BREAKING NEWS

Saturday

देश-विदेश में कर चुके है दान के लिए 2016 में गिनीज बुक ऑफ वल्र्ड रिकार्ड में दर्ज कराया नाम, कुरुक्षेत्र में गीता महोत्सव पर नि:शुल्क होंगे शो :जादूगर शंकर


देश-विदेश में अब तक 28 हजार शो कर करके 1 करोड़ 70 लाख रुपए कर चुके है दान:जादूगर शंकर
अब तक चेरिटी के लिए किए 23 हजार शो, चेरिटी के लिए 2016 में गिनीज बुक ऑफ वल्र्ड रिकार्ड में दर्ज कराया नाम, कुरुक्षेत्र में गीता महोत्सव पर 1 से 10 दिसम्बर तक मैक में नि:शुल्क होंगे शो 


कुरूक्षेत्र ,अनिल धीमान 30 नवम्बर: विश्व प्रसिद्घ जादूगर शंकर सम्राट अब तक देश-विदेश में 28 हजार शो करके लोगों को अपने मोहपाश में बांध चुके है। इनमें से 23 हजार शो चेरिटी के लिए किए गए है और इस चेरिटी से 1 करोड़ 70 लाख रुपए की राशि सरकार को लोगों की मदद के लिए दान स्वरुप भी मुहैया करवाई है। इस चेरिटी के लिए ही वर्ष 2016 में जादूगर शंकर सम्राट का गिनीज बुक ऑफ वल्र्ड रिकार्ड में नाम दर्ज किया गया है। इतना ही नहीं अंतर्राष्टï्रीय गीता महोत्सव पर 1 दिसम्बर से 10 दिसम्बर तक मल्टी आर्ट कल्चरल सेंटर में रोजाना दोपहर 1 बजे और सायं 4 बजे चेरिटी शो करेंगे।

जादूगर शंकर सम्राट शनिवार को केडीबी मीडिया सेंटर में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि 12 साल की उम्र से गुरु देव कुमार से शिक्षा-दीक्षा लेने के बाद जादू के शो करने शुरु किए थे। इस दुनिया में 64 कलाओं में 1 कला जादू की भी है। इस कला के माध्यम से लोगों का मनोरंजन करने के साथ-साथ अब तक लाखों लोगों के अंधविश्वास को भी दूर करने का काम किया है। यह जादू की कला साधना और विज्ञान है। इस साधना के जरिए लोगों को सम्मोहित करके जादू की कला से मनोरंजन किया जाता है। इस देश में 130 करोड़ की आबादी में 130 जादूगर भी नहीं बचे है। इस कला को बचाने के लिए सरकार के समक्ष प्रस्ताव भी रखा है कि किसी भी प्रदेश में अगर 5 एकड़ जमीन उपलब्ध करवा दी जाए तो एक साल का डिप्लोमा शुरु करके जादू की कला को सरंक्षित करने के साथ-साथ रोजगार के अवसर भी मुहैया करवाए जा सकते है। हालांकि दिल्ली में एक निजी संस्थान द्वारा जादू के पाठयक्रम को शुरु किया गया है।

उन्होंने कहा कि तंत्र-मंत्र-यंत्र से इस कला को लोगों की भलाई और मनोरंजन के लिए प्रयोग किया जा रहा है, लेकिन किसी भी व्यक्ति को इस कला का दुरुपयोग नहीं करना चाहिए। इस महोत्सव में वर्ष 2017 में मुख्यमंत्री मनोहर लाल के प्रयासों से जादू का शो करने का अवसर मिला था, अब फिर सरकार और केडीबी के प्रयासों से 1 दिसम्बर से जादू का शो मल्टी आर्ट में किया जाएगा। इस शो में महाभारत पर आधारित थीम, बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओं, पर्यावरण, जल सरंक्षण, नशा मुक्ति, पोलिथीन फ्री देश जैसे मुद्दों को भी शामिल किया जाएगा। पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए शंकर सम्राट ने कहा कि सिंगापुर, इंग्लैंड, यूके सहित अन्य देशों में भी अपनी कला का प्रदर्शन कर चुके है, लेकिन जादू भारत की कला है और इस भूमि से ही पूरे विश्व में जादू की कला फैली है।

केडीबी के मानद सचिव मदन मोहन छाबड़ा ने मेहमानों का स्वागत करते हुए कहा कि केडीबी द्वारा जादूगर शंकर सम्राट को विशेष तौर पर आमंत्रित किया गया है। इस महान जादूगर ने अपने 28 हजार शो में से 23 हजार शो चेरिटी के लिए किए है। जिसके कारण उनका नाम गिनीज बुक ऑफ वल्र्ड रिकार्ड में दर्ज किया गया है। इस मौके पर संयुक्त निदेशक एवं केडीबी सीईओ गगनदीप सिंह, केडीबी सदस्य रविन्द्र सांगवान, सौरव चौधरी सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित थे।

अलग अलग जगहों से दो लापता, पुलिस ने मामला दर्ज करके जांच कि आरम्भ ।


अलग अलग जगहों से दो लापता।

कुरूक्षेत्र ,अनिल धीमान:- जिला कुरूक्षेत्र मे अलग अलग जगहो से दो के लापता होने का मामला प्रकाष मे आया है। कष्मीरी लाल वासी गोयल क्लाॅथ हाउस पेहवा ने थाना पेहवा पुलिस को दी अपनी षिकायत मे बताया कि उसका लडका अमित कुमार उम्र 24 साल जो दिनांक 7 नवम्बर 2019 को पवलव गया था जो अभी तक घर पर वापिस नही आया है। जिसकी उन्होने अपने तौर पर हर जगह तलाष की पर उसका कही कोई पता नही चल सका है। जिस पर पुलिस ने मामला दर्ज करके जांच आरम्भ कर दी है।



एक अन्य मामले मे फौजी प्लाट पेहवा वासी एक महिला ने थाना पेहवा पुलिस को दी अपनी षिकायत मे बताया कि उसकी लडकी उम्र 20 साल जो दिनांक 29 नवम्बर 2019 को घर से बिना कुछ बताए कही चली गई है। जिसकी उन्होने अपने तौर पर हर जगह तलाष की पर उसका कही कोई पता नही चल सका है। जिस पर पुलिस ने मामला दर्ज करके जांच आरम्भ कर दी है।

नषीली वस्तु अधिनियम के तहत मामला दर्ज करके गिरफतार नषीले पदार्थ सहित किया दो को गिरफतार






जिला पुलिस कुरूक्षेत्र ने नषीले पदार्थ सहित किया दो को गिरफतार। जिला पुलिस कुरूक्षेत्र की अपराध शाखा-1 ने नषीले पदार्थ की तस्करी करने के आरोप मे रोहित पुत्र रणधीर सिहं वासी फतेहपुर पुण्डरी जिला कैथल और अषोक कुमार पुत्र अमरीक वासी टाबरा को काबू करके उनके कब्जे से 1 किलो 300 ग्राम गांजा बरामद करने मे सफलता हासिल की है। यह जानकारी पुलिस अधीक्षक कुरूक्षेत्र श्री मति आस्था मोदी ने दी।




इस बारे मे जानकारी देते हुए श्री मति मोदी ने बताया कि गत दिवस अपराध शाखा-1 के एसआई विरेन्द्र सिंह, एस आई जगपाल सिंह, सिपाही संजीव और प्रदीप कुमार की टीम गांव मलिकपुर के नजदीक मौजूद थी तभी पुलिस ने पेहवा की तरफ से एक मारूती कार को आते हुए देखा जो सामने पुलिस को खडा देख कर वापिस मुडने की कोषिष करने लगे। पुलिस ने शक के आधार पर गाडी को रोक कर चालक व उसके पास बैठे व्यकित का नाम व पता पूछा तो उन्होने अपना नाम  रोहित पुत्र रणधीर सिहं वासी फतेहपुर पुण्डरी जिला कैथल और अषोक कुमार पुत्र अमरीक वासी टाबरा बताया। गाडी की तलाषी लेने पर उसमे से गांजा बरामद हुआ। जिसका वजन करने पर 1 किलो 300 गा्रम हुआ। पुलिस ने गाडी को कब्जे मे लेकर दोनो आरोपियो को काबू करके उनके विरूध थाना ईस्माइलाबाद मे नषीली वस्तु अधिनियम के तहत मामला दर्ज करके गिरफतार कर लिया है। जांच जारी है।


जिला पुलिस कुरूक्षेत्र ने 9 आरोपियो को गिरफतार करके उनके कब्जे से शराब बरामद की



कुरूक्षेत्र ,अनिल धीमान :- अवैध रूप से शराब बेचने के आरोप मे किया जिला पुलिस कुरूक्षेत्र ने 9 आरोपियो को गिरफतार करके उनके कब्जे से 89 बोतल और 48 कवाटर शराब ठेका देषी बरामद की। यह जानकारी पुलिस प्रवक्ता मनजीत पांचाल ने दी।


इस बारे मे जानकारी देते हुए पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि गत दिवस थाना केयुके के हवलदार राजेष कुमार ने गुप्त  सूचना के आधार पर गणेष लाल पुत्र जगदीष वासी लक्ष्मण कालोनी कुरूक्षेत्र को जाट धर्मषालाा के नजदीक अवैध रूप से शराब बेचते हुए काबू करके उसके कब्जे से 9 बोतल शराब ठेका देषी बरामद की।
एक अन्य मामले मे थाना शहर थानेसर के हवलदार विजय कुमार ने गुप्त सूचना के आधार पर यषपाल पुत्र बचना राम वासी रतगल को गंाव रतगल मे अवैध रूप से शराब बेचते हुए काबू करके उसके कब्जे से 10 बोतल शराब ठेका देषी बरामद की।

एक अन्य मामले मे थाना शहर थानेसर के एसआई बलजीत सिंह ने गुप्त सूचना के आधार पर रमेष कुमार उर्फ काली पुत्र मदन लाल वासी लायलपुर बस्ती कुरूक्षेत्र को मोहन नगर कुरूक्षेत्र पर अवैध रूप से शराब बेचते हुए काबू करके उसके कब्जे से 48 कवाटर शराब ठेका देषी बरामद की।

एक अन्य मामले मे थाना शहर थानेसर के हवलदार रामेष्वर ने गुप्त सूचना के आधार पर राकेष उर्फ छोटा पुत्र कृष्ण वासी किर्ती नगर कुरूक्षेत्र को रविदास चैंक गांधी नगर कुरूक्षेत्र पर अवैध रूप से शराब बेचते हुए काबू करके उसके कब्जे से 7 बोतल शराब ठेका देषी बरामद की।

एक अन्य मामले मे थाना शहर थानेसर के एएसआई लाभ सिह ने गुप्त सूचना के आधार पर नीरज पुत्र राम भरेसे वासी पटियाला बैंक कालोनी कुरूक्षेत्र को सुभाष मण्डी कुरूक्षेत्र पर अवैध रूप से शराब बेचते हुए काबू करके उसके कब्जे से 12 बोतल शराब ठेका देषी बरामद की।

एक अन्य मामले मे थाना शहर थानेसर के एएसआई जय कर्ण ने गुप्त सूचना के आधार पर जसबीर सिंह पुत्र अजमेर सिंह वासी जोगी माजरा को गांधी नगर कुरूक्षेत्र पर अवैध रूप से शराब बेचते हुए काबू करके उसके कब्जे से 6 बोतल शराब ठेका देषी बरामद की।

एक अन्य मामले मे थाना शहर थानेसर के एसआई सुभाष चन्द ने गुप्त सूचना के आधार पर पकंज पुत्र राम बहादुर वासी ब्रहमा कालोनी थानेसर को सौरगिर बस्ती कुरूक्षेत्र पर अवैध रूप से शराब बेचते हुए काबू करके उसके कब्जे से 13 बोतल शराब ठेका देषी बरामद की।

एक अन्य मामले मे थाना शहर थानेसर के हवलदार राममेहर ने गुप्त सूचना के आधार पर सुरेन्द्र कुमार पुत्र मुन्षी राम वासी चक्रवर्ती मोहल्ला को आहुवालिया चैंक कुरूक्षेत्र पर अवैध रूप से शराब बेचते हुए काबू करके उसके कब्जे से 24 बोतल शराब ठेका देषी बरामद की।

एक अन्य मामले मे थाना सदर थानेसर के एएसआई जय कुमार ने गुप्त सूचना के आधार पर राजेन्द्र कुमार पुत्र रतना राम वासी देवीदासपुरा कुरूक्षेत्र को गांव देवीदास पुरा मे अवैध रूप से शराब बेचते हुए काबू करके उसके कब्जे से 8 बोतल शराब ठेका देषी बरामद की।

