BREAKING NEWS

Thursday

एचआईवी संक्रमण के प्रति आमजन को जागरुक करने के लिए जानकारी ही बचाव है- सीजेएम


                          डीएलएसए ने एचआईवी संक्रमण के बारे में आमजन को किया जागरुक

कुरुक्षेत्र (डिस्कवरी टाइम्स) 6 फरवरी:जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की सचिव एवं सीजेएम डा. कविता काम्बोज ने कहा कि डीएलएसए की तरफ से एचआईवी संक्रमण के प्रति आमजन को जागरुक करने के लिए जानकारी ही बचाव है अभियान के तहत विशेष कानूनी साक्षरता शिविरों का आयोजन किया जा रहा है। इन शिविरों के माध्यम से लोगों को एड्स संक्रमण की रोकथाम और इससे बचाव के तरीकों को विस्तार से बताया जा रहा है और एड्स जैसी भयानक बिमारी के प्रति जानकारी ही बचाव कार्यक्रम के जानकारी देकर जागरुक किया जा रहा। 

उन्होंने कहा कि एड्स एक खतरनाक बिमारी है, जिससे के प्रति सावधानी ही बचाव है। इसलिए हमें सभी को इस बिमारी के प्रति सावधान रहना चाहिए और लोगों को भी जानकारी देकर जागरुक करना चाहिए। उन्होंने कहा कि इस अभियान के तहत पैनल के अधिवक्ता वरुण गर्ग व पीएलवी तनुज ने गांधी नगर, कीर्ति नगर, डींग इंट भट्टा , अधिवक्ता कुलदीप सिंह व पीएलवी रामप्रसाद ने राजकीय स्कूल भेरियां, राजकीय स्कूल बीड़ मथाना, राजकीय स्कूल चढुनी जाटान में स्कूली बच्चों व आमजन को एचआईवी संक्रमण के कारण व इससे बचाव की जानकारी देकर जागरुक किया।

स्वच्छता ना केवल हमारे घर सडक़ तक के लिए ही जरूरी, यह देश ओर राष्ट्र की आवश्यकता: डा. किरण


                           एसडीएम ने स्वच्छता अभियान को लेकर अधिकारियों की ली बैठक

कुरुक्षेत्र, शाहबाद (डिस्कवरी टाइम्स) 6 फरवरी:उपमंडल अधिकारी नागरिक डा. किरण सिंह ने कहा कि स्वच्छता ना केवल हमारे घर सडक़ तक के लिए ही जरूरी नहीं होती है। यह देश ओर राष्ट्र की आवश्यकता होती इससे ना केवल हमारा घर आंगन ही स्वच्छ रहेगा पूरा देश ही स्वच्छ रहेगा।

वे वीरवार को शाहबाद में 7 फरवरी से शुरु किए जाने वाले स्वच्छता अभियान को लेकर अधिकारियों की एक बैठक को सम्बोधित कर रही थी। इससे पहले उन्होंने स्वच्छता अभियान की सभी तैयारियां पूरी करने के लिए अधिकारियों को जरुरी दिशा-निर्देश भी दिए है। उन्होंने कहा कि शहर व गांवों को स्वच्छ बनाना है। यह तभी सम्भव होगा जब हम सभी मिलजुलकर आपसी सहयोग से काम करेंगे। साफ-सफाई से हमारा तन-मन दोनों स्वस्थ और सुरक्षित रहता है। यह हमें किसी और के लिए नहीं, बल्कि खुद के लिए करना है। यह जागरूकता जन-जन तक पहुंचानी होगी। हमें इसके लिए जमीनी स्तर से लगकर काम करना होगा। हमें बचपन से ही बच्चों में सफाई की आदत डलवानी होगी।

