BREAKING NEWS

Thursday

विधानसभा चुनावों को पारदर्शी, निष्पक्ष बनाने के लिए सभी अधिकारियों को ईमानदारी के साथ प्रशिक्षण लेने की जरुरत: मलिक



कुरुक्षेत्र, डिस्कवरी टाइम्स  (अनिल धीमान): रिटर्निंग अधिकारी एवं एसडीएम थानेसर अश्विनी मलिक ने कहा कि विधानसभा आम चुनाव 2019 को निष्पक्ष और पारदर्शी तरीके से सम्पन्न करवाने के लिए सभी अधिकारियों के आपसी सहयोग अति आवश्यक है। सभी अधिकारियों को आपस में तालमेल करके चुनावों को पूरी ईमानदारी और निष्ठा के साथ सम्पन्न करवाना है। इसके लिए सभी अधिकारियों को गहनता से प्रशिक्षण लेना होगा। 


 वे वीरवार को कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय के आडिटोरियम हॉल में जिला निर्वाचन कार्यालय द्वारा आयोजित पीओ और एपीओ प्रशिक्षण शिविर में बोल रहे थे। इससे पहले रिटर्निंग अधिकारी एवं एसडीएम थानेसर अश्विनी मलिक, मास्टर ट्रैनर जय किशन, कर्मवीर, रणधीर, अशोक ने सभी प्रिजाईडिंग अधिकारी व चुनाव में डयूटी देने वाले सभी अधिकारियों व कर्मचारियों को बारीकि से प्रशिक्षण देकर बताया कि 21 अक्टूबर को मतदान से पहले किस प्रकार दस्तावेज और फार्म तैयार करने है और किस प्रकार मशीनों को सील किया जाना है और किस प्रकार मॉक पोल करवाए जाएंगे। इस दौरान सामान्य पर्यवेक्षक उमाकांत उमराव ने भी प्रशिक्षण शिविर का मुआयना किया। उन्होंने मतदान से सम्बन्धित तमाम बारीकियों को सबके सामने रखा और पीठासीन अधिकारियों की शंकाओं को मौके पर ही दूर किया।

  एसडीएम ने कहा कि विधानसभा आम चुनाव 2019 के लिए जिला कुरुक्षेत्र में लाडवा, शाहाबाद, थानेसर व पिहोवा में भी अधिकारियों व सम्बन्धित स्टाफ को ट्रेन्ड करने के लिए प्रशिक्षण दिया गया है। चुनावों में वीवी पैट मशीन का प्रयोग किया जा रहा है, इसलिए सभी अधिकारी गम्भीरता के साथ ईवीएम, वीवी पैट का प्रशिक्षण करे, जो अधिकारी अच्छी तरह से प्रशिक्षण हासिल करेगा, उसे चुनावों के दौरान किसी प्रकार की परेशानी नहीं होगी। उन्होंने कहा कि भारत निर्वाचन आयोग के दिशा निर्देशानुसार सभी अधिकारियों को इलैक्ट्रिोनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) के कंट्रोल यूनिट, वीवी पैट मशीन व बैलेट यूनिट के हर भाग का बारीकि से मास्टर ट्रेनर द्वारा प्रशिक्षण दिया जा रहा है। विधानसभा चुनावों को पारदर्शी, निष्पक्ष बनाने के लिए सभी अधिकारियों को ईमानदारी के साथ प्रशिक्षण लेने की जरुरत है। प्रशिक्षण के दौरान अधिकारियों को मास्टर ट्रेनर से अधिक से अधिक सवाल जवाब करने चाहिए। इस प्रक्रिया से चुनावों के दौरान आने वाली दिक्कतों का समाधान हो पाएगा। 


 उन्होंने कहा कि सभी अधिकारियों को ईवीएम मशीन का डेमो करके दिखाया जाएगा ताकि सभी अधिकारी स्टैम्प आफ पोलिंग स्टेशन, ग्रीन पेपर सील डयूटी नम्बर, स्पैशल टैग डयूटी नम्बर, स्ट्रिप सील डयूटी नम्बर, टैंडरर्ड बैलेट पेपर और प्रीज़ाईडिंग आफिसर डायरी सीरियल नम्बर का विशेष ध्यान देना होगा। इन विषयों में जरा सी भी चूक चुनावों के दौरान समस्या पैदा कर सकती है। उन्होंने कहा कि सभी मतदाताओं की एक-एक वोट को ईमानदारी के साथ पोल करवाने में अधिकारियों व कर्मचारियों को निष्पक्षता के साथ अपनी डयूटी के साथ निर्वाह करना होगा। इस मौके पर पिहोवा रिटर्निंग अधिकारी डा. संजय कुमार, सीटीएम सतबीर कुंडू, चुनाव तहसीलदार संदीप कुमार, कानूनगो सुभाष चंद सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी व कर्मचारी मौजूद थे।

Share this:

 
Copyright © 2020 Discovery Times. Designed by OddThemes