सटटाखाईवाली करते हुए तीन आरोपियो के विरूध जुआ अधिनियम के तहत मामला दर्ज करके गिरफतार



कुरूक्षेत्र,अनिल धीमान :-जिला पुलिस कुरूक्षेत्र ने जगह सरेआम सटटाखाईवाली करने के आरोप मे किया तीन अरोपी सुरेन्द्र सिहं उर्फ गोलू पुत्र गुरचरण सिहं वासी गांधी नगर कुरूक्षेत्र, प्रेम धीमान पुत्र राम सवरूप वासी झांसा रोड थानेसर और हरीष पुत्र गणेष वासी डेहा बस्ती शाहबाद को गिरफतार करके उनके कब्जे से 6200 रूपये बरामद करने मे सफलता हासिल की है। यह जानकारी पुलिस प्रवक्ता मनजीत पंाचाल ने दी।

इस बारे मे जानकारी देते हुए पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि गत दिवस थाना शहर थानेसर के एसआई रधुबीर सिहं ने गुप्त सूचना के आधार पर सुरेन्द्र सिहं उर्फ गोलू पुत्र गुरचरण सिहं वासी गांधी नगर कुरूक्षेत्र को जगह सरेआम गली न0 2 गांधी नगर कुरूक्षेत्र पर सटटाखाईवाली करते हुए काबू करके उसके कब्जे से 1800 रूपये बरामद किये।

एक अन्य मामले मे थाना शहर थानेसर के एसआई राज कुमार ने गुप्त सूचना के आधार पर प्रेम धीमान पुत्र राम सवरूप वासी झांसा रोड थानेसर को जगह सरेआम गांधी नगर कुरूक्षेत्र पर सटटाखाईवाली करते हुए काबू करके उसके कब्जे से 1100 रूपये बरामद किये।

एक अन्य मामले मे थाना शाहबाद के हवलदार दीपक कुमार ने गुप्त सूचना के आधार पर और हरीष पुत्र गणेष वासी डेहा बस्ती शाहबाद को जगह सरेआम नजदीक डेहा बस्ती शाहबाद पर सटटााखाईवाली करते हुए काबू करके उसके कब्जे से 2300 रूपये बरामद किये। पुलिस ने  सभी आरोपियो के विरूध जुआ अधिनियम के तहत मामला दर्ज करके गिरफतार कर लिया है। जांच जारी है।


अखिल भारतीय संस्कृति महोत्सव के दूसरे दिन ‘संस्कृति वार्ता’ का आयोजन।



















कुरुक्षेत्र, वैद्य पण्डित प्रमोद कौशिक :- विद्या भारती संस्कृति शिक्षा संस्थान द्वारा अखिल भारतीय संस्कृति महोत्सव के दूसरे दिन सांयकालीन सत्र में ‘संस्कृति वार्ता’ का आयोजन किया गया। इस अवसर पर मुख्यातिथि ‘देवपुत्र’ बाल मासिक पत्रिका इंदौर के संपादक डॉ. विकास दवे मुख्यातिथि थे। विशिष्ट अतिथि के रूप में सांस्कृतिक स्रोत एवं प्रशिक्षण संस्थान नई दिल्ली के निदेशक ऋषिराज वशिष्ठ थे जबकि कार्यक्रम की अध्यक्षता सीबीएसई के क्षेत्रीय अधिकारी करनैल सिंह ने की। कार्यक्रम संयोजक एवं विद्या भारती संस्कृति शिक्षा संस्थान के निदेशक डॉ. रामेन्द्र सिंह ने अतिथियों का परिचय कराया एवं उनका स्वागत किया। इस अवसर पर संस्थान के अध्यक्ष डॉ. ललित बिहारी गोस्वामी, संगठन सचिव श्रीराम आरावकर, सचिव अवनीश भटनागर, सह सचिव वासुदेव प्रजापति, कोषाध्यक्ष पंकज शर्मा, संस्कृति बोध परियोजना के संयोजक दुर्ग सिंह राजपुरोहित, संस्थान के शोध निदेशक डॉ. हिम्मत सिंह सिन्हा भी उपस्थित रहे।

कार्यक्रम की प्रस्तावना रखते हुए संस्थान के सचिव अवनीश भटनागर ने कहा कि प्रश्न मंच, पत्रवाचन जैसी प्रतियोगिताएं संस्कृति के विभिन्न स्वरूपों को वर्णित करने वाले प्रकार हैं। इसके अलावा संस्थान द्वारा विभिन्न स्थानों पर और भी कई प्रकार के प्रकल्प चलाए जाते हैं जिनमें गीत गायन, कथा-कथन, भाषण प्रतियोगिता विभिन्न प्रकार के साहित्य, संगीत और कला से जुड़े हुए विषय भी संस्कृति को ही प्रदर्शित करते हैं क्योंकि उनमें एक विशेष विचारधारा के साथ, भारत के मूल विचार के साथ जुड़कर हम अपनी बातों को समाज के सामने प्रस्तुत करते हैं। न केवल उनके सामने रखते हैं बल्कि वह हमारे भी जीवन में अपने आप प्रवेश करती जाती है और इसलिए गलत मार्ग पर जाने से रोकने की दिशा दिखाने वाला यह तत्व संस्कृति है। उन्होंने कहा कि संस्कृति महोत्सव के माध्यम से हम सबके जीवन में श्रद्धा और गौरव का भाव कैसे उत्पन्न होता है इसलिए महोत्सव का आयोजन किया जाता है।

इस अवसर पर मुख्य वक्ता डॉ. विकास दवे ने कहा कि सभ्यताएं मिट जाती हैं लेकिन संस्कृति बनी रहती है। संस्कृति बदलती नहीं है अक्षुण्ण है, सदैव रहने वाली है। संस्कृति मूल तत्व है जो कभी नहीं बदलता। उन्होंने कहा कि संस्कृति एक दिन में निर्मित नहीं होती, पगडंडी की तरह चलती रहती है। जब हम एक समान रूप से किसी कार्य को करते हैं तो संस्कृति का निर्माण होने लगता है। डॉ. दवे ने कहा कि पूरे विश्व में भारत अपनी संस्कृति और परंपरा के लिये प्रसिद्ध देश है। ये विभिन्न संस्कृति और परंपरा की भूमि है। भारत विश्व की सबसे पुरानी सभ्यता का देश है। भारतीय संस्कृति का महत्वपूर्ण तत्व अच्छे शिष्टाचार, सभ्य संवाद, धार्मिक संस्कार, मान्यताएं और मूल्य आदि हैं। अब जबकि हरेक की जीवन शैली आधुनिक हो रही है, भारतीय लोग आज भी अपनी परंपरा और मूल्यों को बनाए हुए हैं। विभिन्न संस्कृति और परंपरा के लोगों के बीच की घनिष्ठता ने एक अनोखा देश भारत बनाया है। उन्होंने कहा कि हम अपनी संस्कृति का बहुत सम्मान और आदर करते हैं। संस्कृति सब कुछ है जैसे दूसरों के साथ व्यवहार करने का तरीका, विचार, प्रथा जिसका हम अनुसरण करते हैं। कला, हस्तशिल्प, धर्म, खाने की आदत, त्योहार, मेले, संगीत और नृत्य आदि सभी संस्कृति का हिस्सा हैं।

विशिष्ट अतिथि ऋषि वशिष्ठ ने कहा कि संस्कृति किसी भी देश, जाति और समुदाय की आत्मा होती है। संस्कृति से ही देश, जाति या समुदाय के उन समस्त संस्कारों का बोध होता है जिनके सहारे वह अपने आदर्शों, जीवन मूल्यों आदि का निर्धारण करता है। उन्होंने कहा कि संस्कृति का सीधा सम्बन्ध संस्कारों से है। संस्कार जो व्यक्ति अपने परिवार, समाज, जाति अथवा अपने समूह से विरासत के रूप में पीढ़ी दर पीढ़ी प्राप्त करता है, उसके आंतरिक व्यक्तित्व, गुण, आचार-विचार और सहज स्वभाव में परिलक्षित होते हैं। कार्यक्रम के अंत में आभार अभिव्यक्ति संस्थान के सह सचिव वासुदेव प्रजापति ने की।

संस्कृति वार्ता को संबोधित करते ‘देवपुत्र’ बाल मासिक पत्रिका इंदौर के संपादक डॉ.विकास दवे एवं उपस्थिति।

मौलिक कर्तव्य जागरूकता अभियान का आयोजन, प्रतियोगिता में विद्यालय के विद्यार्थियों ने लिया बढ़-चढ़ कर भाग






कुरुक्षेत्र, वैद्य पण्डित प्रमोद कौशिक:-  जवाहर नवोदय विद्यालय निवारसी के प्रांगण में मौलिक कर्तव्य जागरूकता अभियान का आयोजन किया गया। इस कार्य कार्यक्रम में जिला विधि सेवा प्राधिकरण कुरुक्षेत्र द्वारा कर्तव्य-निभाना है विषय पर विद्यालय में कोलाज-प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इस प्रतियोगिता में विद्यालय के विद्यार्थियों ने बढ़-चढ़ कर भाग लिया। इस कार्यक्रम में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की तरफ से अधिवक्ता दिव्या, वैभव शर्मा, पीएलवी अरविन्द, विद्यालय की प्राचार्या व अन्य अध्यापको द्वारा प्रतियोगिता का निरीक्षण किया गया औश्र प्रथम, द्वितीय और तृतीय स्थान के लिए प्रतिभागियों का चयन किया। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के पदाधिकारियों के द्वारा विजेता प्रतिभागियों में कक्षा नौवीं की गरिमा को प्रथम, कक्षा नौवीं की महेश्वरी को द्वितीय और कक्षा सातवीं की मुस्कान को तृतीय स्थान प्राप्त करने पर प्रमाण-पत्र देकर प्रोत्साहित किया। एडवोकेट दिव्या ने भारतीय संविधान द्वारा निर्धारित मौलिक कर्तव्यों के बारे में छात्रों के साथ चर्चा की और कर्तव्यों के बारे में विस्तारपूर्वक बताया। विद्यालय की प्राचार्या अमर कौर सांगवान ने भी विद्यार्थियों से मौलिक कर्तव्यों के पालन का आह्वान किया और देश, समाज, प्रकृति एवं प्राणी जगत के प्रति पूर्ण निष्ठा के साथ अपने कर्तव्यों को पूरा करने की सलाह दी।

भगवान श्री राम भक्त वीर हनुमान महाभारत युद्ध में श्री कृष्ण और अर्जुन के रथ पर ध्वजवाहक हैं : ब्रह्मचारी।



जयराम विद्यापीठ में गीता जयंती के लिए हनुमत ध्वजोरोहणसे पूर्व पूजा अर्चना करते हुए तथा ध्वजारोहण करते हुए भारत साधु समाज के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व  जयराम संस्थाओं के परमाध्यक्ष ब्रह्मस्वरुप ब्रह्मचारी व अन्य।


कुरुक्षेत्र की धरती पर भगवान श्री कृष्ण के मुखारविंद से गीता के संदेश के साक्षी हैं वीर हनुमान : ब्रह्मचारी। 
श्री जयराम विद्यापीठ में भी गीता जयंती का ध्वज वीर हनुमान ने है थामा : ब्रह्मचारी। 
विधिवत मंत्रोच्चारण के साथ हुआ गीता जंयती महोत्सव कार्यक्रमों के लिए श्री हनुमत ध्वजारोहण। 
विद्यापीठ में संकटमोचन श्री रामभक्त हनुमान के गुणगान से हुआ गीता जंयती महोत्सव का आगाज।