उन्होंने कहा कि अगर हम स्वच्छ और सुंदर माहौल में न रहें तो हमें गंदगी से अनेक प्रकार की बिमारियों और परेशानियों का सामना करना पड़ता है जिसके लिए हम खुद जिम्मेदार होते हैं। हम सभी यही सोचते हैं कि अपने घर और आस-पास की सफाई रखें लेकिन सफाई करने के बाद कूड़े-कचरे को इधर-उधर फेंक देते हैं। इसके अलावा एसडीएम ने सीएचसी का निरीक्षण कर चिकित्सकों को कुछ आवश्यक दिशा-निर्देश दिए और राज्य विभाग के अधिकारियों को रिकवरी करने के लिए कहा है। इस मौके पर तहसीलदार, एसडीओ राष्ट्रीय राजमार्ग, जेई पीडब्लयूडी, सफाई निरीक्षक सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित थे।

थीम पार्क में बनेंगा मुख्य बचाव केन्द्र, एनआईसी कार्यालय में बनेगा कंट्रोल रुम, भूकम्प को लेकर होगी मॉकड्रिल:धीरेन्द्र



कुरुक्षेत्र (डिस्कवरी टाइम्स) 6 फरवरी:उपायुक्त धीरेन्द्र खडगटा ने कहा कि 7 फरवरी को सुबह 11 बजे मॉकड्रिल का समय निर्धारित किया गया है। इसके लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली गई है। सम्बन्धित अधिकारी इस मॉकड्रिल के दौरान अपनी-अपनी डयूटी को पूरी मुस्तैदी से करना सुनिश्चित करे। उन्होंने कहा कि इस मॉकड्रिल से लोगों को भयभीत होने की जरुरत नहीं है, यह केवल रिहर्सल मात्र है, इसलिए लोग अपना रुटीन का कार्य करते रहेंगे, इस दौरान किसी भी व्यक्ति कोई परेशानी नहीं आने दी जाएगी।

उन्होंने कहा कि थीम पार्क में स्टेजिंग सेंटर बनाया जाएगा और लघु सचिवालय के एनआईसी कार्यालय में कंट्रोल रुम स्थापित किया जाएगा। इसके अलावा लघु सचिवालय, डीएन कालेज, डिवाईन मॉल और बस स्टैंड स्थलों को प्रभावित क्षेत्र के रुप में दिखाया जाएगा, सिविल अस्पताल को आपातकालीन स्वास्थ्य सेवाओं के लिए तैयार किया गया है। उन्होंने कहा कि 7 फरवरी को सुबह 11 बजे एक सायरन बजेगा जो कि भूकम्प की मॉकड्रिल की सूचना देगा। इस सायरन के साथ ही स्वास्थ्य विभाग, पुलिस विभाग, खाद्य एवं आपूर्ति विभाग, रैडक्रास और सामाजिक संस्थाओं के स्वयं सेवी एनसीसी, स्काउट, एनएसएस सहित अन्य विभाग हरकत में आ जाएंगे और मॉकड्रिल में लोगों को बचाने के लिए निर्धारित 4 स्थलों की तरफ कूच करेंगे। यह सभी थीम पार्क से ही कूच करेंगे और लोगों को इलाज के लिए अस्पताल और अन्य सुविधाओं के लिए थीम पार्क में लेकर आएंगे।

विभिन्न योजनाओं से सम्बन्धित विकास कार्यो की समीक्षा बैठक में ओर अधिक गति देने के उदेश्य से अधिकारियों को दिशा-निर्देश - उपायुक्त



कुरुक्षेत्र (डिस्कवरी टाइम्स ) 6 फरवरी:उपायुक्त धीरेन्द्र खडगटा ने कहा कि अधिकारी समय सीमा के अंदर-अंदर कार्य करे और बैठक में पूरी तैयारी के साथ विकास कार्यो की रिपोर्ट के साथ आए तथा सम्बन्धित ग्रुपों में प्रतिदिन अपने-अपने विभाग से सम्बन्धित रिपोर्ट की अपडेट भी डाले।

