकानदारों खासकर हॉलसेलरों के नियमित रूप से चालान किए जाएं और सभी के ट्रेड लाईंसेंस भी चैक किए जाएं। अगर किसी दुकानदार के पास ट्रेड लाईंसेंस नहीं है तो उसकी दुकान को सील करने में जरा सी भी देरी ना लगाई जाएं। 

उन्होंने कहा कि राईस मिल पोलट्री फार्म, होटल और अन्य बडे संस्थानों को हिदायत जारी की जाएगी कि किसी भी सूरत में गंदगी ना फैलाएं और कचरें का प्रबंधन करना सुनिश्चित करें। बाजारों से कूडा कर्कट उठाने के लिए सुबह और शाम समय निर्धारित किया जाए, हर पार्को में कम्पोस्ट फिट बनाई जाए और स्वयं सहायता समूह भी बनाएं जाएं। जिले के हर वार्ड में बारी-बारी से सेक्टर बनाकर सफाई करवाई जाएं, डोर-टू-डोर कूडा एकत्रित करने के लिए टैंडर लगाएं जाएं और हर घर से गीला और सूखा कूडा एकत्रित करने के लिए लोगों को जागरूक किया जाए। सभी अधिकारियों और कर्मचारियों के घर में भी इस तरह की व्यवस्था करवाई जाएं और सभी से 100 रुपए फीस भी चार्ज की जाएं। उन्होंने कहा कि स्टील के डस्टबीन निर्धारित जगह पर रखवाएं जाएं। सभी ने मिलकर इस शहर को साफ और स्वच्छ बनाना है। इस मौके पर डीएसपी ममता सौदा, डीआरओ डा.चंादी राम चौधरी, नप ईओ बीएन भारती, सचिव केएल बटला, नपा सचिव ईशा शर्मा सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।

अंतराष्ट्रीय सरस्वती महोत्सव की संध्या कालीन महाआरती ने श्रद्घालुओं में भरा भक्ति रस

अंतराष्ट्रीय सरस्वती महोत्सव की संध्या कालीन महाआरती ने श्रद्घालुओं में भरा भक्ति रस


                   संध्या कालीन आरती कार्यक्रम का शुभारंभ, मंजू अरोडा 


पिहोवा 28 जनवरी। अंतराष्ट्रीय सरस्वती महोत्सव की संध्या कालीन महाआरती श्रद्घालुओं में भक्ति रस भर दिया और सैंकडों श्रद्घालुओं ने मंत्रोच्चारण के बीच सरस्वती आरती का जाप किया। इस आरती को देखने के लिए भी सैंकडों की संख्या में श्रद्घालु सरस्वती तीर्थ के पावन तट पर एकत्रित हुए। इस महाआरती का महादृश्य अपने आप में मन को मोह लेने वाला था।

मंगलवार को अंतराष्ट्रीयसरस्वती महोत्सव में देर सांय सरस्वती तीर्थ के तट पर प्रशासन की तरफ से महाआरती का आयोजन किया गया। इस महाआरती कार्यक्रम का शुभारंभ हरियाणा सरस्वती धरोहर विकास बोर्ड के उपाध्यक्ष प्रशांत भारद्वाज और भाजपा के जिला अध्यक्ष धर्मवीर मिर्जापुर ने किया। इससे पहले महोत्सव के दुसरे दिन संध्या कालीन भजन गायन कार्यक्रम में गायक मंजू अरोडा और सुनिता सहगल ने मॉ सरस्वती को लेकर बेहतरीन भजनों की प्रस्तुति देकर सबको भावविभोर कर दिया।

महोत्सव की इस महा आरती ने एक बडा स्वरूप ले लिया है और लोग महोत्सव के साथ-साथ महाआरती के साथ जुडने लगे है। इस महोत्सव के दूसरे दिन संध्या कालीन महाआरती में खेल मंत्री संदीप सिंह के प्रतिनिधि के रूप में गुरजिन्द्र सिंह बैंस, कर्ण गिल, पुष्पेन्द्रि सिंह,अक्षय नंदा, उत्तम गिरि जी महाराज, लाल गिरि जी महाराज, महंत तरणदास,महाऋषि वेद व्यास पाठशाला के आचार्य सूरज प्रकाश भारद्वाज, पंडित आकाश शर्मा, विक्रम चक्रपाणी,अमित बंसल, गुरमेहर सिंह, मुनीष पुरी सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति और अधिकारीगण शामिल हुए। इस कार्यक्रम के उपरांत एसडीएम डा. संजय कुमार ने भजन गायक मंजू अरोडा और सुनीता सहगल को स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया।
प्रसिद्ध गायक गजेन्द्र फोगाट के गीतों पर झूम उठी धर्मनगरी

प्रसिद्ध गायक गजेन्द्र फोगाट के गीतों पर झूम उठी धर्मनगरी




        बोर्ड के उपाध्यक्ष  व शुगर फैड के चेयरमैन ने                                  किया सांस्कृतिक  संध्या का शुभारंभ

पिहोवा 28 जनवरी। सुप्रसिद्ध गायक गजेन्द्र फोगाट के गीतों पर अंतराष्ट्रीय सरस्वती महोत्सव मेें पहुंचे लोग झूम उठे। इस प्रसिद्ध गायक ने अपने गीतों के माध्यम से युवा पीढी को नशे से दूर रहने का संदेश दिया।


मंगलवार को देर सांय हरियाणा सरस्वती धरोहर विकास बोर्ड व प्रशासन के तत्वाधान में आयोजित तीन दिवसीय अंतराष्ट्रीय  सरस्वती महोत्सव के दूसरे दिन सांस्कृतिक संध्या का शुभारंभ सरस्वती धरोहर विकास बोर्ड के उपाध्यक्ष प्रशांत भारद्वाज,हरियाणा शुगर फैड के चेयरमैन हरपाल सिंह चीका,भाजपा के जिला अध्यक्ष धर्मवीर मिर्जापुर व खेल मंत्री के भाई विक्रमजीत सिंह ने किया। इस दौरान उपाध्यक्ष प्रशांत भारद्वाज व बोर्ड के सीईओ एवं यमुनानगर नगरनिगम के संयुक्त आयुक्त भारत भूषण शर्मा, भाजपा के जिला अध्यक्ष धर्मवीर मिर्जापुर, भाजपा नेता गुरनाम मलिक ने गायक गजेन्द्र फोगाट को स्मृति चिन्ह व शाल भेंट कर सम्मानित किया।



प्रसिद्ध  गायक गजेन्द्र फोगाट ने अपनी चिरपरिचित शैली में भगवान की आराधना से अपने कार्यक्रम की शुरूआत की और इस कलाकार ने अपने लोक गीतों के जरिए हरियाणा की सांस्कृतिक विरासत को शब्दों में पिरोकर अपनी गायन शैली से सामाजिक कुरीतियों से दूर रहने का संदेश दिया। इन लोक गीतों पर बज रही धून भी लोगों को झूमने पर मजबूर कर रही थी। इस कलाकार की प्रस्तुति को श्रद्घालुओं ने खूब सराहा। इस गायक ने कबीर के दोहे से पंडाल का पूरा माहौल काव्यमय बना दिया। इसके साथ ही माटी कहे कुम्हार से तू क्या रोंदे मोहे, एक दिन ऐसा आएगा मै रोंदूगी तोहे..., आच्छे दिन पाछै गए गुरू से किया ना भेद, अब पछताए होत क्या जब चिडिया चुग गई खेत सहित अन्य गीतों की प्रस्तुति दी।



इस कार्यक्रम के मंच का संचालन डा. पवन आर्य ने किया। इस मौके पर गुरजिन्द्र सिंह बैंस, कर्ण गिल, पुष्पेन्द्रि सिंह,अक्षय नंदा, उत्तम गिरि जी महाराज, लाल गिरि जी महाराज, महंत तरणदास,महाऋषि वेद व्यास पाठशाला के आचार्य सूरज प्रकाश भारद्वाज, पंडित आकाश शर्मा, विक्रम चक्रपाणी,अमित बंसल, गुरमेहर सिंह, मुनीष पुरी सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति और अधिकारीगण शामिल हुए।
सांस्कृतिक कलाओं का संगम हुआ सरस्वती महोत्सव में

सांस्कृतिक कलाओं का संगम हुआ सरस्वती महोत्सव में



  अंतराष्ट्रीय सरस्वती महोत्सव के पहले दिन हजारों की संख्या में लोगों ने लिया सरस मेले का आनंद,

                  परमपरागत वाद्यय यंत्रों की धून ने नाचने को मजबूर किया पर्यटकों को, गांवों के माहौल को खूब 
पसंद किया लोगों ने, निट में सरस्वती महोत्सव को लेकर सेमिनार आज
      