कुरुक्षेत्र वैद्य पण्डित प्रमोद कौशिक /अनिल धीमान  :- इस सृष्टि में कोई भी मंगल एवं महान कार्य वीर हनुमान के बिना सम्पन्न नहीं किया जा सकता है। महाभारत के युद्ध में भगवान श्री कृष्ण और अर्जुन के रथ का ध्वज भी भगवान श्री राम भक्त वीर हनुमान के हाथ में ही था। रावण पर भगवान श्री राम की विजय में भी वीर हनुमान का श्रेय था। यह विचार व्यक्त करते हुए भारत साधु समाज के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं देशभर में फैली जयराम संस्थाओं के परमाध्यक्ष ब्रह्मस्वरुप ब्रह्मचारी ने बताया कि 30 सालों से हरवर्ष गीता जयंती महोत्सव के कार्यक्रमों से पहले विद्यापीठ में भूमिपूजन के उपरांत विधिवत मंत्रोच्चारण के साथ श्री हनुमत ध्वजारोहण किया जाता है। गीता जयंती महोत्सव 2019 के लिए भी शनिवार को ब्रह्मसरोवर के तट पर श्री जयराम विद्यापीठ परिसर में संत महापुरुषों के सान्निध्य में विद्वान-ब्राह्मणों तथा ब्रह्मचारियों द्वारा भगवान श्री रामभक्त वीर हनुमान का गुणगान करते हुए श्री हनुमत ध्वजारोहण किया। परमाध्यक्ष ब्रह्मस्वरुप ब्रह्मचारी ने विद्यापीठ गुरुओं परंपरा के अनुसार ध्वजारोहण कर विधिवत मंत्रोच्चारण के साथ महोत्सव का शुभारंभ किया। गीता जंयती के ध्वजारोहण के साथ ही आज से विद्यापीठ में आयोजित होने वाले सभी धार्मिक व सामाजिक कार्यक्रमों का भी शुभारंभ किया गया। विद्यापीठ में ध्वजारोहण से पूर्व ब्रह्मस्वरुप ब्रह्मचारी के सानिध्य में सभी ट्रस्टियों, ब्रह्मचारियों तथा जयराम संस्थाओं के प्रतिनिधियों द्वारा मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्री राम के परम भक्त वीर हनुमान का मंत्रोच्चारण करते हुए आह्वान कर विधिवत पूजन किया गया और उसके उपरांत जयराम विद्यापीठ द्वारा भगवान श्री कृष्ण के श्री मुख से उत्पन्न हुई पावन श्री गीता के जन्मोत्सव पर आयोजित होने वाले कार्यक्रमों को श्रद्धापूर्वक किए जाने का संकल्प लिया गया। इसके उपरांत विधिवत संकट मोचन श्री हनुमान के यज्ञ के साथ प्रसाद वितरित किया गया। ब्रह्मस्वरुप ब्रह्मचारी ने बताया कि संकटमोचन हनुमान से निर्विघ्न गीता जयंती महोसव के आयोजनों की कामना की गई। उन्होंने बताया कि विद्यापीठ में 30 वर्षों से पावन गीता के जन्मोत्सव अवसर पर अनेकों कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है। विद्यापीठ का उद्देश्य भगवान श्री कृष्ण के कर्म के संदेश को भारतवर्ष में ही नहीं विश्व के सभी घरों में पंहुचाना है। उन्होंने कहा कि आज अगर समाज के युवा वर्ग गीता के संदेश को अपने जीवन में अपना लें, तो समाज की करीब-करीब सभी बुराईयां अपने-आप ही समाप्त हो जाऐंगी। भगवान श्री कृष्ण ने गीता का संदेश केवल अर्जुन को ही नहीं बल्कि अर्जुन के माध्यम से पूरी सृष्टि के सभी प्राणियों को दिया था। ब्रह्मचारी ने बताया कि गीता जंयती महोत्सव के अवसर पर देश-विदेश के विभिन्न क्षेत्रों से भारी संख्या में लोगों के साथ-साथ अनेकों संत महापुरुष तथा समाज की अनेकों प्रख्यात हस्तियां पहुंचती हैं। उन्होंने बताया कि हरवर्ष की भांति इस वर्ष भी गीता जयंती महोत्सव 2019 के अवसर पर 2 दिसम्बर से 8 दिसम्बर तक संगीतमयी श्री मद भागवत कथा का आयोजन होगा। यह संगीतमयी कथा आधुनिक परिवेश में व्यासपीठ से कथाव्यास भागवत भास्कर आचार्य श्याम भाई ठाकर पोरबंदर गुजरात वाले कहेंगे। उन्होंने बताया कि विद्यापीठ में गरीब परिवारों की कन्याओं का सामूहिक विवाह समारोह 6 दिसम्बर को आयोजित होगा। इस मौके पर हरियाणा के राज्यपाल नवदम्पतियों को आशीर्वाद देंगे। ब्रह्मचारी ने बताया इसी के साथ 2 दिसम्बर से 8 दिसम्बर तक विद्वान ब्राह्मणों द्वारा गीता यज्ञ किया जायेगा। पिछले करीब दो दशकों से विद्यापीठ में आयोजित की जाने वाली राज्य स्तरीय अंतरविद्यालय सांस्कृतिक प्रतियोगिताएं 2 दिसम्बर से 5 दिसम्बर तक होंगी। जिसमें राज्य के विभिन्न शहरों से करीब तीन हजार बच्चे सांस्कृतिक कार्यक्रमों में अपनी प्रतिभा दिखाएंगे। ब्रह्मचारी ने बताया कि हरवर्ष की भांति इस वर्ष भी देश के विख्यात कवियों की मौजूदगी में हास्य कवि सम्मेलन 6 दिसम्बर को होगा। ब्रह्मचारी ने बताया कि गीता जयंती के समापन पर कुरुक्षेत्र विकास बोर्ड, नगर की सामाजिक एवं धार्मिक संस्थाओं के सहयोग से 8 दिसम्बर को भव्य एवं विशाल शोभा यात्रा नगर में निकाली जाएगी। इस अवसर पर भागवत कथा यजमान नरेला से नरेन्द्र कृष्ण शर्मा, सुनीता शर्मा, अनीता शर्मा, आकाश शर्मा, नितिन शर्मा, अवधूत आश्रम के संत परमहंस ज्ञानेश्वर, सेवा निवृत आयुक्त टी के शर्मा,षड्दर्शन साधु समाज हरियाणा के प्रेस सचिव वैद्य पण्डित प्रमोद कौशिक,डिस्कवरी टाइम्स के सम्पादक अनिल धीमान, सफीदों से संजय गर्ग, सुशील जैन, राकेश गुप्ता, पवन गर्ग, राजेंद्र सिंघल, के के कौशिक, श्रवण गुप्ता, कुलवन्त सैनी, टेक सिंह लौहार माजरा, खरैती लाल सिंगला, आर सी रंगा, हरि राम, डा. महावीर सिंह गुड्डू, जे डी भारद्वाज, संतोष कोकिला, लक्ष्मीकांत शर्मा, पृथ्वी सिंह तुर्क, दर्शन खन्ना, राजेश सिंगला, डी के गुप्ता, ईश्वर गुप्ता, सुरेंद्र गुप्ता, सुभाष गुप्ता, अनिल कुमार, सुनील गुप्ता, के के गर्ग, संजीव गर्ग, अशोक गर्ग, राजेन्द्र सिंगला, सुरेश गुप्ता,  संजय गोयल, प्रवेश राणा, यशपाल राणा, जयराम शिक्षण संस्थान के निदेशक एस एन गुप्ता, जयराम पब्लिक स्कूल की प्राचार्या अंजू अग्रवाल, जयराम बी एड कालेज की प्राचार्या प्रतिभा श्योकंद, जयराम महिला महाविद्यालय की प्राचार्या पूनम चौधरी, महिला मंडल की संगीता शर्मा व संतोष यादव, रणबीर भारद्वाज, राजेश लेखवार शास्त्री, सतबीर कौशिक, रोहित कौशिक इत्यादि भी मौजूद थे। 


इग्नू क्षेत्रीय कार्यालय करनाल के अंतर्गत बनाये गए 26 परीक्षा केंद्र, जयराम महिला बी एड कालेज को बनाया गया इग्नू का केंद्र।




वैद्य पण्डित प्रमोद कौशिक 

इग्नू क्षेत्रीय कार्यालय करनाल के अंतर्गत बनाये गए 26 परीक्षा केंद्र। 
2 दिसम्बर से प्रारम्भ होंगी इग्नू परीक्षाएं।
 करनाल के अंतर्गत 29471 विद्यार्थी देंगे परीक्षा।

हरियाणा  कुरुक्षेत्र 30 नवम्बर :- जयराम शिक्षण संस्थाओं के अंतर्गत जयराम महिला बी एड कालेज को इग्नू का परीक्षा केंद्रबनाया गया है। बी एड कालेज परीक्षा केंद्र अधीक्षक डा. प्रतिभा ने बताया कि सुचारु रूप से परीक्षाएं करवाने के लिए सभी तैयारियां पूर्ण कर ली गई हैं। इग्नू क्षेत्रीय केंद्र करनाल की क्षेत्रीय निदेशक डा. पूनम कुमारी सिंह ने भी जानकारी देते हुए बताया कि इग्नू की परीक्षाएं पूरे भारत वर्ष में 2 दिसम्बर से प्रारम्भ हो रही हैं जो 3 जनवरी 2020 तक चलेंगी। इग्नू के कुल 825 परीक्षा केंद्र स्थापित किये गए हैं जिनमें से 16 परीक्षा केंद्र विदेश में तथा 107 परीक्षा केंद्र विभिन्न जेलों में स्थापित किये गए हैं। सहायक क्षेत्रीय निदेशक धर्मपाल सिंह ने बताया कि हरियाणा में इग्नू द्वारा कुल 26 परीक्षा केंद्र स्थापित किये गए हैं। इन में से 8 परीक्षा केंद्र हरियाणा की जेलों में स्थापित किये गए हैं। 

जयराम शिक्षण संस्थाओं के अंतर्गत महाविद्यालय। 

( छाया- सुकान्त पण्डित )

सैक्टर 16 पंचकूला में दैनिक भास्कर द्वारा रक्तदान शिविर आयोजित।




 वैद्य पण्डित प्रमोद कौशिक 

"रक्त दान - महा दान": डिम्पल गर्ग।
उड़ान महिला मंच की उपस्थिति सराहनीय ।

हरियाणा  पंचकूला 30 नवम्बर  :- आज देनिक भास्कर पार्किंग एरिया सैक्टर 16 पंचकूला में  रक्त दान शिविर का आयोजन किया गया उडान महिला मंच  की चेयरपर्सन डिंपल गर्ग ने बताया कि इस शिविर का आयोजन दैनिक भास्कर के वरिष्ठ पत्रकार संजीव रामपाल ओर विश्वास फ़ाउंडेशन के सोजनय से आयोजित किया गया मिडिया प्रभारी सोनिया मनचंदा के अनुसार रक्त दान का जीवन में बहुत महत्व है
वक़्त का हर क्षण ओर रक्त का हर कन्न आमूलय है  रक्त दान जीवन का उपहार है। ऊडान महिला मंच ने इस शिविर  में  विशेष उपस्थिति दर्ज की सभी ने इस प्रयास कि प्रशंसा की इस तरह कार्यक्रम  देश के विकास मे सहायक सिद्ध  होते हैं।
( छाया- सोनिया मनचंदा)

जिला स्तरीय वालीवाँल प्रतियोगिता कुरुक्षेत्र,महिला व पुरूष दिनाँक 01/12/2019 को साई सैन्टर,कुरूक्षेत्र मे आयोजित


जिला वालीवाँल संघ कुरूक्षेत्र के सचिव राज सिंह जी ने फोन से बताया कि जिला स्तरीय वालीवाँल प्रतियोगिता  कुरुक्षेत्र,महिला व पुरूष दिनाँक 01/12/2019 को साई सैन्टर,कुरूक्षेत्र मे आयोजित करवाई  जाऐगी आप सभी जिला कुरुक्षेत्र से  वालीवाँल खिलाड़ियों को सूचनार्थ हेतू प्रेषित है सभी टीमे सुबेह 09:00 बजे तक प्रतियोगिता कोडीनेटर कपिल चौहान ओर कोच शिव कुमार को रिपोर्ट करे ताकि समय पर प्रतियोगिता को पुरा किया जा सके । सचिव राज सिंह जी

पशुपतिनाथ दर्शन से मिलती है पशु योनि से मुक्ति व गंगा सागर स्नान से मिलता है बार बार जन्म मृत्यु से छुटकारा।





तो चलो फिर दोनों के दर्शन कर इस धरती पर अपने जन्म को सार्थक  करे।

कुरुक्षेत्र,वैद्य पण्डित प्रमोद कौशिक :- धर्मनगरी कुरुक्षेत्र से आरामदायक तीर्थ यात्रा बस तीर्थो के दर्शन के लिए जा रही है जिसका  प्रस्थान   20 दिसम्बर को होगा  व वापसी 9 जनवरी 2020 को होगी। आरामदायक तीर्थ यात्रा बस द्वारा नैमिषारण्य, गोरखपुर, पशुपतिनाथ काठमांडू, बुड्डानीलकण्ठ, गुह्येश्वरी सिद्ध शक्ति पीठ, नेपाल,जनकपुरी,राजा जनक का महल,पटना साहिब गुरुद्वारा, गया जी, बौद्ध गया,जहाँ महात्मा बौद्ध को ज्ञान प्राप्त हुआ,बैद्यनाथ धाम  ज्योतिर्लिंग ,कलकत्ता काली मन्दिर, गंगासागर,भुवनेश्वर लिंगराज महादेव, कोणार्क सूर्य मन्दिर, जगन्नाथपुरी, चित्रकूट धाम, काशी विश्वनाथ ज्योतिर्लिंग, प्रयागराज त्रिवेणी संगम स्नान,मथुरा,वृंदावन इत्यादि तीर्थो के दर्शन मात्र 14,000 में , प्रातः चाय, दो समय का सादा भोजन सहित।
बुकिंग शुरू आज ही पंजीकरण कराए, संपर्क करे।