उपायुक्त वीरवार को लघु सचिवालय के सभागार में जिले में चल रही विभिन्न स्कीमों से सम्बन्धित विकास कार्यो को ओर अधिक गति देने के उदेश्य से आयोजित समीक्षा बैठक में अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दे रहे थे। उन्होंने बैठक में सबसे पहले मनरेगा के कार्यो पर चर्चा की और बीडीपीओ व एबीपीओ को निर्देश दिए कि ज्यादा से ज्यादा से मनरेगा में काम करवाए । उन्होंने एबीपीओ से कहा कि अगली बैठक में जब आए तो उन्हें पता होना चाहिए कि मनरेगा के तहत कितनी तरह के कार्य किए जा सकते है, इससे सम्बन्धित वह एक एक्शन प्लान तैयार करे तथा उसकी रिपोर्ट उपायुक्त कार्यालय में दे। उन्होंने कहा कि जल्द ही मनरेगा के तहत सौलर वेस्ट मिनी एसटीपी प्रोजैक्ट की शुरुआत की जाएगी। 

उन्होंने डीडीपीओ को कहा कि सम्बन्धित अधिकारियों और कर्मचारियों की मनरेगा के तहत ट्रेनिंग करवाएं ताकि उन्हें बारीकि से मनरेगा की जानकारी प्राप्त हो सके। उन्होंने पंचायती विभाग के एसडीओ को कहा कि विभाग का जेई अपने क्षेत्र में हो रहे कार्यो की साईट का एक बार विजिट करे। वे जल्द ही सरपंचों की बैठक लेंगे और उन्हें मनरेगा से क्या कार्य हो सकते है, इसके बारे में विस्तार से जानकारी दी जाएगी। डीसी ने एबीपीओ की समस्याओं को बारीकि से सुना और उनका मौके पर समाधान किया तथा सम्बन्धित अधिकारियों को कहा कि जरुरत की हर चीज एबीपीओ को दी जाए। बीडीपीओ को कहा कि वे अपने-अपने ब्लाक में वीडियो कान्फ्रेंस रुम स्थापित करे, इस रुम में हर प्रकार की सुविधा होनी चाहिए ताकि जरुरत पडऩे पर सम्बन्धित अधिकारी वहीं से ही वीसी के माध्यम से अपनी बात रख सके। उन्होंने कहा कि सभी विभागों में पूरी तरह से साफ सफाई होनी चाहिए और जो भी कंडम समान है, उसे इस माह के अंत कंडम करवाएं। उन्होंने बीडीपीओ से यह भी कहा कि वर्ष 2014 से अब तक जो-जो कार्य पेंडिंग है, उनकी सूचि बनाकर एडीसी कार्यालय में दे।

उन्होंने प्रधानमंत्री आवास योजना की समीक्षा करते हुए कहा कि जिन लाभार्थियों की दूसरी व तीसरी किश्त जारी की जानी है, वह समय सीमा के अंदर जारी करे। पंचायती राज विभाग के जेई इस योजना में हुए कार्यो का फिजीकल वैरफिकेशन करेंगे और अपनी रिपोर्ट देंगे। आगामी वित्त वर्ष में प्रत्येक गांव में मॉडल पांउड, पौधारोपण, स्कूल में प्ले ग्राउंड आदि कार्य करवाएं जाएंगे, इसके लिए भी पूरी तैयारी कर ले। इसके बाद डीसी ने राष्टटीय जीविका मिशन के तहत हो रहे कार्यो की समीक्षा की और कहा कि जिले में ज्यादा से ज्यादा स्वयं सहायता समुह बनाए जाए ताकि वे स्वयं का रोजगार स्थापित कर सके और उनकी आय में बढौतरी हो सके। उन्होंने स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत किए गए कार्यो की समीक्षा करते हुए कहा कि जिन गांवों में अभी कचरा शैड नहीं बने, वहां पर निर्माण कार्य की प्रक्रिया को पूरा करे। इस कार्य के लिए ग्राम स्तर पर ग्रामीणों को ज्यादा से ज्यादा जागरुक करे। उन्होंने बीडीपीओ को कहा कि अपने-अपने ब्लाक में स्वच्छता दस्ता बनाए और उस दस्ते के माध्यम से गांव में साफ-सफाई का कार्य करवाना सुनिश्चित करे।

