अच्छे नागरिक बनाने के लिए बच्चों को अच्छे संस्कारों और शिक्षा की जरूरत: सुधा



विधायक सुभाष सुधा व डा. बीआर अम्बेडकर नैशनल लॉ यूनिवर्सिटी की कुलपति प्रोफेसर विनय कपूर ने डीएवी स्कूल के दूसरे दिन मंथन कार्यक्रम का किया शुभांरभ, 286 विद्यार्थियों को अवार्ड देकर किया सम्मानित, वार्षिक समारोह के रंगारंग कार्यक्रम में 331 विद्यार्थियों ने प्रस्तुत किए बेहतरीन कार्यक्रम
कुरुक्षेत्र विधायक सुभाष सुधा ने कहा कि देश को स्मृद्घ और शक्तिशाली बनाने के लिए आज अच्छे नागरिक का निर्माण करना बहुत जरूरी है। एक अच्छे नागरिक का निर्माण अच्छी शिक्षा और संस्कारों से ही किया जा सकता है। यह शिक्षा और संस्कार स्कूली स्तर पर ही दिए जाने चाहिए। इस कार्य को डीएवी संस्थान काफी अरसे से बखूबी कर रहा है। 
वे शनिवार को डीएवी पब्लिक स्कूल सैक्टर 3 की तरफ से कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय के आडीटोरियम हाल में वार्षिक पारितोषिक वितरण समारोह एवं 3 दिवसीय यज्ञ कार्यक्रम में दूसरे दिन मंथन कार्यक्रम में  बोल रहे थे। इससे पहले विधायक सुभाष सुधा, डा. बीआर अम्बेडकर नैशनल लॉ यूनिवर्सिटी सोनीपत की कुलपति प्रोफेसर विनय कपूर मेहरा, डीएवी संस्थान नई दिल्ली की निदेशक जे ककारिया, स्थानीय प्रबंधक कमेटी के मैनेजर डा. विवेक कोहली, स्कूल की प्रिंसीपल गीतिका जसूजा ने कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय के सभागार में दीपशिखा प्रज्ज्वलित करके विधिवत रुप से यज्ञ के दूसरे दिन 9वीं  कक्षा तक के मंथन कार्यक्रम का शुभारम्भ किया।
विधायक सुभाष सुधा ने डीएवी स्कूल की प्रबंधक कमेटी, प्राचार्य व शिक्षकों का बेहतरीन कार्यक्रम के लिए आभार व्यक्त करते हुए कहा कि कुरुक्षेत्र को राज्य सरकार की तरफ से शिक्षा के हब के रूप में विकसित किया जा रहा है। इस योजना के तहत कुरुक्ष्ेात्र में देश की पहली आयुष यूनिवर्सिटी, गांव पलवल में राजकीय महिला कालेज शुरू किया गया है और खेडी रामनगर में नर्सिंग कालेज बनाने की योजना तैयार की है। इसके अलावा स्कूलों को अपग्रेड करने का भी कार्य किया गया है। सरकार का प्रयास है कि स्कूलों में अच्छी से अच्छी शिक्षा उपलब्ध करवाई जाए। 
डा.बीआर अम्बेडकर नैशनल लॉ यूनिवर्सिटी की कुलपति प्रोफेसर विनय कपूर ने कहा कि आज के बदलते और आधुनिक दौर में रिश्ते टूटते जा रहे है, शिक्षा और संस्कारों की कमी आई है, ऐसे दौर में अभिभावकों को अपने घर के माहौल को बेहतर बनाना होगा और बच्चों की मानसिक विकास पर पूरा फोक्स करना होगा, जब परिवार में अच्छे संस्कार और स्कूलों में अच्छी शिक्षा मिलेगी तो निश्चित ही व्यक्ति का सर्वगिांक विकास होगा। जब देश की युवा पीढ़ी मानसिक और शारिरिक रूप से सुदृढ़ होगी तो देश ताकतवर बनने के साथ-साथ विकास की राह पर तेजी से आगे बढ़ेगा। 
लोकल प्रबंधक कमेटी के मैनेजर डा. विवेक कोहली ने मेहमानों का स्वागत करते हुए डीएवी संस्थान की तमाम गतिविधियों पर विस्तृत प्रकाश डालते हुए कहा कि बच्चों के भविष्य का निर्माण करने के लिए और एक अच्छा नागरिक बनाने के लिए संस्थान द्वारा हर भरसक प्रयास किए जा रहे है। इस कार्यक्रम में डीएवी प्रबंधन कमेटी नई दिल्ली निदेशिका जे ककारिया ने भी अपने विचार व्यक्त किए। स्कूल की प्रिंसीपल गीतिका जसूजा ने स्कूल की वार्षिक रिपोर्ट प्रस्तुत करते हुए कहा कि मंथन कार्यक्रम में करीब 331 विद्यार्थियों ने अपनी प्रतिभा का हुनर दिखाया और बेहद आकर्षक कार्यक्रमों की प्रस्तुती दी है, इसके लिए स्कूल के शिक्षक बधाई के पात्र है। इस वार्षिक पारितोषिक वितरण समारोह में शैक्षणिक खेलकूद गतिविधियों में सराहनीय प्रदर्शन करने वाले करीब 286 विद्यार्थियों को ट्राफी, पं्रशसा पत्र और नगद राशि देकर सम्मानित किया गया है। इस कार्यक्रम में भांगड़ा, गिद्दा और अन्य सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुतियों ने सबका मन मोह लिया और सभागार में बैठे सभी मेहमानों का तालिया बजाने पर मजबूर कर दिया। इस मौके पर लोकल मैनेजमेंट कमेटी के सदस्य जितेन्द्र ढींगड़ा, विवेक चावला, संयोजक पंकज कुमार, प्रवक्ता अशोक कुमार, नविता बठला, आरती गुप्ता सहित अन्य शिक्षक और गणमान्य लोग मौजूद थे।

SHARE THIS

Author:

Print Hindi Magazine and Online News

Previous Post
Next Post