पिहोवा 27 जनवरी। पिहोवा सरस्वती तीर्थ के तट पर अंतर्राष्टï्रीय सरस्वती महोत्सव में प्रदेश की विभिन्न सांस्कृतिक कलाओं का संगम देखने को मिला। इस संगम को देखने के लिए महोत्सव के पहले दिन ही हजारों की संख्या में पर्यटक पहुंचे और लोगों ने जमकर खरीददारी भी की है। अहम पहलु यह है कि प्रदेश के कोने-कोने से आई महिलाएं भी परमपरागत वाद्यय यंत्रों की धून पर झूमती नजर आई।

अंतर्राष्टï्रीय सरस्वती महोत्सव के पहले दिन सोमवार को पर्यटकों के मनोरंजन के लिए हरियाणा सरस्वती धरोहर विकास बोर्ड व प्रशासन की तरफ से नगाडा पाटी, बीन पार्टी, बैग पाईपर पार्टी, बनचारी व अन्य गु्रप के कलाकारों को आमंत्रित किया गया। नगाडा पार्टी के कलाकार रणजीत सिंह व पूर्ण लाल, बीन पार्टी के कलाकार पालीनाथ व जय सिंह नाथ, बैगपाईपर पार्टी के कलाकार सुरेन्द्र व साहिल मेला क्षेत्र में घूम-घूम कर अपने वाद्यय यंत्रों से ना केवल पर्यटकों का मनोरजंन कर रहे है बल्कि इस महोत्सव की रोनक में चार चांद लगाने का काम कर रहे है।

एसडीएम डा. संजय कुमार ने कहा कि 27 से 29 जनवरी तक चलने वाले अंतर्राष्टï्रीय सरस्वती महोत्सव के पहले दिन ही दूर दराज से हजारों की संख्या में पर्यटक सरस मेले, अन्तसलीला गुफा, हरियाणा दर्शन, म्हारा हरियाणा गैलरी और मुख्य पंडाल के सांस्कृतिक कार्यक्रमों को देखने के लिए पहुंचें। इस महोत्सव का आयोजन उपायुक्त धीरेन्द्र खडग़टा के मार्गदर्शन में किया जा रहा है। सभी अधिकारी आपसी तालमेल के साथ इस आयोजन को सफल बनाएंगे और जो भी खामियां नजर आएंगी उनको तुरंत दूर करवाया जाएगा।
महिला शिल्पकार वेस्ट मैटीरियल से तैयार कर रही है घर की सजावट का सामान

महिला शिल्पकार वेस्ट मैटीरियल से तैयार कर रही है घर की सजावट का सामान


वेस्ट मैटीरियल से तैयार कर रही है घर की सजावट का सामान

पिहोवा 27 जनवरी। वेस्ट मैटीरियल का सदुपयोग करना हर किसी की बस की बात नहीं है। इस  अंतराष्ट्रीय सरस्वती महोत्सव की सरस्वती महोत्सव के मंच पर जहंा एक महिला शिल्पकार वेस्ट मैटीरियल से सुन्दर-सुन्दर फ्लावर पोर्ट तैयार किया है, वहीं अपने लिए रोजगार के अवसर भी तलाशें है।

अंतराष्ट्रीय सरस्वती महोत्सव की सरस्वती महोत्सव में झोंपडी नम्बर 22 में ग्राम संगठन भैरा बाकीपुर की सैल्फ हैल्प गु्रप की संचालिका पर्मिला और ललिता पहली बार इस अंतर्राष्टï्रीय सरस्वती महोत्सव में शिरकत करने के लिए पहुंची है। इस महोत्सव में लोगों को वेस्ट पदार्थो से घर की सजावट का सामान बनाने की प्रेरणा दें रही है।  इन पदार्थो से सजावट का सामान बनाने से अपनी आय अर्जित करने का मार्ग भी बता रही है। उन्होंने बातचीत करते हुए बताया कि पिछले 8 माह पहले ही आरसेटी से प्रशिक्षण लेने के उपरांत जूट उत्पाद बनाना शुरू किया है।

महोत्सव में मिट्टïी के वेस्ट पोर्ट पर जूट से कलाकारी की है और महिलाओं के लिए वेस्ट कांच और प्लास्टिक की वेस्ट चूडियों को भी सजाने का काम किया है। इसके अलावा महोत्सव में जूट से बच्चों के िलिए विशेष गुडिया भी तैयार करके लाई है, इन गुडियां से जहां नन्हीं बचियां खेल सकेगी, वहीं यह गुडियानुमा खिलौने घर की सजावट को भी दुगना करेंगी। उन्होंने कहा कि प्रशासन की तरफ से सरस्वती महोत्सव में बहुत अच्छे प्रबंध किए गए है। इस महोत्सव में शिल्पकारों को एक नया मंच मिलेगा।
हरियाणा दर्शन में देखने को मिली प्रदेश की संस्कृति की महक:संदीप

हरियाणा दर्शन में देखने को मिली प्रदेश की संस्कृति की महक:संदीप




खेल मंत्री संदीप सिंह ने हरियाणा दर्शन में प्राचीन वस्तुओं और शस्त्रों का किया अवलोकन


पिहोवा 27 जनवरी। हरियाणा के खेल एवं युवा मामलें मंत्री संदीप सिंह ने कहा कि पिहोवा की पवित्र भूमि से अंतरराष्ट्रीय सरस्वती महोत्सव से हरियाणा की प्राचीन संस्कृति और संस्कारों की महक आ रही है। इस महक से प्रदेश की युवा पीढी को हरियाणा की शिल्पकला से आत्मसात करने का एक अवसर मिलेगा। इससे युवा पीढी को एक नई राह भी मिलेगी, इतना ही नहीं इस महोत्सव से हरियाणा की लुप्त हो रही शिल्पकला का भी एक नया मंच देने का काम सरकार की तरफ से किया गया है।

खेल मंत्री संदीप सिंह सोमवार को अंतरराष्ट्रीय सरस्वती महोत्सव में हरियाणा दर्शन म्हारा हरियाणा गैलरी का अवलोकन करने के दौरान बोल रहे थे। खेल मंत्री ने हरियाणा दर्शन गैलरी में प्रदेश से लुप्त हो रही शिल्पकला के दर्शन किए और प्राचीन काल की वस्तुओं और पुराने समय में गांव में प्रयोग किए जाने  वाली वस्तुओं का अवलोकन किया। इस प्रदर्शनी को देखकर गदगद हुए खेल मंत्री ने शिल्पकारों से अपने मन की बात को सांझा किया और कहा कि सरकार ने अंतरराष्ट्रीय सरस्वती महोत्सव का आयोजन करके  प्रदेश से लुप्त हो रही शिल्प और लोक कला को एक मंच देने का काम किया है। इससे लोक कला और शिल्प कला को बढावा मिलेगा और आम नागरिकों को प्राचीन संस्कृति से रूबरू होने का अवसर मिला है।

खेल मंत्री ने कहा कि हरियाणा की पावन धरा को आदि सृष्टिï की जन्म स्थली और भारतीय सभ्यता एवं संस्कृति का केन्द्र बिन्दु माना जाता है। यहां पर युगो-युगो से ऋषि मुनियों का वास रहा है, जिन्होंने सरस्वती नदी के तट पर बैठकर वेदों की रचना की है। प्रदेश सरकार सरस्वती के जीर्णोधार के लिए समर्पित है, सरकार ने सरस्वती नदी के जीर्णोधार, सरंक्षण व अनुसंधान की अपनी प्रतिबद्घता को पूरा करने के लिए ही हरियाणा सरस्वती धरोहर विकास बोर्ड का गठन किया। इस बोर्ड के प्रयासों से इस प्रकार के कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इस महोत्सव में हरियाणा की संस्कृति से ओतप्रोत कार्यक्रमों के आयोजन से आमजन को प्राचीन संस्कृति का ज्ञान होगा। इसके साथ-साथ हरियाणा ही नहीं बल्कि अंतर्राष्टï्रीय स्तर पर भारतीय संस्कृति का प्रचार-प्रसार भी होगा।
अंतरराष्ट्रीय सरस्वती महोत्सव हर वर्ष नए लुक में आएंगा नजर:संदीप

अंतरराष्ट्रीय सरस्वती महोत्सव हर वर्ष नए लुक में आएंगा नजर:संदीप



खेल मंत्री संदीप सिंह ने मंत्रोच्चारण के बीच हवन यज्ञ में आहुति डाल कर किया अंतरराष्ट्रीय सरस्वती महोत्सव का आगाज, शांति और भाईचारे के लिए खेल मंत्री संग बनी मानव श्रंखला

पिहोवा 27 जनवरी। हरियाणा के खेल एवं युवा मामलें मंत्री संदीप सिंह ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय सरस्वती महोत्सव से पिहोवा तीर्थ नगरी को पूरे विश्व में एक पहचान मिली है। इस महोत्सव को इस वर्ष एक नया स्वरूप देने का प्रयास किया गया है। इस अंतरराष्ट्रीय सरस्वती महोत्सव को हर वर्ष नए लुक देने का प्रयास राज्य सरकार की तरफ से किया जाएगा।