उपायुक्त ने बैठक में लोकायुक्त से जुड़े मामलों की समीक्षा करते हुए कहा कि इससे सम्बन्धित मामलों को गम्भीरता से ले और उनका समाधान जल्द से जल्द करे। उन्होंने बीडीपीओ से यह भी कहा कि पंचायत की जमीन पर या जोहड़ पर अगर कोई अवैध कब्जा है, तो उसे तुरंत हटवाए। जो भी विकास कार्य होते है, उनका उपयोगिता प्रमाण पत्र समय पर दे। इसके बाद डीसी ने एचआरएमएस साफ्टवेयर की समीक्षा की और कहा कि इससे सम्बन्धित सभी चीजे अपडेट होनी चाहिए। बैठक में उपायुक्त ने महात्मा गांधी बस्ती ग्रामीण योजना की भी समीक्षा की और आवश्यक दिशा-निर्देष दिए। उन्होंने एमपी लैंड स्कीम की समीक्षा करते हुए बताया कि इस स्कीम में ढाई करोड़ रुपए की राशि आ चुकी है, इस स्कीम से सम्बन्धित 13 विकास कार्य प्राप्त हुए है, इन कार्यो को जल्द ही शुरु करके पूरा करे। उन्होंने बताया कि डी-प्लान के अंतर्गत 14 करोड़ 35 लाख रुपए आए है, जिसमें से 7 करोड़ 91 लाख रुपए खर्च किए जा चुके है और इसके तहत 580 कार्य थे, जिसमें से 314 पूरे हो चुके है और 257 पर काम चल रहा है तथा 9 विकास कार्य शुरु होने वाले है। उन्होंने अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए कि एमपी लैंड स्कीम से सम्बन्धित कार्यो को समय सीमा के अंदर पूरा करे, वे इससे सम्बन्धित जल्द ही फिर से समीक्षा करेंगे।

उपायुक्त ने इसके बाद मुख्यमंत्री की घोषणाओं से सम्बन्धित कार्यो की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि जिले में 297 घोषणाएं हुई, जिनमें से 98 पूरी हो चुकी है तथा 125 घोषणाओं पर कार्य चल रहा है, 60 घोषणाएं मुख्यालय स्तर पर लम्बित है। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि मुख्यालय स्तर पर लम्बित सभी घोषणाओं के लम्बित कार्यो को जल्द पूरा करे। इसमें किसी प्रकार की कोई लापरवाही ना हो। बैठक में ग्रामीण विकास की स्कीमों के साथ-साथ सौर उर्जा आदि योजनाओं की भी समीक्षा की। इस मौके पर एडीसी वीना हुड्डा  नगराधीश सतबीर सिंह कुंडू, डीडीपीओ रेणू जैन सहित सम्बन्धित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

थानेसर में दिव्यांग जनों को सहायक उपकरण वितरण करने के लिए एक शिविर का आयोजन



कुरुक्षेत्र (डिस्कवरी टाइम्स ) 6 फरवरी :   उपायुक्त एवं जिला रैडक्रास सोसायटी के प्रधान धीरेन्द्र खडगटा ने बताया कि आगामी 14 फरवरी को नई अनाज मंडी थानेसर में दिव्यांग जनों को सहायक उपकरण वितरण करने के लिए एक शिविर का आयोजन किया जाएगा। इस शिविर में मुख्यातिथि के रुप में सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय भारत के राज्यमंत्री रतनलाल कटारिया मुख्यातिथि के रुप में शिरकत करेंगे।