वैद्य  पण्डित  प्रमोद कौशिक  कार्यालय :- सम्मुख दुःखभंजन महादेव मन्दिर  दुःखभंजन  कालोनी गली नम्बर  6  कुरुक्षेत्र  हरियाणा  दूरभाष :- 94161-91877 व  72066-17999

सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र का किया औचक निरीक्षण,पिहोवा हल्के के 70 युवाओं का चयन-संदीप


कुरुक्षेत्र, वैद्य पण्डित प्रमोद कौशिक  :-हरियाणा के खेल एवं युवा कार्यक्रम मंत्री संदीप सिंह ने कहा कि हरियाणा प्रदेश में पिहोवा ऐसा हल्का है जहां देश की जानी-मानी निजी कम्पनियों ने आकर रोजगार मेला लगाया और इस मेले में 70 युवाओं को नौकरियां मुहैया करवाई। इतना ही नहीं इस हल्के में नियमित रुप से निजी कम्पनियों को आमंत्रित किया जाएगा और युवाओं को रोजगार के अवसर मुहैया करवाए जाएंगे, लेकिन इसके लिए युवाओं को खूब पढऩा होगा। इसके साथ ही खेल मंत्री ने झांसा सामुदायिक केन्द्र का औचक निरीक्षण कर गैर हाजिर कर्मचारियों के खिलाफ जांच के आदेश जारी किए है।

खेलमंत्री संदीप सिंह शुक्रवार को धनीराम पुरा, अरुणाय, सैंसा, इस्माईलाबाद, बीबीपुर, मुर्तजापुर, लाडवा फार्म, चुनिया फार्म सहित अन्य गांवों का धन्यवादी दौरा करने के दौरान सभाओं को सम्बोधित कर रहे थे। इससे पहले खेलमंत्री संदीप सिंह ने गांव झांसा के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र का औचक निरीक्षण किया। इस निरीक्षण के दौरान खेल मंत्री ने सामुदायिक केन्द्र के एक-एक कक्ष का मुआयना करने के दौरान अलग-अलग कर्मचारियों के लिए लगाए गए हाजिरी रजिस्टर को चैक किया और इस हाजिरी रजिस्टर के रिकार्ड भी तलब किए। इतना ही नहीं अलग-अलग हाजिरी रजिस्टर चैक करने के बाद सभी गैर हाजिर कर्मचारियों के खिलाफ जांच के आदेश दिए है। इस जांच के दौरान जो भी कर्मचारी दोषी पाया जाएगा, उसके खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई करने के भी आदेश दिए है। इस हल्के में प्रत्येक अधिकारी और कर्मचारी को मेहनत और ईमानदारी के साथ अपनी डयूटी का निर्वाह करना होगा, जो भी डयूटी से गैर हाजिर रहेगा और लापरवाही बरतेगा, उसको किसी भी सूरत में बख्शा नहीं जाएगा। 

खेलमंत्री का सभी गांवों में जोरदार स्वागत किया गया। लोगों के इस उत्साह को दौगुना करते हुए खेल मंत्री संदीप सिंह ने गांव झांसा में गुरुद्वारा के लिए लंगर हाल का निर्माण, खेल स्टेडियम बनाने, अनाज मंडी का कार्य पूरा करवाने, लड़कियों का कालेज व आईटीआई  बनवाने, सीएससी स्टाफ व मशीनरी पूरा करने, सीवरेज का प्रबंध करने, गोगपुर रोड़ पर सामुदायिक हाल का निर्माण करने जैसी मांगों को पूरा करने का आश्वासन देते हुए कहा कि यह सभी कार्य वरियता के हिसाब से एक-एक करके पूरे किए जाएंगे। यह मांग पत्र जिला परिषद के सदस्य सुरेन्द्र माजरी ने ग्राम पंचायत की तरफ से दिया था। खेल मंत्री ने कहा कि इस हल्का में 42 हजार लोगों ने वोट देकर विधानसभा में पहुंचाने का काम किया, लेकिन इस हल्के में एक-एक व्यक्ति अब उनके परिवार का सदस्य है। इस हल्का में बिना किसी रजिंश और भेदभाव के विकास कार्य करवाएं जाएंगे। इतना ही नहीं लोगों को अपने जहन में यह बात भी नहीं रखनी की उनके साथ घुमने वाले व्यक्ति उनके खास है, इस हल्के का एक-एक व्यक्ति उनका खास है। इसलिए सभी का मान सम्मान किया जाएगा और घर बैठे लोगों तक के काम करवाने का लक्ष्य लेकर आगे बढ़ेंगे।

उन्होंने कहा कि उन्होंने कहा कि पिहोवा हल्के का एक-एक व्यक्ति उनके लिए सम्मानीय है। इसलिए इस हल्के का प्रत्येक नागरिक उनका खास है और सभी के प्रयासों से पिहोवा हल्के को विकास की राह पर तेजी के साथ आगे लेकर जाना है। इसके लिए हल्के में पिछले साल से ज्यादा अनुदान राशि विकास कार्यो पर खर्च की जाएगी। इस हल्के में योजना के अनुसार विकास कार्य किए जाएंगे। इसके साथ-साथ शिक्षा और खेलों पर विशेष फोकस रखा जाएगा। इस मौके पर सरपंच मीनू मल, समाज सेवी पुनित मल, पृथ्वी पाल सिंह, बाबू राम सैनी, सुभाष शर्मा भूस्तला, पिपली सरपंच दिलेर, निशान सिंह झांसा, विनोद पाल, मनोहर लाल, मनोज कुमार, मंडल अध्यक्ष गुलशन पूरी, मंडल महामंत्री जिंदरपाल शर्मा, चिंरजवी गर्ग, धर्मपाल पपनेजा, अमित बंसल, सुबेह सिंह गिल, भाग सिंह, नसीब सिंह, परमजीत सिंह, कुलजीत सिंह, सरपंच इस्माईलाबाद संजीव अरोड़ा, सरपंच  गोरखा गुरनाम सिंह, मनदीप विर्क, सरपंच रामपाल माजरी, रसपंच सत्यवान तंगौली, अनिल कुमार सरपंच खेड़ी शहीदां, प्रदीप शर्मा, सुखविन्द्र सिंह, राम चंद्र सैनी, जगीर सिंह, जितेन्द्र मोती, खेम चंद, पिरथी राम आदि उपस्थित थे।

जयराम विद्यापीठ में आज शनिवार को होगा गीता जयंती महोत्सव 2019 के लिए ध्वजारोहण।



भगवान श्री राम भक्त हनुमान बनेंगे गीता जयंती महोत्सव 2019 के साक्षी एवं विघ्नहर्ता । 
तीन दशक से जयराम विद्यापीठ में गीता जयंती महोत्सव पर होते हैं भव्य आयोजन।  
ध्वजारोहण में शामिल होंगे संत महापुरुष तथा भारी संख्या में श्रद्धालु ।

कुरुक्षेत्र ,वैद्य पण्डित प्रमोद कौशिक : - भारत साधु समाज के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष तथा जयराम संस्थाओं के परमाध्यक्ष ब्रह्मस्वरुप ब्रह्मचारी के सान्निध्य में ब्रह्मसरोवर के तट पर श्री जयराम विद्यापीठ परिसर में भगवान श्री कृष्ण के श्री मुख से उत्पन्न हुई पावन श्री गीता के जन्मोत्सव अवसर पर विधिवत मंत्रोच्चारण के साथ गीता जयंती महोत्सव 2019 का शुभारम्भ हो चूका है। इसके लिए भगवान श्री रामभक्त हनुमान का आह्वान कर भूमि पूजन भी किया जा चुका है और विद्यापीठ की भव्य सजावट की गई है। परमाध्यक्ष ब्रह्मस्वरुप ब्रह्मचारी ने बताया कि उनके परम पूज्य गुरुदेव ब्रह्मलीन प्रात: स्मरणीय देवेंद्र स्वरूप ब्रह्मचारी की प्रेरणा से पिछले तीन दशक से हरवर्ष की भांति इस वर्ष भी गीता जयंती महोत्सव 2019 का शुभारम्भ हो चुका है। आज कुरुक्षेत्र की पहचान में भी जयराम विद्यापीठ का विशेष योगदान है। परमाध्यक्ष ब्रह्मस्वरुप ब्रह्मचारी ने इसी के साथ बताया कि हरवर्ष की भांति भगवान श्री राम के प्रिय भक्त वीर हनुमान की कृपा से हनुमत ध्वजारोहण 30 नवम्बर को होगा। उन्होंने बताया कि वीर हनुमान महाभारत के युद्ध में भगवान श्री कृष्ण तथा अर्जुन के रथ पर हाथ ध्वज लेकर साक्षी बने थे, उसी प्रकार हरवर्ष गीता जयंती महोत्सव पर श्री हनुमत ध्वजारोहण के साथ रामभक्त हनुमान गीता जयंती महोत्सव के साक्षी होने के साथ विघ्नहर्ता होते हैं। 

ब्रह्मचारी ने बताया 2 दिसम्बर को हरवर्ष की भांति गीता जयंती महोत्सव शुभारम्भ से पूर्व गुरु परम्परा के अनुसार मंदिरों की वार्षिक मूर्ति प्राण प्रतिष्ठा उत्सव एवं विधिवत पूजन होगा। उन्होंने बताया 2 से 5 दिसम्बर तक विद्यापीठ में आयोजित की जाने वाली राज्यस्तरीय अंतरविद्यालय सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रतियोगता का भी शुभारम्भ होगा। इन सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रतियोगिताओं में कक्षा 6 वीं से 12 वीं तक के विभिन्न स्कूलों के करीब 3 हजार से अधिक विद्यार्थी अपनी प्रतिभा दिखाएंगे। ब्रह्मचारी ने बताया कि हर वर्ष की भांति इस वर्ष 2 दिसम्बर से 8 दिसम्बर तक संगीतमयी श्री मदभागवत कथा का आयोजन होगा, जिसमें कथाव्यास भागवत भास्कर आचार्य श्याम भाई ठाकर पोरबंदर गुजरात वाले होंगे। ब्रह्मचारी ने बताया कि कथा के शुभारम्भ से पूर्व ब्रह्मसरोवर पर दक्षिणमुखी हनुमान मंदिर से कथास्थल तक भव्य शोभा यात्रा निकाली जाएगी। उन्होंने बताया कि विशाल सामूहिक विवाह समारोह तथा हास्य कवि सम्मेलन 6 दिसम्बर को होगा। 8 दिसम्बर को गीता जयंती समारोह के समापन पर भव्य शोभा यात्रा निकाली जाएगी।
 ब्रह्मचारी ने बताया गीता जयंती के अवसर पर ही 2 से 8 दिसम्बर तक विद्यापीठ परिसर में निशुल्क चिकित्सा शिविर का आयोजन होगा। गीता जयंती के अवसर पर ही 121 ब्रह्मचारियों द्वारा नियमित गीता पाठ तथा गीता यज्ञ होगा। विद्यापीठ में इस अवसर पर सेवानिवृत आयुक्त टी के शर्मा, के के कौशिक, डी के गुप्ता, टेक सिंह लौहार माजरा, श्रवण गुप्ता, कुलवंत सैनी, राजेंद्र सिंघल, ईश्वर गुप्ता, के के गर्ग, सुरेंद्र गुप्ता, राजेश सिंगला, श्री प्रकाश मिश्रा, संजीव गर्ग, प्रवेश राणा, यशपाल राणा, जयराम संस्कृत महाविद्यालय के प्राचार्य रणबीर भारद्वाज, आचार्य राजेश लेखवार शास्त्री, सतबीर कौशिक, रोहित कौशिक, जयपाल शर्मा, मुदित शुक्ला, विनोद कुमार, महिला मंडल की संगीता शर्मा व संतोष यादव इत्यादि मौजूद थे। 


राष्ट्रीय महिला जागृति मंच की फरीदाबाद जिला कार्यकारिणी का हुआ गठन: अम्बिका शर्मा




फरीदाबाद, वैद्य पण्डित प्रमोद कौशिक:- आज  शुक्रवार को राष्ट्रीय महिला जागृति मंच की बैठक का आयोजन हरियाणा  प्रदेश उपाध्यक्ष तरसेम शर्मा  द्वारा सेक्टर 23, फरीदाबाद में किया गया। बैठक का उद्देश्य  फरीदाबाद जिला कार्यकारिणी का गठन किया जाना था। किसी कारण वश जिला अध्यक्ष प्रीति नरुका  बैठक में उपस्थित नही हो पाई।