खेल मंत्री संदीप सिंह सोमवार को पिहोवा सरस्वती तीर्थ स्थल पर हरियाणा सरस्वती धरोहर विकास बोर्ड एवं प्रशासन के तत्वाधान मेें आयोजित 3 दिवसीय अंतरराष्ट्रीय सरस्वती महोत्सव के उदघाटन सत्र में बोल रहे थे। इससे  पहले खेल मंत्री संदीप सिंह, उपायुक्त धीरेन्द्र खडगटा, पदमश्री एवं संस्कार भारती के संस्थापक योगेन्द्र बावा,एसडीएम डा. संजय कुमार, एसडीएम लाडवा अनिल यादव ने हवन यज्ञ में आहुति डाल कर विधिवत रूप से महोत्सव का आगाज किया और दीप शिखा प्रज्ज्वलित करके सुबह के समय के सांस्कृतिक कार्यक्रमों का शुभारंभ किया। इन सांस्कृतिक कार्यक्रमों में शंखनाद की ध्वनि के बीच खेल मंत्री ने स्वयं अपने हाथों से नगाडा 

बजाकर अंतरराष्ट्रीय सरस्वती महोत्सव के सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ महोत्सव का उदघाटन किया। इस दौरान खेल मंत्री ने समाजसेवी उमाकांत शास्त्री द्वारा सम्पादित पिहोवा के इतिहास और महोत्सव के कार्यक्रमों को दर्शाने वाली अन्तसलीला स्मारिका का विमोचन किया। इस कार्यक्रम में ही खेल मंत्री संदीप सिंह के संग अधिकारियों, स्वागत समिति के सदस्यों और गणमान्य लोगों ने मानव श्रंखला बनाकर शांति, प्रेम और भाईचारे का संदेश दिया और हरियाणा दर्शन प्रदर्शनी व अन्तसलीला प्रदर्शनी का अवलोकन किया।  

खेल मंत्री ने प्रदेशवासियों को अंतर्राष्टï्रीय सरस्वती महोत्सव की शुभकामनाएं और बधाई देते हुए कहा कि प्रशासन के प्रयासों से अंतर्राष्टï्रीय सरस्वती महोत्सव को एक बडा स्वरूप देने का प्रयास किया गया है। इन प्रयासों से पिहोवा ही नहीं दूर-दराज से आने वाले पर्यटकों ने भी खुब सराहा है। सभी ने आशावादी सोच के साथ इस महोत्सव को नया लुक दिया गया है। इस महोत्सव में लगातार कुछ नया करने का प्रयास किया जाएगा, लेकिन इसके लिए सभी लोगों के सहयोग की जरूरत होगी, क्योंकि लोगों के सहयोग के बिना किसी भी मुकाम को हासिल नहीं किया जा सकता। उन्होंने कहा कि पिहोवा में होने वाले तमाम धार्मिक और सामाजिक कार्यक्रमों में लोगों को बढचढ कर भाग लेना चाहिए और हर वर्ग की भागीदारी होनी चाहिए। इस कार्य के लिए प्रशासन और सरकार हर संभव सहयोग करेगी।
पदमश्री योगेन्द्र बावा ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय सरस्वती महोत्सव से पूरे विश्व को देश की प्राचीन संस्कृति से रूबरू होने का अवसर मिल रहा है। इस महोत्सव में प्राचीन संस्कृति नदी और उसके तटों पर प्राचीन समय के सांस्कृतिक और ऐतिहासिक झरोखों को भी दिखाने का अनोखा प्रयास किया गया है। उपायुक्त धीरेन्द्र खडगटा ने मेहमानों का स्वागत करते हुए कहा कि 27 से 29 जनवरी तक चलने वाले अंतर्राष्टï्रीय सरस्वती महोत्सव में प्रशासन की तरफ से हर प्रकार के पुख्ता इंतजाम किए गए है और पर्यटकों  की सुविधा को जहन में रखते हुए सुरक्षा व्यवस्था के प्रबंध किए गए है। इस वर्ष महोत्सव को सूरजकुंड की तर्ज पर आयोजित करने का प्रयास किया गया है। इस महोत्सव में सभी अधिकारी और कर्मचारी पूरी मेहनत और ईमानदारी के साथ अपनी डयूटी का निर्वाह करके आयोजन को सफल बनाएंगे। इस कार्यक्रम में श्री ब्रहामण पंचायत के प्रधान विक्रम चक्रपाणी ने भी अपने विचार प्रकट करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल के प्रयासों से महोत्सव को अंतर्राष्टï्रीय सरस्वती महोत्सव का दर्जा मिला है। इसके लिए पिहोवा वासी सदैव ऋणी रहेंगे। इस महोत्सव में खेल मंत्री संदीप सिंह पूरी तरह जुडकर काम कर रहे है। जिसके प्रयासों से ही महोत्सव को नया मुकाम मिला है। इस कार्यक्रम के मंच का संचालन प्रोजेक्ट अधिकारी डा.पवन आर्य ने किया।
देश को आजाद करवाने में हरियाणा के सपूतों ने कायम की थी वीरता की नई मिसाल:राजीव