डीसी वीरवार को लघु सचिवालय स्थित उपायुक्त कार्यालय में शिविर की तैयारियों से सम्बन्धित आयोजित बैठक में अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दे रहे थे। उन्होंने कहा कि यह शिविर भारतीय कृत्रिम अंग निर्माण निगम सहायक उत्पादन केन्द्र मोहाली पंजाब और जिला प्रशासन के संयुक्त तत्वाधान में किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि अगस्त 2019 में खंड स्तर पर दिव्यांग मुल्यांकन शिविरों का आयोजन किया गया था, जिसमें 1151 दिव्यांगजनों की सहायक उपकरण प्रदान करने हेतू पहचान की गई थी। उन्होंने बताया कि इन दिव्यांगजनों को आगामी 14 फरवरी को एलिमको कम्पनी द्वारा सहायक उपकरण जैस तिपाहिया साईकिल, व्हील चेयर, श्रवण यंत्र, वैसाख आदि यंत्र वितरित किए जाएंगे।

उन्होंने बताया कि इस शिविर के लिए डीआरओ डा. चांदी राम चौधरी को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। उन्होंने डीआरओ को कहा कि समय रहते सभी तैयारियां पूरी करवा ले ताकि कोई समस्या ना आए। इस मौके पर जिला रैडक्रास सोसायटी कुरुक्षेत्र के सचिव कुलबीर मलिक, एलिमको कम्पनी के सहायक मैनेजर ईशविन्द्र सिंह, कम्पनी के अधिकारी अंजनी सिन्हा सहित सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित थे।

Wednesday

धर्मनगरी कुरुक्षेत्र के लोग हुए हस्त रेखा ज्ञान के महामंडलेश्वर राजस्थानी स्वामी दलीप नाहटा के दीवाने।


पोर्टेबल साइंटिफिक हस्तरेखा मशीन से नाहटा ने कुरुक्षेत्र-वासियों को अपनी निःशुल्क  सेवाएं दी एवं जरूरतमंद लोगों को निःशुल्क  कीमती स्टोन भी वितरित किए ।

 कुरुक्षेत्र के लोग हुए नाहटा के दीवाने, नाहटा से मिलने के लिए लोगों की लगी लंबी कतारे।
सम्मेलन में आये कई ज्योतिषी भी लगे कतारों में।

हरियाणा, कुरुक्षेत्र (वैद्य पण्डित प्रमोद कौशिक) :-  धर्मनगरी कुरुक्षेत्र  ब्रह्मसरोवर के तट पर  ध्यानयोग केन्द्र में " पंच तत्व स्पिरिचुअल एंड चैरिटेबल ट्रस्ट " की ओर से आयोजित ज्योतिष सम्मेलन में उत्तर भारत के प्रसिद्ध जिला अजमेर गांव  ब्यावर के  ज्योतिषाचार्य  एवं हस्तरेखा विशेषज्ञ स्वामी दिलीप नाहटा द्वारा बनाई गई विश्व की पहली पोर्टेबल साइंटिफिक हस्तरेखा मशीन से कुरुक्षेत्र के सैकड़ों लोगों को भूत , वर्तमान की सटीक बातें  बताकर  न केवल उनका दिल जीता अपितु उनके आने वाले भविष्य की बातें भी बताई गई और साथ में नाहटा जी  द्वारा अपनी तरफ से कई तरह के कीमती जवाहारात एवं स्टोन भी यहां की जनता को निःशुल्क  रूप से वितरित किए गए । मशीन से हस्तरेखा गणना का अपना अलग तरीका है

पोर्टेबल साइंटिफिक हस्तरेखा  इस मशीन में तीन खाने बने हैं। पहले खाने में वैवाहिक, पारिवारिक स्थिति, दूसरे खाने में भूतकाल के बारे में तथा तीसरे खाने में बच्चों व संतती के बारे में जानकारी मिलती है। मशीन से हस्तरेखा गणना का अपना अलग तरीका है। हाथ की रेखाओं को गणितीय डिग्री के आधार पर नापकर इसमें गणना की जाती है। मशीन से हस्तरेखाओं की विस्तृत्व गणना में करीब दो से ढाई घंटे का समय लगता है।