 हरियाणा उपाध्यक्ष बहन तरसेम शर्मा  संयोजकता में कार्यकारिणी का गठन करते हुए बहन कुसुम शर्मा  को जिला प्रभारी, एडवोकेट ज्योति कपूर  को जिला विधिक सलाहकार, मोनिका गुप्ता  को जिला संयोजक, पूजा नंदा  को जिला महासचिव, मनीषा कोरा  को युवा जिला अध्यक्ष, अनीता तनेजा  को जिला सचिव, सपना  को जिला सचिव नियुक्त किया गया। अम्बिका शर्मा ,  रेनू बाला  व तरसेम शर्मा  ने सभी नवनियुक्त पदाधिकारी बहनों को सम्मानित कर उन्हें  बधाई व शुभकामनाएं दी।

विश्वविद्यालय के लिए गर्व की बात की छात्रों को मिला 28 लाख का पैकेज: कुलपति




कुरुक्षेत्र, नवम्बर वैद्य पण्डित प्रमोद कौशिक :- कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. कैलाश चंद्र शर्मा ने कहा है कि यूआईईटी के  छात्र सुनील दहिया व नमन मित्तल को अमेजन इंडिया  28 लाख  का पैकेज मिला है। कुलपति बुधवार को यूआईईटी संस्थान के निदेशक प्रो. सीसी त्रिपाठी, संस्थान के ट्रेनिंग और प्लेसमेंट अधिकारी डॉ. निखिल मारीवाला व डॉ. संजीव आहूजा तथा दोनों छात्रों को बधाई देते हुए बोल रहे थे।

कुलपति ने कहा की इतनी बड़ी उपलब्धि मिलने पर पूरे विश्वविद्यालय परिवार को दोनों छात्रों पर गर्व करना चाहिए जिन्होंने इतने बड़े पैकेज लेकर विश्वविद्यालय का मान सम्मान बढ़ाया है । उन्होंने संस्थान के ट्रेनिंग और प्लेसमेंट विभाग की सराहना करते हुए कहा कि कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय ट्रेनिंग और प्लेसमेंट के क्षेत्र में निरंतर बड़ी- बड़ी कंपनी के कंपनियों के साथ निरंतर जुड़ा हुआ है। और समय- समय पर विश्वविद्यालय के विद्यार्थी विभिन्न कंपनियों में कैम्पस प्लेसमेंट ड्राइव के अंतर्गत सफ लता अर्जित करते हैं ।

संस्थान के निदेशक प्रोफेसर त्रिपाठी ने बताया कि इतनी बड़ी मात्रा में पैकेज मिलना संस्थान के साथ विश्वविद्यालय के लिए बड़ी खुशी का क्षण है उन्होंने कहां की यूआईईटी संस्थान के 80 विद्यार्थियों ने इस बड़ी चुनौती का सामना करने के लिए रजिस्ट्रेशन करवाया था  जिसमें से पहले राउंड में 13 विद्यार्थियों ने ऑनलाइन परीक्षा को पास किया। इन 13 विद्यार्थियों में से दूसरे राउंड में 4 विद्यार्थी सफल हुए। आखिरी और बड़े चुनौतीपूर्ण राउंड में साक्षात्कार व अन्य स्किल्स की प्रतियोगिता के दौरान अंतिम 2 विद्यार्थियों ने सफलता हासिल की ।

नमन मित्तल के पिता ओम प्रकाश मित्तल हिसार में छोटी सी दुकान चलाते हैं उन्होंने बताया कि उन्हें अपने बेटे पर गर्व है क्योंकि जब भी हम बेटे को किसी भी प्रकार का कोई भी पारिवारिक या सामाजिक कार्यक्रम में प्रतिभागिता के लिए बोलते थे तो वह है अपने आप को अपनी पढ़ाई के प्रति समर्पण के कारण परिवार को भी समय नहीं दे पाता था। कई बार हमें भी फ ीस भरने में कठिनाई आती थी परंतु आज बेटे की पढ़ाई में हमारे सपनों को साकार कर दिया यह बहुत बड़ी बात है ।

वहीं दूसरी ओर सेसरी गाँव सोनीपत के सुनील दहिया के पिता रवींद्र, रोडवेज विभाग मे बैतोर  क्लर्क की नौकरी करते हैं। उन्होंने अपने बेटे की पढ़ाई के लिए तन-मन-धन को बेटे के लिए न्यौछावर कर दिया और इतना बड़े पैकेज की बात सुनकर हृदय से विभाग के ट्रेनिंग और प्लेसमेंट अधिकारी के साथ उनके तमाम शिक्षक व अन्य कर्मचारियों का धन्यवाद करता हूं जिन्होंने समय-समय पर बेटे को अपने कैरियर के प्रति मार्गदर्शन किया ।

संस्थान के ट्रेनिंग और प्लेसमेंट अधिकारी निखिल मारीवाला व डॉ. संजीव आहूजा ने कहा कि हम बहुत सारी कंपनियों के साथ कैम्पस प्लैसमेंट के ड्राइव आयोजित करते हैं परंतु इसमें सबसे ज्यादा चुनौतीपूर्ण वातावरण ऐमेज़ॉन का था। 80 में से दो विद्यार्थियों का चयन होना अपने आप में बड़ा कठिन कार्य था परंतु किसी भी चुनौती को हम सहर्ष स्वीकार करते हैं और विद्यार्थियों को उसे संबंधित वातावरण प्रदान करने के लिए हर समय प्रयासरत रहते हैं। संस्थान के सभी शिक्षक और गैर शिक्षक कर्मचारियों ने उन्हें बधाई दी।

अंतरराष्ट्रीय गीता जयंती बनी अब रोमांच पांच सौ फुट तक पैराग्लाइडर से उड़ने का शुभारम्भ।




कुरुक्षेत्र - वैद्य पण्डित प्रमोद कौशिक : - कुरुक्षेत्र में अंतर्राष्ट्रीय गीता जयंती और भी अधिक रोमांचक हो गई है। इस रोमांच का कारण है पैराशूट पैराग्लाइडर। कुरुक्षेत्र की अनाज मण्डी के निकट कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय के यूआईईटी के निदेशक प्रो. डा. सी सी त्रिपाठी ने पैराग्लाइडर सेवा का शुभारम्भ किया। इस मौके पर्व किड्स प्री स्कूल की निदेशक रीना पंजेटा और फ्लाईंग वर्ल्ड एविएशन की ओर से सुखबीर सिंह ने मुख्यातिथि यूआईईटी के निदेशक प्रो. डा. सी सी त्रिपाठी का स्वागत किया। पैराग्लाइडर सेवा की पहली उड़ान भरने के बाद डा. त्रिपाठी नेबताया कि गीता जयंती के अवसर पर पहली बार पैराग्लाइडर की सुविधा उपलब्ध कराई गई है। उन्होंने कहाकि बहुत उनका अच्छा अनुभव रहा। युवाओं को इस तरह के पैराग्लाइडर के अनुभव लेने चाहियें।

पैराग्लाइडर सेवा के पैरामोटर पायलट नितिन कुमार ने बताया कि गीता जयंती महोत्सव 2019 के लिए वे यहां आये हैं और पैरामोटरिंग सर्विस दे रहे हैं। आज से कुरुक्षेत्र में इस का विधिवत शुभारम्भ हुआ है। उन्होंने बताया कि यह पैराग्लाइडर सेवाअधिकतम 500 फीट तक उड़ान भर सकती है और हाथ में पूरा कंट्रोल रहता है। आयोजक सुखबीर सिंह ने बताया कि यह पावर पैराग्लाइडर है। यह पैराशूट और मोटर के हिसाब से उड़ता है। फ्लाईंग वर्ल्ड एविएशन चरखी दादरी के सहयोग से सार किट्स प्री स्कूल कुरुक्षेत्र ने यह प्रारम्भ किया है। विशेष गीता जयंती पर पैराग्लाइडर पैराशूट की उड़ान करवा रहे हैं। यह उड़ान के लिए बकायदा अम्बाला एयर फ़ोर्स एटीसी तथा कुरुक्षेत्र के उपायुक्त से अनुमति ली गई है। यह उड़ान 10 दिसम्बर तक जारी रहेगी। क़ानूनी सभी औपचारिकताएं पूर्ण की गई हैं। पैराग्लाइडर की यह मशीन इटली से आयात की गई है। भारत में इसके निर्माण की अभी अनुमति नहीं है। कुरुक्षेत्र में पैराग्लाइडर की उड़ान के लिए आया पायलट नितिन कुमार वर्ल्ड चैम्पियनशिप में कांस्य पदक विजेता हैं। नैशनल चैम्पियन में स्वर्ण पदक विजेता हैं। मौके पर उड़ान का आनंद लेने वाले कृष्ण चंद पांडेय ने बताया कि इतनी ऊंचाई पर उड़ना उनका पहला अनुभव है। मुझे बहुत आनंद आया। इस तरह की गतिविधियां होनी चाहियें। इससे आदमी में आत्मविश्वास की भी वृद्धि होती है। आदमी के जीवन में कई तरह के रोमांच होते हैं लेकिन अपनी तरह का अलग रोमांचक अनुभव है। सभी युवाओं को इस तरह के रोमांच का आनंद लेना चाहिए।

कुरुक्षेत्र में गीता जयंती अवसर पर पैराशूट पैराग्लाइडर का शुभारम्भ करते हुए तथा अवलोकन करते हुए तथा कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय के यूआईईटी के निदेशक प्रो. डा. सी सी त्रिपाठी व अन्य।

षड्दर्शन साधु समाज हरियाणा के प्रेस सचिव वैद्य पण्डित प्रमोद कौशिक को निमंत्रण देते कुरुक्षेत्र के विधायक सुभाष सुधा


कुरुक्षेत्र: अंतरराष्ट्रीय गीता जयंती महोत्सव का निमंत्रण षड्दर्शन साधु समाज हरियाणा के 
प्रेस सचिव वैद्य पण्डित प्रमोद कौशिक को  देते कुरुक्षेत्र के विधायक सुभाष सुधा  व  कुरुक्षेत्र 
 विकास बोर्ड के C E O गगनदीप सिंह।

Friday

भाषा और कलाओं का संगम बना भाषा और कलाओं का संगम बना अंतराष्ट्रीय गीता महोत्सव गीता महोत्सव




रूस और बंगलादेश के पर्यटकों ने की क्राफ्ट और सरस मेले में खरीददारी, रूस सैलानियों का नेतृत्व कर रहे मंगलम रूस में चला रहे है रविन्द्र नाथ टैगोर बाल निकेतन, क्राफ्ट और सरस मेले के 6वें दिन पर्यटकों ने की जमकर खरीददारी, पर्यटक ले रहें है लोक कलाओं का आनंद


कुरुक्षेत्र, 28 नवम्बर। भाषा और कलाओं का संगम बना अंतराष्ट्रीय गीता महोत्सव गीता महोत्सव देश के विभिन्न राज्यों की भाषाओं और कलाओं का संगम बन गया है। इस महोत्सव के ब्रह्मïसरोवर तट पर दूर दराज से आने वाले पर्यटक लोक संस्कृति, नृत्य और शिल्पकलाओं का आनंद ले रहे है। इस महोत्सव की शिल्प कला और लोक कला को देखने के लिए रूस और बंगलादेश के सैलानी भी पहुंचें है। 

अंतराष्ट्रीय गीता महोत्सव के 6वें दिन वीरवार को रूस से 15 सैलानियों का एक ग्रुप और बंगलादेश से 7 सैलानियों का एक गु्रप शिल्प और सरस मेले के साथ-साथ महोत्सव का आनंद लेने के लिए पहुंचा। रूस के गु्रप का नेतृत्व मंगलम कर रहे थे, रूस निवासी मंगलम को भगवान श्रीकृष्ण की धरा कुरुक्षेत्र और हिन्दी से खासा लगाव है, इस लगाव के चलते मंगलम ने रूस में रविन्द्र नाथ टैगोर बाल निकेतन के नाम से हिन्दी संस्थान को चला रहे हे। इसके अलावा बंगलादेश के गु्रप का नेतृत्व पुलकराह कर रहे थे। इन विदेशी सैलानियों ने खादी, कश्मीर के शाल और सूट के साथ- साथ अन्य स्टालों से खरीददारी की और मेले का खूब आनंद लिया।
 