देश को आजाद करवाने में हरियाणा के सपूतों ने कायम की थी वीरता की नई मिसाल:राजीव




एसडीएम राजीव प्रसाद ने किया ध्वजारोहण, विभिन्न स्कूलों ने प्रस्तुत किए सांस्कृतिक कार्यक्रम, उल्लेखनीय कार्य करने वालों को किया सम्मानित
शाहबाद 26 जनवरी उपमंडल अधिकारी नागरिक राजीव प्रसाद ने कहा कि आजादी की लड़ाई के दौरान और इसके बाद राष्ट्र की एकता व अखण्डता के लिए हरियाणा के सपूतों ने वीरता और बलिदान की नई मिसाल कायम की थी। हमारा प्रदेश वीर सैनिकों की जन्मभूमि है। जहां पर हर दसवां व्यक्ति सेना में देश की सीमाओं पर अपनी सेवांए दे रहा है। स्वामी विवेकानन्द के विचारों को अपनाते हुए युवा देशभक्ति से प्रेरित होकर देश सेवा करने के लिए सेना भर्तियों में बढ़चढ़ कर भाग ले रहे हैं।
एसडीएम राजीव प्रसाद रविवार को शाहबाद अनाज मंडी के प्रांगण में उपमंडल स्तर पर आयोजित 71वें गणतंत्र दिवस समारोह में उपमंडल वासियों को सम्बोधित कर रहे थे। इससे पहले एसडीएम राजीव प्रसाद ने गणतंत्र दिवस के उपमंडलस्तरीय समारोह में राष्ट्रीय ध्वजारोहण किया और परेड का निरीक्षण करने उपरांत परेड की सलामी ली। इससे पूर्व एसडीएम राजीव प्रसाद ने शहीद स्मारक पर जाकर शहीदों को पुष्प चक्र अर्पित कर भावभीनी श्रद्घांजलि अर्पित की। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा किसानों की आमदनी बढ़ाने के लिए किसानों को प्राकृतिक और जैविक खेती को अपनाने के लिए भी जागरूक किया जा रहा है। इसी कड़ी में गुरुग्राम जिले में ऑर्गेनिक मार्केट भी स्थापित की जाएगी। इस मार्केट के माध्यम से किसान अपने उत्पादों को सीधे बेच सकेंगे जिससे उनकी आमदनी में बढोतरी होगी। सरकार का प्रयास खेती की लागत को कम करने के साथ-साथ प्राकृतिक खेती को बढ़ावा देकर किसानों की आमदनी में वृद्धि करना है। पराली के प्रबंधन के लिए पराली के उपभोक्ताओं को तैयार करना पहली प्राथमिकता है। एक बार ऐसे उपभोक्ता तैयार हो गए तो किसान आने वाले समय में पराली को जलाएगा नहीं बल्कि उससे आमदनी कमाएगा।
उन्होंने कहा कि पर्यावरण सुरक्षा के लिए सरकार द्वारा फसल अवशेष प्रबंधन के लिए एक व्यापक अभियान चलाया गया। मशीनों पर 80 प्रतिशत अनुदान प्रदान करके लगभग 1,637 कस्टम हायरिंग सेंटर स्थापित किये गये हैं। फसल अवशेषों के स्थान पर ही प्रबंधन के लिए लगभग 5,224 किसानों को 50 प्रतिशत अनुदान पर उपकरण प्रदान किए गए हैं। सरकार ने व्यापारियों के लिए दो बीमा योजनाएं शुरू की हैं। दुर्घटना में मृत्यु या स्थायी दिव्यांगता के मामले में  ‘मुख्यमंत्री व्यापारी सामूहिक निजी दुर्घटना बीमा योजना’ और व्यापारिक प्रतिष्ठान में सामान के स्टॉक, फर्नीचर आदि के होने वाले नुकसान की भरपाई के लिए ‘मुख्यमंत्री व्यापारी क्षतिपूर्ति बीमा योजना’ शुरू की है। राज्य में सभी श्रेणियों के उपभोक्ताओं को पर्याप्त और गुणवत्तापूर्ण बिजली उपलब्ध कराने के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध है। ‘म्हारा गांव जगमग गांव योजना’ के तहत 4,262 गांवों को 24 घंटे बिजली की आपूर्ति की जा रही है।
उन्होंने कहा कि सरकार सक्षम हरियाणा कार्यक्रम के माध्यम से विद्यालय-शिक्षा के सुधार पर निरन्तर बल देती रहेगी। सरकार ने शिक्षा और सीखने के परिणामों की गुणवत्ता में सुधार के लिए 119 शैक्षिक ब्लॉकों में मॉडल संस्कृत वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय खोलने का निर्णय लिया है। सरकार महिलाओं के लिए हरियाणा को सुरक्षित बनाने के लिए प्रतिबद्ध है। सरकार राज्य में एक जन आंदोलन के माध्यम से घरों और सार्वजनिक स्थलों पर महिलाओं की सुरक्षा में सुधार लाने का प्रयास कर रही है। एसडीएम राजीव प्रसाद ने गणतंत्र दिवस पर सभी उपमंडल वासियों को बधाई देते हुए कहा कि गणतंत्र दिवस पर सभी को प्रण करना चाहिए कि देश और प्रदेश के विकास में अपना योगदान देंगे और अनेकों शहीदों की कुर्बानियों तथा उनके सपनों को साकार करने में अहम भूमिका निभाएंगे।
इस कार्यक्रम में विभिन्न स्कूलों के बच्चों द्वारा पीटी शो, मार्च पास्ट, लेजियम व सांस्कृतिक कार्यक्रमों की शानदार प्रस्तुतियां देकर सभी का मन मोह लिया। राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय शाहाबाद, आर्य गल्र्ज सीनीयर सैकेंडरी स्कूल, डीएवी स्कूल, खानेवाल खालसा स्कूल ने शानदार पीटी की प्रस्तुती दी। इसी प्रकार परेड में पुलिस की टुकड़ी, राजकीय स्कूल खरींडवा, गुरूनानक प्रीतम स्कूल, गीता विद्या मंदिर, एम.एन.कॉलेज शानदार मार्च पास्ट का प्रदर्शन किया। खानेवाल खालसा स्कूल द्वारा डंबल, राजकीय उच्च विद्यालय शाहाबाद द्वारा लेजियम, आर्य गल्र्ज कॉलेज द्वारा समूह गान तथा सांस्कृतिक कार्यक्रम, डिवाईन पब्लिक स्कूल, डी.ए.वी. रामप्रसाद स्कूल, विश्वास पब्लिक स्कूल, आर्य गल्र्ज तथा सतलुज स्कूल द्वारा बेहतरीन प्रस्तुति दी गई। कार्यक्रम में गीता विद्या मंदिर व राजकीय सीनियर सैकैंडरी स्कूल शाहाबाद द्वारा शानदार बैंड का प्रदर्शन किया।
कार्यक्रम में उत्कृष्ट कार्य करने वाले 60 व्यक्तियों को प्रशंसा पत्र देकर सम्मानित किया गया झांकियों में प्रथम स्थान पर शिक्षा विभाग, दूसरे स्थान पर कृषि विभाग तथा तीसरे स्थान पर महिला एवं बाल विकास विभाग की झांकी रही। परेड में प्रथम स्थान पर पुलिस विभाग की टुकड़ी, दूसरे स्थान पर आर्य कन्या कॉलेज शाहबाद तथा तीसरे स्थान पर एम एन कॉलेज की टुकड़ी रही। सभी को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर शाहबाद के विधायक रामकरण काला, डीएसपी सुरेंद्र सिंह, तहसीलदार टीके गौतम, एसडीओ बिजली विभाग रमेश सैनी, एसडीओ पंचायती राज जिले सिंह सहित अन्य गणमान्य लोग उपस्थित थे

भारतीय सविंधान से देश को एक सम्पूण प्रभुत्व सम्पन्न गणराज्य का मिला दर्जा:यादव

भारतीय सविंधान से देश को एक सम्पूण प्रभुत्व सम्पन्न गणराज्य का मिला दर्जा:यादव


भारतीय सविंधान से देश को एक सम्पूण प्रभुत्व सम्पन्न गणराज्य का मिला दर्जा:यादव
एसडीएम अनिल यादव ने किया ध्वजारोहण
 डिस्कवरी टाइम्स 
लाडवा 26 जनवरी उपमंडल अधिकारी नागरिक अनिल यादव  ने कहा कि 26 जनवरी 1950 को हमारा संविधान लागू हुआ था। इसके साथ ही भारत एक संपूर्ण प्रभुत्व सम्पन्न गणराज्य बना था। भारत रत्न बाबा साहेब भीमराव अम्बेडकर ने हमें विश्व का बेहतरीन संविधान दिया। इस संविधान की बदौलत ही देश के सभी धर्मों, सम्प्रदायों व जातियों के लोगों को सामाजिक, आर्थिक और राजनैतिक दृष्टि से समान अधिकार प्राप्त हुए। हर नागरिक को आगे बढऩे के समान अवसर मिले।
एसडीएम अनिल यादव रविवार को लाडवा अनाज मंडी के प्रांगण में उपमंडल स्तर पर आयोजित 71वें गणतंत्र दिवस समारोह में उपमंडल वासियों को सम्बोधित कर रहे थे। इससे पहले एसडीएम अनिल यादव ने गणतंत्र दिवस के उपमंडलस्तरीय समारोह में राष्ट्रीय ध्वजारोहण किया और परेड का निरीक्षण करने उपरांत परेड की सलामी ली। इससे पूर्व एसडीएम अनिल यादव ने शहीद स्मारक पर जाकर शहीदों को पुष्प चक्र अर्पित कर भावभीनी श्रद्घांजलि अर्पित की। उन्होंने कहा कि आजादी के लिए जहां महात्मा गांधी, सुभाषचंद्र बोस, भगत सिंह, लाला लाजपत राय जैसे स्वतंत्रता सेनानियों के योगदान को भुलाया नहीं जा सकता तो वहीं खुशहाल भारत के सपने को साकार करने के लिए स्वामी विवेकानन्द, डा. श्यामा प्रसाद मुखर्जी, पंडित दीनदयाल उपाध्याय, पंडित मदन मोहन मालवीय, लौहपुरुष सरदार वल्लभभाई पटेल जैसे अनेक देशभक्तों ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।
उन्होंने कहा कि सरकार राज्य के किसानों को पानी के समान वितरण करने के कार्य को उच्च प्राथमिकता दे रही है। सरकार हर खेत को पानी पहुंचाने के लिए प्रतिबद्ध है और सभी टेलों तक पानी पहुंचाने का अभियान शुरू किया गया है। वर्ष 2019 से चलाए गये जल शक्ति अभियान के दौरान ग्रामीण क्षेत्रों में व्यापक गतिविधियां आयोजित की गई। वर्ष 2024 तक हर ग्रामीण घर में नल के माध्यम से प्रति व्यक्ति प्रतिदिन 55 लीटर की दर से जल पहुंचाने के लिए भारत सरकार द्वारा जल जीवन मिशन शुरू किया गया है। उत्कृष्ट खिलाडिय़ों को पारदर्शी तरीके से नौकरी देने के लिए हरियाणा उत्कृष्ट खिलाड़ी (भर्ती एवं सेवा की शर्तें) नियम, 2018 के तहत 49 खिलाडिय़ों को नौकरी दी गई है। सरकार विभिन्न श्रेणियों के व्यक्तियों जैसे कि वरिष्ठ नागरिकों, विधवाओं, निराश्रित महिलाओं, दिव्यांगों, बौनों, निराश्रित बच्चों, एक या एक से अधिक बेटी वाले अभिभावकों, स्कूल न जा रहे दिव्यांग बच्चों और कश्मीरी विस्थापितों को सामाजिक सुरक्षा पेंशन दे रही है।
एसडीएम अनिल यादव ने गणतंत्र दिवस पर सभी उपमंडल वासियों को बधाई देते हुए कहा कि गणतंत्र दिवस पर सभी को प्रण करना चाहिए कि देश और प्रदेश के विकास में अपना योगदान देंगे और अनेकों शहीदों की कुर्बानियों तथा उनके सपनों को साकार करने में अहम भूमिका निभाएंगे। इस कार्यक्रम में विभिन्न स्कूलों के बच्चों द्वारा पीटी शो, मार्च पास्ट, लेजियम व सांस्कृतिक कार्यक्रमों की शानदार प्रस्तुतियां देकर सभी का मन मोह लिया। परेड में यूनिक शिक्षा निकेतन स्कूल प्रथम, लाडवा पुलिस की टुकड़ी द्वितीय व आईजीएन कालेज लाडवा की एनसीसी की टुकड़ी तृतीय स्थान पर रही। इस मौके पर डीएसपी भारत भूषण, बीडीपीओ राजन सिंगला, तहसीलदार हरीश कालाड़ा, नगर पालिका अध्यक्ष साक्षी खुराना, नगर पालिका सचिव हरिओम काम्बोज, बीईओ बलवंत सिंह सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