नाहटा से मिलने के लिए कुरुक्षेत्र में लोगों की उमड़ी भारी भीड़ को देख कर दूरदराज से कुरुक्षेत्र ज्योतिष सम्मेलन में आये ज्योतिषी भी लगे लाइनों में।                                                


   नाहटा जी का स्थाई पता:                     

 एस्ट्रोलॉजर एवं हस्तरेखा विशेषज्ञ  स्वामी दिलीप नाहटा ज्योतिषाचार्य   21 , 

अब्बानी गली , मालियान चौपड़ के पास , नया बास , ब्यावर ,  जिला - अजमेर  , 

 राजस्थान  दूरभाष नम्बर 08769002100 

संपर्क कर अपनी समस्याओं का निवारण कर सकते है।

Tuesday

अंतरराष्ट्रीय हस्त रेखा ज्ञान के महामंडलेश्वर संत शिरोमणि दलीप नाहटा को षड्दर्शन साधु समाज ने किया सम्मानित।

     वैद्य पण्डित प्रमोद कौशिक

  कुरुक्षेत्र, 3 फरवरी :- अंतरराष्ट्रीय हस्त रेखा ज्ञान के महामंडलेश्वर संत शिरोमणि दलीप नाहटा के कुरुक्षेत्र प्रवास पर षड्दर्शन साधु समाज हरियाणा के संगठन सचिव वैद्य पण्डित प्रमोद कौशिक द्वारा नाहटा को कुरुक्षेत्र के महाभारतकालीन तीर्थो पर पूजा अर्चना उपरांत तीर्थो के महत्व संबंधित ग्रंथ को भेंट कर गीता की जन्मस्थली पर  सम्मानित किया गया। नाहटा ने कुरुक्षेत्र प्रवास के दौरान सैंकड़ो की संख्या ने आम नागरिकों के हाथ की रेखाओं को देखकर उनके कष्टों ओर समस्याओं के निवारण हेतू कीमती रत्नों को भी उपहार में दिया।

नाहटा समय समय पर आम नागरिकों की समस्याओं रोगों के निवारण हेतू अपनी सेवाएं निःशुल्क देते रहते है। नाहटा  राजस्थान में जिला अजमेर के नया बास ब्यावर के रहने वाले है जिन्हें यह अलौकिक शक्तियां ब्रह्मलीन आचार्य  हस्तीमल महाराज के स्थान से लोगों का कल्याण करने हेतू प्राप्त हुई।  नाहटा द्वारा  राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सैंकडों भविष्यवाणीयां  सत्य साबित हुई व राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय  स्तर पर विभिन्न ज्योतिष जनकल्याण  समजसेवा अवार्डों  द्वारा सम्मानित किया जा चुका है।  नाहटा द्वारा विश्व की पहली पोर्टेबल  एस्ट्रोलॉजर हस्त रेखा यंत्र बनाने पर भी सम्मानित किया जा चुका है आज नाहटा  की यश कीर्ति देश ही नही विदेशों में भी दस्तक दे चुकी है और विदेशी श्रद्धालु इस प्राचीन विद्या द्वारा लाभ उठा रहे है।

Saturday

गैस पाईप व इन्टरनैट की लाईन बिछाने वाली कम्पनियों को जारी होंगे नोटिस :सुधा


                     नगरपरिषद के ईओ को दिए नोटिस जारी करने के आदेश
डिस्कवरी टाइम्स 
कुरुक्षेत्र, (पवन )31 जनवरी  थानेसर विधायक सुभाष सुधा ने कहा कि शहर में गैस पाईप लाईन और इन्टरनैट की तार बिछाने वाली कम्पनियों को नगर परिषद की तरफ से नोटिस जारी किया जाएगा। इन कम्पनियों को नोटिस जारी करने के लिए नगरपरिषद के कार्यकारी अधिकारी और नगरपालिका इंजीनियर को आदेश दिए गए है। इतना ही नहीं अब इन दोनों कम्पनियों के अधिकारियों को शहर में खुदाई के बाद रोजाना अपनी रिपोर्ट नगरपरिषद को देनी होगी। 