अंतराष्ट्रीय गीता महोत्सव में उत्तर क्षेत्र सांस्कृति केन्द्र पटियाला की तरफ से विभिन्न प्रदेशों से लोक कलाकारों ने आज अपने-अपने प्रदेश की लोक संस्कृति को अपने नृत्यों और पारम्परिक वेश भूषा के माध्यम से प्रदर्शित किया। इन कलाकारों ने अपने-अपने देश की भाषा में लोक गीत गाए, इसलिए भाषा और लोक नृत्यों के मिश्रण ने ब्रह्मïसरोवर के तट पर एक अलग छठा बिखरेने का काम किया। इस अनूठे संगम को देखकर प्रत्येक पर्यटक अपने आप को ब्रह्मïसरोवर की तरफ आने से नहीं रोक पा रहा था। इन कलाओं की संगम स्थली को देखने के लिए दूर दराज से पर्यटकों की संख्या में दिन प्रतिदिन ईजाफा हो रहा है।
 
केडीबी के मानद सचिव मदन मोहन छाबडा ने कहा कि देश विदेश से आने वाले सैलानियों के लिए केडीबी की तरफ से हर तरह के पुख्ता इंतजाम किए गए है। केडीबी का प्रयास है कि किसी भी पर्यटक को रत्ती भर भी परेशानी ना आने दी जाए। इस महोत्सव में लगातार पर्यटकों की संख्या में ईजाफा हो रहा है और आने वाले समय में इस महोत्सव में लाखों की संख्या में पर्यटक आनंद लेने के लिए पहुंचेंगे।

Tuesday

कुरुक्षेत्र की पावन धरा से ही भगवान श्री कृष्ण ने कर्म करने का संदेश दिया


कुरुक्षेत्र लाडवा के पूर्व विधायक डा. पवन सैनी  एवं भाजपा प्रदेश महिला मोर्चा की प्रदेश उपाध्यक्ष सोनाली फोगाट ने कहा कि कुरुक्षेत्र की पावन धरा से ही भगवान श्री कृष्ण ने कर्म करने का संदेश दिया। इस संदेश को आज हर मानव को अपने जीवन में धारण करना चाहिए। वे मंगलवार को देर सायं ब्रह्मïसरोवर पुरूषोत्तमपुरा बाग में आयोजित महाआरती में बतौर मुख्यातिथि के रूप में बोल रहे थे। इससे पहले लाडवा के पूर्व विधायक डा. पवन सैनी, भाजपा प्रदेश महिला मोर्चा की प्रदेश उपाध्यक्ष सोनाली फोगाट, शुगफैड के पूर्व चेयरमैन हरपाल चीका,  बीजेपी के जिला अध्यक्ष धर्मबीर मिर्जापुर, केडीबी के सदस्य रविन्द्र सांगवान, अक्षय नन्दा,गुरमेहर विर्क, गुरप्रीत काम्बोज सहित कई गणमान्य व्यक्तियों  ने मंत्रोच्चारण के बीच ब्रह्मïसरोवर की संध्या कालीन महा आरती में भाग लिया और महाआरती से पहले ब्रह्मïसरोवर संध्या कालीन भजन संध्या में भी भाग लिया। पूर्व विधायक डा. पवन सैनी ने कहा कि अंतर्राष्टï्रीय गीता महोत्सव का स्वरूप बडा हो रहा है और लाखों की संख्या में श्रद्घालु शिल्प और सरस मेले को देखने के लिए पहुंच रहे है। भाजपा प्रदेश महिला मोर्चा की प्रदेश उपाध्यक्ष सोनाली फोगाट ने कहा कि अंतर्राष्टï्रीय गीता महोत्सव के भव्य स्वरूप की पहचान पूरे विश्व में बन चुकी है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल के प्रयासों से अंतर्राष्टï्रीय गीता महोत्सव लगातार उच्चाईयों की तरफ अग्रसर है। महाआरती के बाद लाडवा के पूर्व विधायक डा.पवन सैनी तथा भाजपा प्रदेश महिला मोर्चा की प्रदेश उपाध्यक्ष सोनाली फोगाट ने सरस  मेले का भ्रमण भी किया और खरीददारी भी की।

डीएलएसए द्वारा ब्रहमसरोपर के तट पर लगाई जा रही जागरुकता प्रदर्शनी



डीएलएसए द्वारा ब्रहमसरोपर के तट पर लगाई जा रही जागरुकता प्रदर्शनी

कुरुक्षेत्र डीएलएसए द्वारा अंतर्राष्टï्रीय गीता महोत्सव के अवसर पर 23 नवम्बर से लेकर 10 दिसम्बर तक ब्रहम सरोवर के तट सरस मेले में स्टाल नम्बर 56-57 पर एक प्रदर्शनी की स्थापना की गई है। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की सचिव एवं सीजेएम डा. कविता काम्बोज ने कहा कि इस प्रदर्शनी के माध्यम से महोत्सव में आने वाले पर्यटकों व श्रृद्घालुओं को सरकार की स्कीमों, आमजन के अधिकारों, कर्तव्यों, कानूनी पहलुओं इत्यादि की जानकारी दी जा रही है। इस प्रदर्शनी में डीएलएसए द्वारा विभिन्न विभागों जिनमें डीआरओ, सीएससी, बाल कल्याण विभाग, बैंकों, बिजली विभाग व बचपन बचाओ आंदोलन (एनजीओ) की स्कीमों से सम्बन्धित जानकारी देकर जागरुक किया जा रहा है। महोत्सव में आने वाले पर्यटकों को पैनल के अधिवक्ताओं व पीएलवी द्वारा विभिन्न कानूनी पहलुओं पर जानकारी देकर जागरुक किया जा रहा है।

संविधान दिवस के अवसर पर एडीआर सेंटर में हुआ कार्यकम का आयोजन




कुरुक्षेत्र जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की तरफ से संविधान दिवस के अवसर पर मौलिक कर्तव्यों विषय पर एक विशेष संवेदीकरण कार्यक्रम का आयोजन एडीआर सेंटर में किया गया। इस कार्यक्रम में पैनल के अधिवक्ता, पैरा लीगल वालिंटियर और अन्य स्टाफ ने भाग लिया। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की सचिव एवं सीजेएम डा. कविता काम्बोज ने कहा कि इस मौके पर सभी को भारतीय संविधान की विशेषताओं और उसमें निहित मौलिक कर्तव्यों, अधिकारों के बारे में विस्तार से जानकारी प्रदान की गई। इस मौके पर पैनल के अधिवक्ता कुलदीप सिंह अल्यान ने मौलिक कर्तव्य विषय पर जानकारी दी। इसके साथ विभिन्न गांवों मथाना, बीड़ मथाना, अमीन, धुराला, थानेसर में भी डीएलएसए की तरफ से कार्यक्रमों का आयोजन किया गया।

आसमान में छाए बादलों के बीच ब्रहमसरोवर के तटों पर बिखरी भारतीय संस्कृति की महक




डिस्कवरी टाइम्स  कुरुक्षेत्र  (पवन कुमार ) पंजाब, हिमाचल, उत्तराखंड और जम्मू कश्मीर के लोक कलाकारों ने किया पर्यटकों का मनोरंजन, विभिन्न राज्यों की संस्कृति बनी पर्यटकों के आकर्षण का केन्द्र कुरुक्षेत्र ब्रहमसरोवर के पावन तटों पर भारतीय संस्कृति की महक को दूर-दूर तक महसुस किया जा रहा है। इस संस्कृति की महक का एहसास करने के बाद एकाएक शहर और प्रदेश के लोग अंतर्राष्ट्रीय गीता महोत्सव की ओर खिंचे चले आ रहे है। इस महोत्सव में जहां शिल्पकार अपनी शिल्पकला से पर्यटकों को मोहित कर रहे है, वहीं विभिन्न प्रदेशों के लोक कलाकार पर्यटकों का खुब मनोरंजन कर रहे है।


अंतर्राष्ट्रीय गीता महोत्सव शिल्प और सरस मेले के चौथे दिन सुबह और शाम के समय दूर-दराज से आने वाले पर्यटकों का पंजाब, हिमाचल, उत्तराखंड और जम्मू कश्मीर के लोक कलाकार मनोरंजन करने का काम कर रहे है। उत्तरी तट पर जहां राजस्थानी लोक कलाकार कच्ची घोड़ी नृत्य की प्रस्तुती देकर पर्यटकों को नृत्य करने के लिए उत्साहित कर रहे थे, उत्तर पश्चिमी तट पर बीन-बांसुली की धुन पर लोक कलाकार भी पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित कर रहे थे। इस पावन तट के चारों तरफ किसी न किसी प्रदेश के कलाकर, बाजीगर, बहरुपिए भी पर्यटकों को लुभा रहे थे।

मंगलवार को इस शिल्प मेले की रौनक को बढ़ाने का काम विभिन्न राज्यों से आए पर्यटकों व विद्यार्थियों ने किया। आसमान ने छाई काली घटा ने महोत्सव के माहौल को और भी मनमोहक कर दिया, हल्की बंूदाबांदी के बीच महोत्सव में आए विद्यार्थियों व पर्यटकों ने विभिन्न प्र्रकार के व्यंजनों का जमकर लुत्फ उठाया। बच्चे, जवान और बुजुर्गो ने महोत्सव में जमकर खरीददारी की और विभिन्न प्रदेशों से आए कलाकारों द्वारा प्रस्तुत किए गए सांस्कृतिक कार्यक्रमों खूब मस्ती से नृत्य किया है।

Monday

सरस मेले में शिल्पकारों की हाथों की कारागिरी लुभा रही है


हाथों से बने सामान की जमकर खरीददारी कर रहे है पर्यटक 
कुरुक्षेत्र 
इस आधुनिक दौर में हाथ की कारागिरी से बनाएं जाने वाल वस्तुओं को लोगों तक पहुंचाने का काम अंतर्राष्ट्रीय गीता महोत्सव कर रहा है। इस महोत्सव में हाथ की कारागिरी से बनी अनेक वस्तुओं को ब्रहमसरोवर के पावन तट पर देखा जा रहा है। सरस मेले में बांस से बने सज्जों सामान को लेकर आए शिल्पी विजय रविदास ने बताया कि वह गुहावटी असम से आया है। यह शिल्पकार बांस से बनी वस्तुएं लेकर अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव में आया है और यह वस्तुएं वह बांस को काटकर बनाता है। 
उसने बताया कि इन वस्तुओं को बनाने के लिए वे 4 लोग है जो कि दिन रात मेहनत करके बांसों को काटकर उनसे अनेक तरह की घर को सजाने वाले सज्जों सामान बनाते है। वस्तु के आकार और उसकी सजावट के अनुसार एक वस्तु बनाने पर कम से कम एक दिन का समय लगता है। इस मेले में वह बांस से बनी फूलदानी, जंगला, पाईप सिनरी, बेकपीन, कंघी, लैम्प, एस फुलदानी, माली प्लेट ट्रे, लैटर बाक्स आदि सामान लेकर आया है जो कि पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित कर रहा है। यह सामान घरों की सजावट में बहुत ही प्रयोग किया जाता है। उसने बताया कि इस सामान की कीमत 100 रुपए से लेकर 1 हजार रुपए तक की है। 

कुरुक्षेत्र प्रदेश के कृषि एवं किसान कल्याण मन्त्री जेपी दलाल द्वारा सोमवार को एकीकृत मधुमक्खी पालन विकास केन्द्र, रामनगर (कुरूक्षेत्र) का निरीक्षण किया गया।

 