देश की प्रगति के लिए प्रत्येक मतदाता को करना चाहिए मत का प्रयोग:धीरेन्द्र

देश की प्रगति के लिए प्रत्येक मतदाता को करना चाहिए मत का प्रयोग:धीरेन्द्र





डीसी ने स्वीप गतिविधियों में उल्लेखनीय कार्य करने वाले अधिकारियों, कर्मचारियों व विद्यार्थियों को किया सम्मानित
डिस्कवरी टाइम्स कुरुक्षेत्र 

कुरुक्षेत्र(पवन )  25 जनवरी जिला निर्वाचन अधिकारी एवं उपायुक्त धीरेन्द्र खडगटा ने कहा कि देश की प्रगति के लिए प्रत्येक मतदाता को अपने मत का निष्पक्ष और स्वतंत्र रूप से प्रयोग करना चाहिए। प्रत्येक मतदाता को अपने जहन में इस बात का भी ध्यान रखना चाहिए कि उसका नाम मतदाता सूची में शामिल है या नहीं। चुनाव आयोग के नियमों के अनुसार मतदाता सूची में शामिल नाम वाला व्यक्ति ही अपने मत का प्रयोग करने का अधिकार रखता है। इसलिए सभी को मतदाता सूचियों में भी अपना नाम दर्ज करवाना चाहिए। 
वे शनिवार को पंचायत भवन के सभागार में जिला निर्वाचन कार्यालय की तरफ से 10वें राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर आयोजित जिलास्तरीय कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे। इससे पहले उपायुक्त धीरेन्द्र खडगटा ने दीप प्रज्ज्वलित कर विधिवत रूप से कार्यक्रम का शुभारंभ किया। उन्होंने कहा कि दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र भारत में किसी भी व्यक्ति को अपने मत का प्रयोग सुविधानुसार करने का अधिकार है। कोई भी व्यक्ति सहजता से अपने वोट को एक स्थान से दूसरे स्थान पर हस्तांतरित कर सकता है। उन्होंने कहा कि मतदाता को पहचान पत्र बनाने तक ही सीमित नहीं रहना चाहिए। उसे समय रहते मतदाता सूची में भी अपने नाम को शामिल करवाना चाहिए। उन्होंने कहा कि मत का प्रयोग न करने से देश को नुकसान होता है। अच्छे नागरिक व जिम्मेवार व्यक्ति का कर्तव्य बनता है कि अपने मत का प्रयोग करके देश की प्रगति में अपना योगदान दें। उन्होंने चुनाव से सम्बन्धित सभी जानकारियों के बारे में विस्तार से जानकारी दी तथा टोल फ्री नम्बर 1950 के बारे में विस्तार से बताया।
उपायुक्त धीरेन्द्र खडगटा ने देश के पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त टीएन शेषन के बारे में कहा कि जब वह मुख्य चुनाव आयुक्त थे, उस समय फोटो मतदाता पहचान पत्र की शुरुआत हुई ओर भी बहुत से कार्य उन्होंने अपने कार्यकाल में किए। उन्होंने जिला निर्वाचन की गतिविधियों पर प्रकाश डालते हुए कहा कि  हरियाणा में 25 जनवरी 2011 में पहली बार राष्ट्रीय मतदाता दिवस मनाया गया। इसी कड़ी में जिलास्तर के साथ-साथ प्रत्येक बूथ पर 25 जनवरी को राष्ट्रीय मतदाता दिवस के रूप में मनाया जा रहा है। इसके पश्चात उपायुक्त ने सभागार में मौजूद सभी अधिकारियों व विद्यार्थियों को देश के लोकतंत्र को बनाए रखने तथा निष्पक्ष रूप से मतदान करने को लेकर शपथ भी दिलाई। इसके पश्चात उपायुक्त ने स्वीप गतिविधियों में बेहतरीन कार्य करने वाले विद्यार्थियों, अधिकारियों व कर्मचारियों को प्रशंसा पत्र देकर सम्मानित किया।
एसडीएम थानेसर अश्विनी मलिक ने आए हुए अतिथियों का स्वागत किया और सीटीएम सतबीर सिंह कुंडू ने आगुंतकों का आभार व्यक्त किया। इस कार्यक्रम के मंच का संचालन एआईपीआरओ बलराम शर्मा ने किया। इस मौके पर एसडीएम लाडवा अनिल यादव, चुनाव तहसीलदार संदीप कुमार, पीओआईसीडीएस नीना कपूर, जिला खेल अधिकारी यशबीर सिंह, कानूनगो सुभाष, सर्वजीत सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।
सरस्वती महोत्सव में पर्यटकों को खाने को मिलेगी चूरमा और बाजरे की खिचड़ी  मिनी सूरजकुंड की तरह सजेगा मेला

सरस्वती महोत्सव में पर्यटकों को खाने को मिलेगी चूरमा और बाजरे की खिचड़ी मिनी सूरजकुंड की तरह सजेगा मेला





अंतरराष्ट्रीय सरस्तवी महोत्सव में सरस मेले की तर्ज पर लगभग 70 शिल्पकारों द्वारा स्टाल लगाए जाएंगे
डिस्कवरी टाइम्स कुरुक्षेत्र 

पिहोवा (पवन) 25 जनवरी उपायुक्त धीरेन्द्र खडगटा ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय सरस्वती महोत्सव को इस बार नया लुक देने का प्रयास किया गया है। इस महोत्सव में पहली बार पर्यटकों के लिए हरियाणवी व्यंजन परोसे जाएंगे। इन व्यंजनों के तहत पर्यटकों के लिए बाजरे की खिचड़ी व रोटी, चूरमा, शक्कर-घी भी खाने को मिलेंगे। इतना ही नहीं मेहमानों के लिए भूस और बांस से विशेष झौंपड़ी भी तैयार की गई है। अहम पहलु यह है कि सरस्वती महोत्सव में हरियाणा के गांव के दर्शन सम्भव हो सकेगे।
उन्होंने आज यहां बातचीत करते हुए कहा कि सरस्वती धरोहर विकास बोर्ड और प्रशासन की तरफ से सरस मेले और प्रदर्शनी को नया लुक देने के लिए डिजाईनर डा. हनीफ को जिम्मा सौंपा। इस डिजाईनर के प्रयासों से सरस्वती महोत्सव को मिनी सूरजकुंड की तरह सजाया गया है, इसमें जहां गुफा में अंत सलीला सरस्वती नदी को दिखाने का प्रयास किया जाएगा वहीं यह गुफा पर्यटकों के आकर्षण का केन्द्र भी बनेगी। इस गुफा को 150 फुट का तैयार किया है। इस गुफा में एक तरफ से पर्यटक प्रवेश करेंगे और दूसरी तरफ से सरस्वती नदी व ऐतिहासिक स्थलों के दर्शन करने के उपरांत बाहर निकलेंगे। उन्होंने कहा कि महोत्सव में हरियाणा ग्रामीण परिवेश के दर्शन होंगे, जहां स्टालों पर हरियाणवी व्यंजन रखे जाएंगे वहीं सेल्फ हेल्प ग्रुप की महिलाएं चुल्हे पर रोटी और सब्जी बनाती नजर आएंगी। इस सेल्फ हेल्प ग्रुप का नेतृत्व फतेहाबाद की महिलाएं करेंगी। इतना ही नहीं डिजाईनर ने इस महोत्सव में ऐतिहासिक स्थल बनावली में अभी हाल में ही मिले प्राचीन कुएं की तर्ज पर एक कुआं भी तैयार किया है तो हरियाणा की सांस्कृतिक विरासत को इंगित करेगा।
उन्होंने कहा कि अंतर्राष्टï्रीय सरस्तवी महोत्सव में सरस मेले की तर्ज पर लगभग 70 शिल्पकारों द्वारा स्टाल लगाए जाएंगे, जिसमें विभिन्न प्रदेशों की शिल्पकला को देखने का सुनहरी अवसर मिलेगा। यह दुकाने भी झौंपडी की तरह तैयार की जाएंगी ताकि प्राचीन समय की यादों को तरोताजा किया जा सके। इस महोत्सव में पहली बार पिहोवा की मशहुर खाद्य पदार्थो और वस्तुओं को पिहोवा स्ट्रीट में जगह दी जाएगी, इस पिहोवा स्ट्रीट में 5 से 10 दुकाने सजाई जाएंगी। पिहोवा की परम्परागत चीजों को भी मंच दिया और दूरदराज से आने वाले लोगों को पिहोवा की खासियत की बारे में जानकारी मिल सके। महोत्सव में पहली बार एक गुफा बनाई जाएगी, इस गुफा में सरस्वती उदगम से लेकर अब तक की गई खोज के बारे में प्रदर्शित किया जाएगा ताकि लोगों को प्राचीन सरस्वती नदी के इतिहास के बारे में जानने का मौका मिल सके।
उन्होंने कहा कि महोत्सव में सुबह सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा और सांय के समय 27, 28 व 29 जनवरी को संध्याकालीन सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा तथा 29 जनवरी को पिहोवा सरस्वती तीर्थ पर सुबह 10 बजे सरस्वती आरती के साथ-साथ हवन यज्ञ और श्लौको का उच्चारण स्कूली विद्यार्थियों द्वारा किया जाएगा और सुबह के समय बंसत पंचमी पर्व को मनाने के लिए सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। यहां पर सायं 3 बजे अंतर्राष्टï्रीय सरस्वती महोत्सव का समापन होगा।
जल सरंक्षण को लेकर केयूके में 14 फरवरी को होगा एक दिवसीय सैमिनार का आयोजन

जल सरंक्षण को लेकर केयूके में 14 फरवरी को होगा एक दिवसीय सैमिनार का आयोजन

जल सरंक्षण को लेकर केयूके में 14 फरवरी को होगा एक दिवसीय सैमिनार का आयोजन
डिस्कवरी टाइम्स 
कुरुक्षेत्र (पवन ) 24 जनवरी उपायुक्त धीरेन्द्र खडगटा ने बताया कि जल संसाधन नदी विकास और गंगा सरक्षंण विभाग भारत सरकार द्वारा आगामी 14 फरवरी को कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय के सभागार में जल सरक्षंण के लिए सही फसल का चयन विषय पर प्रात: 9 बजे कुरुक्षेत्र संसदीय क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले जिलों के किसानों के लिए एक दिवसीय सैमिनार का आयोजन किया जाएगा।
डीसी शुक्रवार को उपायुक्त कार्यालय में सैमिनार से सम्बन्धित तैयारियों के सम्बन्ध में अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दे रहे थे। उन्होंने कहा कि इस सैमिनार में विभाग से सम्बन्धित एक प्रदर्शनी भी लगाई जाएगी और किसानों के लिए जल सरंक्षण पर एक नाटक का मंचन भी किया जाएगा। डीसी ने बताया कि इस सैमिनार के लिए कृषि विभाग नोडल विभाग होगा। उन्होंने अधिकारियों को कहा कि समय रहते अपनी-अपनी तैयारियां पूरी कर ले, इस विषय में किसी प्रकार की कोई लापरवाही ना हो। इस मौके पर राष्टï्रीय जल आयोग के उप सचिव जेपी सिंह, आयोग के सलाहकार सुनील कुमार अरोड़ा, एसडीएम थानेसर अश्विनी मलिक, सीटीएम सतबीर सिंह कुंडू सहित सम्बन्धित अधिकारी मौजूद थे।
फोटो कैप्शन-फोटो नम्बर 1
 अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव को मिला सिंगल यूज प्लास्टिक फ्री इवेंट बनाने का ग्रेड ए प्रमाण पत्र

अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव को मिला सिंगल यूज प्लास्टिक फ्री इवेंट बनाने का ग्रेड ए प्रमाण पत्र


दिल्ली की संस्था ग्लोबल एनवायरोसेफ्टी मैनेजमेंट ने केडीबी प्रशासन को भेजा प्रमाण पत्र, भारत में पहली बार 18 दिन बड़े इवेंट को सिंगल यूज प्लास्टिक फ्री बनाने पर बना इतिहास
डिस्कवरी टाइम्स
कुरुक्षेत्र( पवन ) 24 जनवरी अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव 2019 को सिंगल यूज प्लास्टिक फ्री इवेंट बनाने पर ग्रेड ए प्रमाण पत्र प्रदान किया गया है। यह प्रमाण पत्र नई दिल्ली की ग्लोबल एनवायरोंसेफ्टी मैनेजमेंट प्राईवेट लिमिटेड द्वारा दिया गया है। इस संस्था ने कुरुक्षेत्र विकास बोर्ड, कुरुक्षेत्र के प्रशासनिक अधिकारियों और एनजीओ ग्रीन अर्थ संस्था को सराहनीय कार्य करने का श्रेय दिया है। अहम पहलू यह है कि देश में अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव-2019 सबसे लम्बे 18 दिन के इवेंट की श्रेणी में शुमार है और इतने दिन तक महोत्सव को सिंगल यूज प्लास्टिक फ्री बनाना अपने आपमें एक नया इतिहास है और स्वच्छ भारत मिशन के सपने को साकार करने का एक अनोखा प्रयास है।
कुरुक्षेत्र विकास बोर्ड के सदस्य सौरव चौधरी व राजेन्द्र परासर ने शुक्रवार को लघु सचिवालय में बातचीत करते हुए कहा कि अंतर्राष्टï्रीय गीता महोत्सव-2019 को सिंगल यूज प्लास्टिक फ्री बनाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया था। इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए विधायक सुभाष सुधा, उपायुक्त, एसडीएम, केडीबी के सभी अधिकारियों और सदस्यों के साथ-साथ शहर की समाज सेवी व धार्मिक संस्थाओं के सार्थक प्रयास रहे। इन प्रयासों के चलते ही 23 नवम्बर से 10 दिसम्बर तक 18 दिन चले अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव को सिंगल यूज प्लास्टिक फ्री इवेंट बनाया गया। इस इवेंट के सिंगल यूज प्लास्टिक फ्री इवेंट बनाने का मुल्यांकन ग्लोबल एनवायरोंसेफ्टी मैनेजमेंट प्राईवेट लिमिटेड द्वारा किया गया। इस संस्था के निदेशक डा. उमाशंकर सैन ने भेजे अपने पत्र में स्पष्टï किया कि इस मेगा इवेंट को सिंगल यूज प्लास्टिक फ्री बनाने पर एनजीओ, प्रशासन और केडीबी बधाई के पात्र है।
उन्होंने कहा कि 24 नवम्बर से 9 दिसम्बर तक संस्था की टीम ने सिंगल यूज प्लास्टिक फ्री इवेंट को लेकर मुल्यांकन किया और इस मुल्यांकन के दौरान एसयूपी आईटम जिनमें, प्लास्टिक बैग, प्लास्टिक व थर्मोकोल डिस्पोजेबल आईटम, प्लास्टिक कोटिड प्लेट पर पूर्णत: प्रतिबंध रहा और इस दौरान प्रशासन द्वारा लोगों को जागरुक करने के लिए विभिन्न प्रकार की गतिविधियों का आयोजन किया गया। इन गतिविधियों के दौरान कपड़ों के थैलों का वितरण किया गया, स्टालों पर जाकर दुकानदारों को प्लास्टिक का प्रयोग न करने के बारे में जानकारी दी गई और वाटस ग्रुप के साथ-साथ अन्य साधनों के जरिए लोगों को जागरुक किया गया। इस महोत्सव में एनजेडसीसी और सभी एजेंसियों ने सिंगल यूज प्लास्टिक फ्री इवेंट बनाने पर पूर्णत: फोस रखा, गीता महोत्सव 2010 से लेकर अब तक विशेष योजना के तहत इस विषय फोकस रखा जा रहा है। इतना ही नहीं नॉन बायोडिग्रेडिबल फलैक्स, बैनर और होर्डिंग्स पर भी सिंगल यूज प्लास्टिक को लेकर ध्यान दिया गया और खाने के स्टालों पर भी प्लास्टिक का प्रयोग करने प्रतिबंध लगाया गया, इसके अलावा सभी खाने के स्थानों पर गीला और सुखा कचरा अलग-अलग डस्टबीनों में डाला गया।
उन्होंने कहा कि इन तमाम पहलुओं पर मुल्यांकन करने के उपरांत ही ग्लोबल एनवायरोंसेफ्टी मैनेजमेंट प्राईवेट लिमिटेड ने देश के सबसे लम्बे इवेंट की श्रेणी में शामिल अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव-2019 को सिंगल यूज प्लास्टिक फ्री इवेंट के ए ग्रेड प्रमाण पत्र से नवाजा है। इस उपलब्धि से कुरुक्षेत्र का नाम पूरे राष्टï्र में रोशन हुआ है, इस उपलब्धि में योगदान देने वाली संस्थाओं और गणमान्य लोगों को केडीबी और स्थानीय प्रशासन के सहयोग से सम्मानित भी किया जाएगा। इस स्थिति को अब निरंतर बरकार रखा जाएगा और आने वाले सभी कार्यक्रमों को सिंगल यूज प्लास्टिक फ्री बनाने का प्रयास किया जाएगा। इस उपलब्धि से केडीबी और प्रशासन ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री मनोहर लाल के स्वच्छ भारत मिशन के सपने को साकार करने का काम किया है।
सभी के सांझे प्रयासो से गणतंत्र दिवस को मनाया जाएगा भव्य और परम्परागत रुप से:धीरेन्द्र