डिस्कवरी टाइम्स कुरुक्षेत्र पवन कुमार 
प्रदेश के कृषि एवं किसान कल्याण मन्त्री जेपी दलाल द्वारा सोमवार को एकीकृत मधुमक्खी पालन विकास केन्द्र, रामनगर (कुरूक्षेत्र) का  निरीक्षण किया गया। कृषि मन्त्री का केन्द्र पर पहुंचने पर केन्द्र संचालक डा. बिल्लु यादव, उप-निदेशक उद्यान विभाग ने स्वागत किया
 मौके पर कृषि मन्त्री जेपी दलाल द्वारा सुझाव दिया गया कि मधुमक्खी पालन पर आधारित नव युवको को अन्तर्राष्ट्रीय स्तर के पाठयक्रम या डिप्लोमा कराएं ताकि वो विदेशों में भी रोजगार प्राप्त कर सके तथा देश की बेरोजगारी दुर की जा सके। इसके अलावा कृषि मंत्री ने कहा कि  बागवानी विभाग को सभी उत्पादों का ब्रांड बनाकर व्यवसायिक स्तर पर कार्य करना चाहिए, ताकि उत्पादकों को अपने उत्पाद का उत्तम मूल्य मिल सके। उन्होनें केन्द्र के अधिकारियों को शहद की गुणवत्ता की जांच हेतु प्रयोगशाला को एन.ए.बी.एल. मानक व शहद की बिक्री हेतु कोई अच्छी परियोजना तैयार करने के आदेश दिए। 
कृषि मंत्री ने केन्द्र पर स्थापित शहद प्रसंस्करण इकाई, छत्ता निर्माण इकाई, वैल्यु एडिशन ऑफ हनी लैब व क्वाल्टी कन्ट्रोल लैब का भ्रमण किया और इस दौरान केन्द्र पर अन्य विभिन्न सुधार करने के सुझाव दिये गये। अन्त में केन्द्र पर स्थापित मौन पेटिका निर्माण इकाई में निर्मित उच्च गुणवत्ता के मधुमक्खी के बक्सों को देखकर काफी प्रसन्न हुए। इसके साथ-2 माननीय कृषि मन्त्री जी ने मधुमक्खी किसान उत्पादक संगठन के शहद बिक्री केन्द्र का दौरा किया तथा कॉम्ब हॅनी का भी स्वाद चखा व संगठन की कार्य प्रणाली व बागवानी विभाग द्वारा दी जा रही सुविधाओं के बारे में जानकारी प्राप्त की। 
इस मौके पर उद्यान विभाग के उप-निदेशक डा. बिल्लु यादव ने बताया कि यह एशिया महाद्वीप का पहला केन्द्र है जो मधुमक्खी पालन के लिए भारत एवं इजराईल के सहयोग से वर्ष 2017-18 में बनाया गया था। इस केन्द्र की स्थापना का मुख्य उद्देश्य आधुनिक तकनीको व संयंत्रो के उपयोग से मधुमक्खी व्यवसाय को वाणिज्य स्तर पर शहद उत्पादन बढ़ाना है। इसके साथ ही स्वस्थ व बीमारी रहित मधुमक्खी कालोनियों के रख रखाव  के लिए प्रबन्धन प्रर्दशन लगाना शहद निकालने भण्डारण प्रसंस्करण टेस्टिंग पैकेजिंग व राष्ट्रीय एंव अन्र्तराष्ट्रीय स्तर पर इसके विपणन को बढाना है। उन्होंने हरियाणा सरकार द्वारा मधुमक्खी क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए दी जाने वाली मूल-भूत सुविधाओं के बारे में भी विस्तारपूर्वक जानकारी दी। उन्होंने केन्द्र के आगामी दृष्टिकोण के बारे में जानकारी दी जिसके अन्तर्गत केन्द्र पर स्थापित हनी क्वाल्टी कन्ट्रोल लैब को अपडेट और हनी मण्डी स्थापित करने बारे बताया गया। इस अवसर पर लाडवा के पूर्व विधायक डा. पवन सैनी, बीजेपी के जिलाध्यक्ष धर्मबीर मिर्जापुर, बागवानी विभाग के अधिकारीगण  जोगिन्द्र सिंह, सयुक्त निदेशक उद्यान,  सत्येन्द्र कुमार, उप-निदेशक उद्यान, प्रदीप मिल, उप-निदेशक कृषि व आई.बी.डी.सी. के सभी अधिकारी एवं कर्मचारी मौजूद रहें।

विभिन्न राज्यों के लोक नृत्य पर जमकर नाचे पर्यटक



डिस्कवरी टाइम्स कुरुक्षेत्र (पवन कुमार) क्राफ्ट व सरस मेले के तीसरे दिन हजारों पर्यटकों ने लिया सांस्कृतिक कार्यक्रमों का लुत्फ, पर्यटकों ने की क्राफ्ट व सरस मेले में खरीददारी

कुरुक्षेत्र विभिन्न राज्यों के लोक कलाकारों ने लोक नृत्य प्रस्तुत कर पर्यटकों को अपने मोहपाश में बांधने का काम किया। इस अंतर्राष्ट्रीय गीता महोत्सव-2019 में आने वाले पर्यटक मस्ती के साथ झुमते नजर आए। इन लोक नृत्यों में पंजाब, हिमाचल, जम्मू-कश्मीर के कलाकारों ने भी अपने-अपने प्रदेश के लोक नृत्य प्रस्तुत कर क्राफ्ट और सरस मेले में खरीददारी करने वाले पर्यटकों को अपनी तरफ आकर्षित किया।
महोत्सव के क्राफट और सरस मेले में तीसरे दिन सोमवार को कुरुक्षेत्र व आसपास के शहरों से पर्यटकों और श्रृद्धालुओं का आवागमन शुरु हो गया हैं। क्राफ्ट व सरस मेले के तीसरे दिन पर्यटकों ने मेले में जमकर खरीददारी की और सांस्कृतिक कार्यक्रमों का लुत्फ उठाया। सबसे पहले उत्तराखंड से आए कलाकारों ने प्रसिद्ध लोक नृत्य की प्रस्तुती देने के लिए जैसे ही मंच पर पहुंचे और अपने वाद्य यंत्रो पर थाप लगाई तो पर्यटक एकाएक इस घाट के सामने एकत्रित हो गए और पर्यटकों के हुजूम को देखकर कलाकारों ने भी पूरे उत्साह और जोश के साथ लोक नृत्य की प्रस्तुती दी। करीब आधा घंटा इस लोक नृत्य ने पर्यटकों का खूब मनोरंजन किया। इस प्रस्तुती के साथ ही पंजाब और हिमाचल प्रदेश के लोक कलाकारों ने भी पर्यटकों को अपनी कला के मोहपाश में बांध कर रखा। उत्तर क्षेत्र सांस्कृतिक केन्द्र पटियाला की तरफ से कुरुक्षेत्र उत्सव में पहुंचे इन कलाकारों ने सुबह और सायं के समय खूब रंग जमाया। 
महोत्सव के तीसरे दिन हरियाणा के बम्ब रसिया, राजस्थान के बाजीगरों और बहरुपियों ने भी पर्यटकों का खुब मनोरंजन किया। केडीबी के मानद सचिव मदन मोहन छाबड़ा ने बताया कि इस उत्सव में 10 दिसम्बर तक अलग-अलग चरणों में करीब विभिन्न प्रदेशों के के लोक कलाकार पर्यटकों का मनोरंजन करेंगे। महोत्सव में पर्यटकों और श्रृद्धालुओं के मनोरंजन के लिए विभिन्न प्रदेशों के कलाकारों को एनजेडसीसी के माध्यम से आमंत्रित किया गया हैं। हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी कलाकार सांस्कृतिक कार्यक्रमों की शानदार प्रस्तुती दे रहे हैं।

Saturday

सरस और क्राफ्ट मेले में विभिन्न राज्यों के शिल्पकारों की शिल्पकला के हुए दर्शन


700 स्टालों में 500 स्टाल शिल्पकारों के है।

डिस्कवरी टाइम्स (पवन रोड) ###कुरुक्षेत्र विकास बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी गगनदीप सिंह कहा कि सरस और क्राफ्ट मेले में विभिन्न राज्यों के करीब शिल्पकार अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव में पहुंच चुके है। इस महोत्सव में 8 शिल्पकार विभिन्न देशों से पहुंचे है।
सीईओ केडीबी गगनदीप ने बताया कि अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव के सरस मेेले में विभिन्न राज्यों के शिल्पकार पहुंच चुके है। इस महोत्सव में उत्तर क्षेत्र सांस्कृतिक कला केन्द्र पटियाला की तरफ से विभिन्न राज्यों के करीब 250 क्राफ्ट मैन पहुंचे है। इनमें अंतरराष्ट्रीय, राज्यस्तरीय और अन्य अवार्ड विजेता है। 
उन्होंने बताया कि मनिस्टरी ऑफ टेक्सटाईल से 30, खादी विभाग की तरफ से 15, शहर की संस्थाओं की तरफ से 100, निजी लोगों को 75 स्टाल व पुस्तक मेले के लिए 14 स्टाल सहित कुल 700 स्टाल लगाए है। इन 700 स्टालों में 500 स्टाल शिल्पकारों के है। उन्होंने कहा कि सरस एंड क्राफ्ट मेले के पहले दिन ही पर्यटकों और श्रृद्घालुओं की भीड़ लगी रही और अधिकतर खरीदारी करते हुए नजर आए।

कुरुक्षेत्र को पर्यटन स्थल के रुप में विकसित करने के लिए सरकार कर रही है काम:केशनी


डिस्कवरी टाइम्स  (पवन रोड )
मुख्य सचिव केशनी आनंद अरोड़ा ने किया अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव-2109 के मीडिया सेंटर का उदघाटन, मुख्यमंत्री मनोहर लाल महोत्सव को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ओर आगे बढ़ाने के लिए मिल रहे है विदेशों के राजदूतों से, कुरुक्षेत्र 48 कोस के 41 तीर्थो पर होंगे अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव पर भव्य कार्यक्रम, ब्रहमसरोवर पर 16 करोड़ रुपए की लागत से लगेगा मल्टी मीडिया प्रोजैक्ट, 50 तीर्थो के जीर्णोद्घार पर सरकार ने शुरु किया कार्य, श्रीकृष्णा सर्किट के तहत तीर्थो को किया जा रहा है विकसित, मुख्य सचिव ने ब्रहमसरोवर पर सुबह के समय आरती करने का रखा सुझाव 
कुरुक्षेत्र  हरियाणा की मुख्य सचिव केशनी आनंद अरोड़ा ने कहा कि कुरुक्षेत्र एक पावन और ऐतिहासिक धरा है, इस भूमि के कण-कण में पर्यटन की तस्वीर को देखा जा सकता है, इसलिए राज्य सरकार कुरुक्षेत्र को पर्यटन स्थल के रुप में अंतरराष्ट्रीय स्तर के रुप में विकसित करने का काम कर रही है। इस भूमि के तीर्थो को श्रीकृष्णा सर्किट के तहत विकसित किया जा रहा है।
मुख्य सचिव केशनी आनंद अरोड़ा शनिवार को देर सांय कुरुक्षेत्र विकास बोर्ड के सभागार में बनाए गए अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव-2019 के मीडिया सेंटर का उदघाटन करने के उपरांत पत्रकारों से बातचीत कर रही थी, इससे पहले मुख्य सचिव केशनी आनंद अरोड़ा, उपायुक्त डा. एसएस फुलिया, पुलिस अधीक्षक आस्था मोदी, अतिरिक्त उपायुक्त पार्थ गुप्ता, केडीबी के मानद सचिव मदन मोहन छाबड़ा, सूचना, जन सम्पर्क एवं भाषा विभाग के संयुक्त निदेशक एवं सीईओ केडीबी गगनदीप सिंह ने विधिवत रुप से 23 नवम्बर से 10 दिसम्बर तक चलने वाले मीडिया सेंटर का शुभारम्भ किया। 
उन्होंने अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव 2019 के शानदार आयोजन पर उपायुक्त डा. एसएस फुलिया, केडीबी के मानद सचिव मदन मोहन छाबड़ा, सूचना, जन सम्पर्क एवं भाषा विभाग के संयुक्त निदेशक एवं सीईओ केडीबी गगनदीप सिंह सहित अन्य अधिकारियों को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि अंतर्राष्टï्रीय गीता महोत्सव 2019 आयोजन 23 नवम्बर से 10 दिसम्बर तक किया जा रहा है, इस महोत्सव के मुख्य कार्यक्रम 3 दिसम्बर से 8 दिसम्बर तक आयोजित किए जाएंगे।
उन्होंने कहा कि अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव 2019 के इस स्वरुप से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री मनोहर लाल का सपना साकार हो रहा है। कुरुक्षेत्र पावन और ऐतिहासिक धरती है, इस धरा से भगवान श्रीकृष्ण ने गीता का संदेश दिया और इस धरती पर महाराजा हर्षवर्धन, मां भद्रकाली मंदिर, ब्रहमसरोवर, ज्योतिसर और कई दर्शनीय स्थल हरियाणा की संस्कृति और धरोहर को तरोताजा कर रहे है। इस पर्यटन स्थली को ओर आगे बढ़ाने का काम किया जा रहा है। उन्होंने ब्रहमसरोवर पर सुबह की आरती शुरु करने का सुझाव देते हुए कहा कि इस पर्यटन स्थली को श्रीकृष्णा सर्किट के तहत विकसित किया जा रहा है, ज्योतिसर में भगवान श्रीकृष्ण का विराट स्वरुप स्थापित किया जाएगा और भव्य लाईट एंड सांउड शो को शुरु कर दिया गया है, इसके अलावा ब्रहमसरोवर पर 16 करोड़ की लागत से मल्टी मीडिया प्रोजैक्ट स्थापित किया जाएगा। इस कुरुक्षेत्र 48 कोस के 50 तीर्थो के जीर्णोद्घार पर सरकार बजट खर्च कर रही है। इस पर्यटन स्थली को विश्व के मानचित्र पर लाने के लिए मीडिया का हमेशा सहयोग रहा है और आगे भी रहेगा।
मुख्य सचिव ने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल स्वयं कुरुक्षेत्र को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ओर आगे बढ़ाने के लिए विभिन्न देशों के राजदूतों से मिल रहे है और अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव का निमंत्रण भी दे रहे है। इस महोत्सव को लेकर 48 कोस के 41 तीर्थो पर भव्य कार्यक्रम होंगे और कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय में अंतरराष्ट्रीय गीता सैमिनार में 15 देशों के शोधार्थी भी पहुंचेंगे। इस महोत्सव के सफल आयोजन के लिए मीडिया के सहयोग की निहायत जरुरत होगी। उपायुक्त डा. एसएस फुलिया ने मेहमानों का आभार व्यक्त किया। इस कार्यक्रम में प्रेस क्लब कुरुक्षेत्र की तरफ से मुख्य सचिव केशनी आनंद अरोड़ा को स्मृति चिन्ह भेंट किया गया। इस मौके पर एसडीएम अश्विनी मलिक, सीटीएम सतबीर कुंडू, केडीबी सदस्य सौरव चौधरी, राजेन्द्र परासर, रविन्द्र सांगवान, उपेन्द्र सिंघल, विजय नरुला, भाजपा नेता सुुरेश सैनी कुक्कू, श्याम लाल जांगड़ा, खरैती लाल सिंगला सहित अन्य अधिकारी गण और गणमान्य लोग उपस्थित थे।