सभी के सांझे प्रयासो से गणतंत्र दिवस को मनाया जाएगा भव्य और परम्परागत रुप से:धीरेन्द्र



हरियाणा विस अध्यक्ष गणतंत्र दिवस 26 जनवरी को करेंगे ध्वजारोहण
डिस्कवरी टाइम्स/ Discovery Times

कुरुक्षेत्र (पवन) 24 जनवरी उपायुक्त धीरेन्द्र खडगटा ने कहा कि जिलास्तरीय गणतंत्र दिवस 26 जनवरी के राष्ट्रीय पर्व के एक-एक क्षण को यादगार बनाना है। इस कार्यक्रम को भव्य और परम्परागत ढंग से मनाने के लिए सभी के सांझे सहयोग की जरुरत होगी। इस वर्ष हरियाणा विधानसभा के अध्यक्ष ज्ञानचंद गुप्ता ध्वजारोहण करेंगे। इस कार्यक्रम की तैयारियों में किसी प्रकार की कोई कमी नहीं रहनी चाहिए और समय रहते सभी विभाग अपने-अपने स्तर पर तैयारियां पूरी करनी सुनिश्चित करेंगे। 
वे शुक्रवार को अनाज मंडी के प्रांगण में जिलास्तरीय गणतंत्र दिवस समारोह की अंतिम फुल ड्रैस रिहर्सल के दौरान बोल रहे थे। इससे पहले धीरेन्द्र खडगटा ने लघु सचिवालय शहीदी स्मारक पर पुष्प चक्र अर्पित कर शहीदों का श्रृद्धाजंलि देने के बाद फाईनल रिहर्सल के दौरान ध्वजारोहण किया और परेड का निरीक्षण किया। परेड का निरीक्षण करने के उपरांत मार्च पास्ट में शामिल जवानों की सलामी ली। इस कार्यक्रम के दौरान उपायुक्त धीरेन्द्र खडगटा ने परेड को और बेहतर बनाने के लिए प्लाटून कमांडर को कुछ आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिए। इसके पश्चात विभिन्न स्कूलों के विद्यार्थियों ने पीटी शो, डम्बल, लेजियम, मलखंब तथा सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति दी। इन प्रस्तुतियों में और सुधार लाने के लिए अतिरिक्त उपायुक्त वीना हुड्डïा ने जिला शिक्षा अधिकारी अरुण आश्री को भी आवश्यक दिशा-निर्देश देते हुए कहा कि स्कूल के विद्यार्थी अपने-अपने संस्थानों में जाकर सांस्कृतिक कार्यक्रमों का और अभ्यास करेंगे ताकि 26 जनवरी के दिन विद्यार्थी शानदार प्रस्तुति दे सकें। 
एडीसी ने बताया कि 26 जनवरी के पावन पर्व पर विभिन्न विभागों की तरफ से झांकियां निकाली जाएंगी। प्रशासन की तरफ से स्वतंत्रता सेनानियों, वीर-वीरांगनाओं को सम्मानित किया जाएगा। इसके उपरांत उल्लेखनीय कार्य करने वाले अधिकारियों, कर्मचारियों, खिलाडिय़ों, सामाजिक संस्थाओं व समाजसेवी लोगों को भी सम्मानित किया जाएगा। इस मौके पर सीटीएम सतबीर कुंडू, डीआरओ डा. चांदी राम चौधरी, जिला शिक्षा अधिकारी अरुण आश्री, उप जिला शिक्षा अधिकारी बलजीत सिंह सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।
71वें गणतंत्र दिवस को भव्य बनाने के लिए होंगे शानदार सांस्कृतिक कार्यक्रम:वीना

71वें गणतंत्र दिवस को भव्य बनाने के लिए होंगे शानदार सांस्कृतिक कार्यक्रम:वीना


जिलास्तरीय गणतंत्र दिवस के कार्यक्रमों का अभ्यास जारी, अतिरिक्तउपायुक्त वीना हुड्डा ने लिया तैयारियों का जायजा

डिस्कवरी टाइम्स/ Discovery Times

कुरुक्षेत्र (पवन) 23 जनवरी गणतंत्र दिवस समारोह को भव्य ढंग से मनाने के लिए वीरवार को रिहर्सल के दौरान थानेसर अनाज मंडी में स्कूली बच्चों, एनसीसी के स्टूडेंटस व पुलिस जवानों ने अभ्यास करते हुए अपनी बेहतरीन प्रस्तुति दी तथा अतिरिक्त उपायुक्त वीना हुड्डा ने तैयारियों का जायजा लिया।
जिलास्तरीय 71वें गणतंत्र दिवस समारोह थानेसर अनाज मंडी के प्रांगण में मनाया जाएगा। इस कार्यक्रम के मुख्यातिथि हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष ज्ञानचंद गुप्ता होंगे। कार्यक्रम को भव्य बनाने के लिए स्कूली बच्चों, पुलिस के जवानों द्वारा पिछले कई दिनों से तैयारियों की जा रही है। वीरवार को अतिरिक्त उपायुक्त वीना हुड्डा ने तैयारियों की समीक्षा की और अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिए। अतिरिक्त उपायुक्त ने कहा कि जिलास्तरीय कार्यक्रम में जो भी कार्यक्रम प्रस्तुत किया जाए, वह अव्वल हो, जिस कार्यक्रम में कोई तथ्य न हो, ऐसे कार्यक्रम को प्रस्तुती से बाहर किया जाए। अधिकारियों ने मुख्य समारोह में प्रस्तुत होने वाले सांस्कृतिक कार्यक्रमों को स्वयं देखा, वहीं रिहर्सल के दौरान पुलिस अधिकारियों ने परेड टुकडिय़ों का विशेष वाहन पर जाकर निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने पुलिस व एनएसएस की टुकडिय़ें के कमांडरों को आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिए। इन कार्यक्रमों की फुल ड्रैस फाईनल रिहर्सल 24 जनवरी को अनाज मंडी के प्रांगण में की जाएगी। इसके लिए सभी टीम इंचार्ज समय रहते रिहर्सल में पहुंचना सुनिश्चित करेंगे।

उन्होंने कहा कि जिलास्तरीय कार्यक्रम में जिले के करीब 2500 विद्यार्थी सांस्कृतिक कार्यक्रमों, परेड, पीटी शो, डम्बल, मलखंभ, सूर्य नमस्कार आदि में भाग लेंगे। सभी भाग लेनी वाली टीमों का चयन कर लिया गया है। सांस्कृतिक कार्यक्रमों में विज्डम वल्र्ड स्कूल ने राजस्थानी नृत्य, कन्या गुरुकुल बचगांवा गामड़ी ने हरियाणवी नृत्य, अग्रसैन पब्लिक स्कूल ने देशभक्ति पर आधारित कोरियोग्राफी, डीएवी पब्लिक स्कूल सेक्टर 3 के विद्यार्थियों द्वारा राजस्थानी नृत्य, महाराणा प्रताप पब्लिक स्कूल ने स्वच्छता पर आधारित कोरियोग्राफी, सहारा काम्प्रीहेंसिव स्कूल ने पंजाबी नृत्य, श्री महावीर जैन ने देशभक्ति पर आधारित सांस्कृतिक कार्यक्रम, राजकीय वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय थानेसर ने हरियाणवी नृत्य व राष्टï्रगान की रिहर्सल की है। इसके साथ-साथ पीटी शो, मलखम्भ, डम्बल, योगा के विद्यार्थियों सहित पुलिस के जवानों और एनसीसी के विद्यार्थियों ने परेड का जमकर अभ्यास किया। इन टीमों के इंचार्ज ने मौके पर ही खामियों को दुरस्त करने के दिशा-निर्देश भी दिए। इस मौके पर डीएसपी पिहोवा धीरज खट्टïर, जिला शिक्षा अधिकारी अरुण आश्री, डिप्टी डीईओ बलजीत सिंह, मार्किट कमेटी के सचिव हरजीत सिंह सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।
71वें गणतंत्र दिवस को भव्य बनाने के लिए होंगे शानदार सांस्कृतिक कार्यक्रम:वीना

71वें गणतंत्र दिवस को भव्य बनाने के लिए होंगे शानदार सांस्कृतिक कार्यक्रम:वीना



जिलास्तरीय गणतंत्र दिवस के कार्यक्रमों का अभ्यास जारी, अतिरिक्त उपायुक्त वीना हुड्डा ने लिया तैयारियों का जायजा
हरियाणा विस अध्यक्ष ज्ञानचंद गुप्ता करेंगे 26 जनवरी को राष्ट्रीय ध्वजारोहण, आज होगी फुल ड्रैस फाईनल रिहर्सल