भाजपा के लिए लकी हैं विपक्षी दलों के भतीजे

भाजपा के लिए लकी हैं विपक्षी दलों के भतीजे, हरियाणा और महाराष्ट्र में भतीजों की वजह से बनी सरकार

डिस्कवरी टाइम्स कुरुक्षेत्र भाजपा के लिए विपक्षी पार्टियों के भतीजे बेहद लकी हैं। अक्टूबर 2019 में हरियाणा और महाराष्ट्र दो राज्यों में विधानसभा चुनाव हुए। इन दोनों राज्यों में विपक्षी पार्टियों के भतीजों की मदद से भाजपा सरकार बनाने में सफल रही। हरियाणा में इनेलो नेता अभय चौटाला से विवाद के बाद अलग पार्टी बनाने वाले भतीजे जजपा नेता दुष्यंत चौटाला से गठबंधन कर भाजपा ने सरकार बनाई। वहीं, महाराष्ट्र में राकांपा नेता शरद पवार के भतीजे अजीत पवार के साथ गठबंधन कर सरकार बनाई। दोनों में एक समानता ये भी है कि दोनों को डिप्टी सीएम का पद दिया गया

Friday

डीएलएसए ने शिविर लगाया आमजन को किया जागरुक


डीएलएसए ने शिविर लगाया आमजन को किया जागरुक
कुरुक्षेत्र जिला विधिक सेवा प्राधिकरण कुरुक्षेत्र द्वारा बलात्कार के मामलों में गर्भावस्था की चिकित्सा विषय पर एक शिविर का आयोजन किया गया। इस शिविर में 1971 के एमटीपी अधिनियम के बारे में आम जनता को जागरूक किया और बलात्कार के मामलों में गर्भावस्था के चिकित्सीय समापन के कानूनी पहलू पर प्रकाश डाला गया। इस शिविर में एलएनजेपी अस्पताल से स्त्री रोग विशेषज्ञ डा. उमा, पैनल के अधिवक्ता व पीएलवी ने ग्रामीणों को इस विषय पर जानकारी देकर जागरुक किया।

24 नवम्बर को होगा गीता महोत्सव मैराथान दौैड़ का आयोजन

कार्यक्रम में हरियाणा के खेल युवा कार्यक्रम विभाग के राज्यमंत्री मुख्यातिथि के रुप में शिरकत करेंगे। 
कुरुक्षेत्र जिला खेल एवं युवा कार्यक्रम अधिकारी यशबीर सिंह ने कहा कि जिला प्रशासन, केडीबी व खेल विभाग कुरुक्षेत्र द्वारा गत्त वर्ष की भांति इस वर्ष भी जिला कुरुक्षेत्र में अंतर्राष्टï्रीय गीता महोत्सव के अवसर पर 24 नवम्बर 2019 को गीता महोत्सव मैराथन दौड़ कुरुक्षेत्र-2019 (पुरुष व महिला) का आयोजन किया जा रहा है। इस कार्यक्रम में हरियाणा के खेल युवा कार्यक्रम विभाग के राज्यमंत्री मुख्यातिथि के रुप में शिरकत करेंगे। इस कार्यक्रम में विधायक सुभाष सुधा व क्रीड़ा भारती हरियाणा के प्रदेश अध्यक्ष योगेश्वर दत्त विशेष अतिथि के रुप में पहुंचेंगे। इस दौड़ में प्रतिभागिता करने वाले इच्छुक खिलाड़ी 23 नवम्बर 2019 तक नि:शुल्क अपना पंजीकरण द्रोणाचार्य स्टेडियम कुरुक्षेत्र में करवा सकते है। इस प्रतियोगिता में पुरुष व महिला वर्ग में प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले प्रतिभागी को क्रमशं 31 हजार, 21 हजार व 11 हजार रुपए इनाम के रुप में प्रदान किए जाएंगे। चौथे से दसवें स्थान पर रहने वाले प्रतिभागी को 2100 रुपए का पुरस्कार प्रदान किया जाएगा। पंजीकृत प्रतिभागी 24 नवम्बर को सुबह 6 बजे पुरुषोतमपुरा बाग ब्रहमसरोवर पर पहुंचना सुनिश्चित करेंगे।

31 विभागों की प्रदर्शनी में हरियाणा के विकास की तस्वीर नजर आएगी


कुरुक्षेत्र हरियाणा के विकास की तस्वीर सूचना, जन सम्पर्क एवं भाषा विभाग द्वारा लगाई जा रही 31 विभागों की प्रदर्शनी में नजर आऐगी। 
इस अंतर्राष्ट्रीय गीता महोत्सव 2019 में राज्य के विभिन्न विभागों द्वारा 3 दिसम्बर से 8 दिसम्बर तक राज्य स्तरीय प्रदर्शनी का आयोजन ब्रहमसरोवर के तट पर किया जाएगा। 
उपायुक्त डा. एसएस फुलिया ने बताया कि इस राज्यस्तरीय प्रदर्शनी में विभिन्न विभागों की उपलब्धियों, स्कीमों की जानकारी से सम्बन्धित प्रदर्शनी लगाई जाएगी। इस राज्यस्तरीय प्रदर्शनी में महानिदेशक सूचना, जन सम्पर्क एवं भाषा निदेशालय, महानिदेशक अभिलेखागार विभाग, महानिदेशक पुरातत्व एवं संग्रहालय विभाग, महानिदेशक कृषि विभाग, प्रमुख अभियंता सिंचाई विभाग, महानिदेशक पशुपालन एवं डेयरी विभाग, निदेशक मत्स्य पालन विभाग, महानिदेशक खाद्य एवं आपूर्ति विभाग, प्रधान मुख्य वन सरंक्षक वन विभााग, महानिदेशक स्वास्थ्य सेवाएं विभाग, महानिदेशक उद्यान विभाग, निदेशक उद्योग एवं वाणिज्य विभाग, महानिदेशक औद्योगिक प्रशिक्षण एवं व्यवसायिक शिक्षा विभाग, महानिदेशक खेल एवं युवा कल्याण विभाग, महानिदेशक तकनीकी शिक्षा विभाग, महानिदेशक राज्य परिवहन विभाग, निदेशक महिला एवं बाल विभाग, मुख्य प्रशासक कृषि विपणन बोर्ड, प्रबंधक निदेशक कृषि उद्योग निगम, प्रबंधक निदेशक सहकारी चीनी मिल प्रसंघ, प्रबंधक निदेशक हैफेड, प्रबंधक निदेशक विद्युत प्रसारण निगम, प्रबंधक निदेशक इलेक्ट्रोनिक्स विकास निगम (हारट्रोन), प्रबंधक निदेशक औद्योगिक एवं इन्फ्रास्ट्रक्चर विकास निगम, मुख्य कार्यकारी खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड, सचिव राज्य सैनिक बोर्ड, प्रबंधक निदेशक बीज विकास निगम, चेयरमैन प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड, निदेशक अक्षय उर्जा विभाग, पर्यटन विभाग, विकास एवं पंचायत निदेशालय आदि अपने-अपने कार्यालय से सम्बन्धित योजनाओं व उपलब्धियों को प्रदर्शित करेंगे।

गुरदास मान रहेंगे महोत्सव के मुख्य आकर्षण का केन्द्र

गुरदास मान रहेंगे महोत्सव के मुख्य आकर्षण का केन्द्र

एनजैडसीसी की तरफ से अंतय गीता महोत्सव के मुख्य सांस्कृतिक कार्यक्र्रमों के लिए 3 दिसम्बर 2019 के लिए प्रसिद्घ कलाकार गुरदास मान, 4 दिसम्बर को अमिषा पटेल, 5 दिसम्बर को दिलेर मेंंहदी, 6 दिसम्बर को कुमार विश्वास व गजेन्द्र सोलंकी, 7 दिसम्बर को अभिजीत भट्टïाचार्य और 8 दिसम्बर को सतिन्द्र सरताज का नाम फाईनल किया गया है। इन तमाम कार्यक्रमों का आयोजन तिरूपति बालाजी मन्दिर के पास मेला ग्राउंड में भव्य पंडाल में किया जाएगा।

हरियाणवी पांडाल में होंगे अनूठी हरियाणवी संस्कृति के दर्शन


अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव में आकर्षण का केन्द्र रहेगा हरियाणा पैवेलियन, हस्त शिल्प के माध्यम से संजोया जाएगा सांस्कृतिक इतिहास
 कुरुक्षेत्र विकास बोर्ड के मानद सचिव मदन मोहन छाबड़ा ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव 2019 के अवसर पर पुरुषोत्तमपुरा बाग में आयोजित हरियाणा सांस्कृतिक दर्शन व हरियाणवी पांडाल के माध्यम से इस बार अनूठी हरियाणवी संस्कृति पर्यटकों को देखने को मिलेगी। हरियाणा सांस्कृतिक दर्शन का आयोजन 3 से 8 दिसंबर तक पुरुषोत्तमपुरा बाग में किया जा रहा है।
उन्होंने बताया कि हरियाणवी पांडाल ब्रहमसरोवर पुरुषोतमपुरा बाग में मुख्य मंच पर आयोजित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि हरियाणवी पांडाल के माध्यम से पर्यटकों में हरियाणवी संस्कृति के प्रति जागरूकता पैदा करना है। उन्होंने कहा कि अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव 2019 सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजन के लिए एक कमेटी का गठन किया गया है। इस महोत्सव में हरियाणा सांस्कृतिक दर्शन पांडाल अपने नये आयाम स्थापित करेगा। उन्होंने बताया कि अंतर्राष्ट्रीय गीता महोत्सव में हरियाणवी पांडाल में इस वर्ष अनेक अनूठे एवं नायाब प्रयोग किए जाएंगे। इस पांडाल में हरियाणवी खानपान के साथ-साथ हरियाणवी कलाकारों की बेहतरीन प्रस्तुतियां पर्यटकों के लिए विशेष आकर्षण का केन्द्र होंगी। इसके अतिरिक्त हरियाणा की पगड़ी का इतिहास, हरियाणा का प्राचीन इतिहास हरियाणवी सिक्कों के माध्यम से तथा हरियाणा के लुप्त होते क्राफ्ट को हरियाणवी पांडाल का हिस्सा बनाकर उसे जीवंत करने का प्रयास किया जाएगा। 
उन्होंने कहा कि इस पांडाल में हरियाणा की सांस्कृतिक धरोहर पर्यटकों के लिए विशेष आकर्षण का केन्द्र होगी। इस वर्ष सभी हस्त शिल्पकार हरियाणवी लोक परिधानों में अपनी संस्कृति के रंग बिखेरेंगे। पर्यटकों के लिए हरियाणवी महिला एवं पुरुष परिधान भी उपलब्ध होंगे ताकि सेल्फी विद हरियाणवी बीर एवं मर्द विशेष रूप से पर्यटकों को आकर्षण का केन्द्र रहेगी। हर रोज पर्यटकों के मनोरंजन के लिए सांस्कृतिक संध्या आयोजित की जाएगी। इसके अतिरिक्त लोक कलाकार, सपेरे, सारंगीवादक, हरियाणवी लोकगीत गाती महिलाएं, बंचारी नृत्य भी पर्यटकों के आकर्षण का केन्द्र रहेगा।
 
Copyright © 2020 Discovery Times. Designed by OddThemes