डिस्कवरी टाइम्स/ Discovery Times
कुरुक्षेत्र (पवन) 23 जनवरी गणतंत्र दिवस समारोह को भव्य ढंग से मनाने के लिए वीरवार को रिहर्सल के दौरान थानेसर अनाज मंडी में स्कूली बच्चों, एनसीसी के स्टूडेंटस व पुलिस जवानों ने अभ्यास करते हुए अपनी बेहतरीन प्रस्तुति दी तथा अतिरिक्त उपायुक्त वीना हुड्डा ने तैयारियों का जायजा लिया।
जिलास्तरीय 71वें गणतंत्र दिवस समारोह थानेसर अनाज मंडी के प्रांगण में मनाया जाएगा। इस कार्यक्रम के मुख्यातिथि हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष ज्ञानचंद गुप्ता होंगे। कार्यक्रम को भव्य बनाने के लिए स्कूली बच्चों, पुलिस के जवानों द्वारा पिछले कई दिनों से तैयारियों की जा रही है। वीरवार को अतिरिक्त उपायुक्त वीना हुड्डा ने तैयारियों की समीक्षा की और अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिए। अतिरिक्त उपायुक्त ने कहा कि जिलास्तरीय कार्यक्रम में जो भी कार्यक्रम प्रस्तुत किया जाए, वह अव्वल हो, जिस कार्यक्रम में कोई तथ्य न हो, ऐसे कार्यक्रम को प्रस्तुती से बाहर किया जाए। अधिकारियों ने मुख्य समारोह में प्रस्तुत होने वाले सांस्कृतिक कार्यक्रमों को स्वयं देखा, वहीं रिहर्सल के दौरान पुलिस अधिकारियों ने परेड टुकडिय़ों का विशेष वाहन पर जाकर निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने पुलिस व एनएसएस की टुकडिय़ें के कमांडरों को आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिए। इन कार्यक्रमों की फुल ड्रैस फाईनल रिहर्सल 24 जनवरी को अनाज मंडी के प्रांगण में की जाएगी। इसके लिए सभी टीम इंचार्ज समय रहते रिहर्सल में पहुंचना सुनिश्चित करेंगे।

उन्होंने कहा कि जिलास्तरीय कार्यक्रम में जिले के करीब 2500 विद्यार्थी सांस्कृतिक कार्यक्रमों, परेड, पीटी शो, डम्बल, मलखंभ, सूर्य नमस्कार आदि में भाग लेंगे। सभी भाग लेनी वाली टीमों का चयन कर लिया गया है। सांस्कृतिक कार्यक्रमों में विज्डम वल्र्ड स्कूल ने राजस्थानी नृत्य, कन्या गुरुकुल बचगांवा गामड़ी ने हरियाणवी नृत्य, अग्रसैन पब्लिक स्कूल ने देशभक्ति पर आधारित कोरियोग्राफी, डीएवी पब्लिक स्कूल सेक्टर 3 के विद्यार्थियों द्वारा राजस्थानी नृत्य, महाराणा प्रताप पब्लिक स्कूल ने स्वच्छता पर आधारित कोरियोग्राफी, सहारा काम्प्रीहेंसिव स्कूल ने पंजाबी नृत्य, श्री महावीर जैन ने देशभक्ति पर आधारित सांस्कृतिक कार्यक्रम, राजकीय वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय थानेसर ने हरियाणवी नृत्य व राष्टï्रगान की रिहर्सल की है। इसके साथ-साथ पीटी शो, मलखम्भ, डम्बल, योगा के विद्यार्थियों सहित पुलिस के जवानों और एनसीसी के विद्यार्थियों ने परेड का जमकर अभ्यास किया। इन टीमों के इंचार्ज ने मौके पर ही खामियों को दुरस्त करने के दिशा-निर्देश भी दिए। इस मौके पर डीएसपी पिहोवा धीरज खट्टïर, जिला शिक्षा अधिकारी अरुण आश्री, डिप्टी डीईओ बलजीत सिंह, मार्किट कमेटी के सचिव हरजीत सिंह सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।
उपायुक्त धीरेन्द्र खडगटा ने बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओं अभियान के अंतर्गत जिला टास्क फोर्स कमेटी की बैठक का आयोजन किया

उपायुक्त धीरेन्द्र खडगटा ने बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओं अभियान के अंतर्गत जिला टास्क फोर्स कमेटी की बैठक का आयोजन किया


बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत विशेष अभियान 20 जनवरी से शुरु किया गया है और आगामी 26 जनवरी तक चलेगा
डिस्कवरी टाइम्स/ Discovery Times


कुरुक्षेत्र (पवन)  21 जनवरी उपायुक्त धीरेन्द्र खडगटा ने स्थानीय लघु सचिवालय के सभागार में मंगलवार को बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओं अभियान के अंतर्गत जिला टास्क फोर्स कमेटी की बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में डीसी ने महिला एवं बाल विकास विभाग की सीडीपीओ और सुपरवाईजरों को कहा कि आप अपने-अपने ब्लाक से 10-10 आंगनवाडिय़ों के नाम दे, जहां पर पायलट प्रोजैक्ट के तहत जल्द ही सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे। इससे सम्बन्धित अपनी रिपोर्ट आगामी बैठक में प्रस्तुत करे। यहीं नहीं उन्होंने कहा कि जल्द ही अक्षय उर्जा के तहत सभी आंगनवाड़ी केन्द्रों में सौलर लाईट भी लगाई जाएगी।डीसी ने महिला एवं बाल विकास विभाग की अधिकारी को कहा कि जिले में जितनी भी आंगनवाड़ी चल रही है, वह सभी आंगनवाड़ी सरकारी भवनों में होनी चाहिए, जिसके अंदर पानी, बिजली, शौचालय, स्टोर रुम और किचन स्लैब होने चाहिए। अगर कोई आंगनवाड़ी सरकारी भवन में नहीं है तो उसकी रिपोर्ट दे ताकि जल्द से जल्द से सम्बन्धित आंगनवाड़ी को सरकारी भवन में शिफ्ट किया जा सके। उन्होंने कहा कि आप अपनी-अपनी आंगनवाड़ी से सम्बन्धित हर बच्चे का डाटा तैयार करके रिपोर्ट प्रस्तुत करे। उन्होंने कहा कि जिस आंगनवाड़ी में मुलभूत सुविधाओं की कमी है, वह अपनी इन्फ्रास्ट्रक्चर से सम्बन्धित सूचि बनाए ताकि उन सुविधाओं को पूरा किया जा सके, इसमें डी-प्लान के तहत कार्य करवा दिया जाएगा और जहां पर गांव में स्थित आंगनवाड़ी में अगर कोई समस्या है तो वह समस्या पंचायती राज कार्यकारी अभियंता द्वारा दूर कर दी जाएगी, इसके लिए उन्होंने डीडीपीओ रेणू जैन को निर्देश दिए कि जब उन्हें सूचि मिल जाए तो वह प्राथमिकता के तौर पर कार्य को पूरा करे। डीसी ने कहा कि अगली बैठक में वन स्टाप सेंटर, पोस्को, स्कूल हेल्थ डाक्टर, डीएसडब्लयूओ, डीईईओ को भी शामिल करे ताकि सम्बन्धित एजेंडे में उनके कार्य की भी समीक्षा की जा सके। उन्होंने बताया कि बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत विशेष अभियान चलाया हुआ है जो कि 20 जनवरी से शुरु किया गया है और आगामी 26 जनवरी तक चलेगा। इसके तहत पोस्टर स्कूल प्रतियोगिता, नुक्कड़ नाटक, पौधा रोपण, जागरुकता रैली, वाल पेंटिंग, एमटीपी और पीसीपीएनडीटी एक्ट की जानकारी सहित कई महत्वपूर्ण विषयों पर जानकारी दी जा रही है। उन्होंने कहा कि इस विशेष अभियान में किसी प्रकार की कोई लापरवाही सहन नहीं की जाएगी। बैठक में डा. एनपी सिंह और डा. आरके सिन्हा ने डीसी को बताया कि पीसीपीएनडीटी व एमटीपी एक्ट के तहत 54 अल्ट्रासांउड केन्द्रों की जांच की गई है, जिसके तहत 130 लोगों को सजा हुई है और विभाग द्वारा 44 रैड की गई है और 11 अल्ट्रासांउड केन्द्रों का लाईसैंस रद्द किया गया है तथा पीसीपीएनडीटी व एमटीपी एक्ट के तहत 46 एफआईआर हुई है। उन्होंने बताया कि 1 हजार लडक़ों पर जिले का लिंगानुपात वर्ष 2016 में जहां 859 था वहीं अब यह लिंगानुपात 929 है। बैठक में महिला पुलिस थाने की एसएचओ ने बताया कि पोस्को एक्ट के तहत 33 एफआईआर हुई है। बैठक में महिला एवं बाल विकास विभाग की डब्लयूसीडीपीओ प्रियंका ने विभाग की गतिविधियों के बारे में उपायुक्त को विस्तार से जानकारी दी। इस मौके पर महिला एवं बाल विकास विभाग, शिक्षा विभाग, स्वास्थ्य विभाग सहित सम्बन्धित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।