विधायक सुभाष सुधा ने दूरभाष पर बात करते हुए कहा कि सेक्टर 3 में गन्दें पानी के कारण पीलिया फैलने से जहंा बहुत बडा हादसा हुआ है और दर्जनों लोग बीमार भी हुए। इस प्रकार की कोई भी घटना शहर के अन्य इलाके में ना घटे। इसके लिए सभी विभागों को मुस्तैद होकर कार्य करने होंगे। इस शहर में गैस पाईप लाईन और इन्टरनैट की लाईन बिछाने का काम कम्पनियों द्वारा किया जा रहा है। इसलिए इन कम्पनियों के कार्य करने के दौरान पीने के पाईप लाईन को किसी प्रकार का नुक्सान ना हो इसको जरूर सुनिश्चित किया जाएगा। इसलिए दोनों कम्पनियों को नगरपरिषद की तरफ से नोटिस जारी किया जाएगा। इस नोटिस के बाद दोनों कम्पनियों के अधिकारियों को यह सुनिश्चित करना होगा कि उनके  कार्य करने से किसी प्रकार की पानी की लीकेज नहीं हुई है। 

उन्होंने कहा कि दोनों कम्पनियों को इस बारें रोजाना नगरपरिषद के अधिकारियों को रिपोर्ट देनी होगी। इन कम्पनियों के अधिकारी पीने के पानी की पाईप लाईन को ध्यान में रखकर ही खुदाई का काम करेंगे। अगर किसी भी तरह की कोई लीकेज हुई तो सम्बन्धित कम्पनी की जिम्मेदारी तय की जाएगी। उन्होंने कहा कि सेक्टर 3 की घटना के मामलें में लापरवाह अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी गई है। इस मामलें में सरकार ने मृतक परिजनों को 2-2लाख रुपए का मुआवजा देने की घोषणा की है। इसके अलावा सरकार पीडि़त परिजनों के साथ हमेशा खड़ी है। 

विधायक ने कहा कि पिपली से थर्ड गेट तक सडक़ निर्माण कार्य को लेकर अब 14 फरवरी 2020 को टैंडर भरें जाएंगे। इस बार नई शर्तो के साथ टैंडर भरवाएं जाएंगे, इन टैंडरों में प्रतिभूति राशि को लेकर कुछ शर्ते तय की गई है। इस टैंडर के भरने की अवधि के बाद टैंडर खोले जाएंगे और यह टैंडर लगभग 40 करोड रुपए का होगा। 

भारतीय हॉकी टीम की कप्तान रानी रामपाल ने बढ़ाया हरियाणा का गौरव:संदीप



डिस्कवरी टाइम्स
कुरुक्षेत्र/पिहोवा (पवन)31 जनवरी।  हरियाणा के खेल एवं युवा मामलें मंत्री संदीप सिंह ने कहा कि महिला हॉकी टीम की कप्तान रानी रामपाल को वल्र्ड गेम्स एथलीट ऑफ द ईयर अवार्ड मिलना पूरे देश के लिए गौरव की बात है। इससे अकेले जिला कुरुक्षेत्र का ही नहीं, बल्कि पूरे हिंदुस्तान का नाम दुनिया में चमका है। खेल मंत्री संदीप सिंह ने जारी विज्ञप्ति में कहा कि वे उन खिलाडिय़ों की बहुत कदर करते हैं। जो विपरीत परिस्थितियों में भी संघर्ष करते हुए अपनी काबिलियत को साबित करते हैं। ऐसे खिलाडिय़ों के लिए खेल मंत्रालय के दरवाजे 24 घंटे खुले हुए हैं। बतौर खेल मंत्री  उनका प्रयास हमेशा यही रहेगा कि  सुविधाओं के अभाव में कोई प्रतिभा अपने मुकाम से वंचित ना रहे। खेल मंत्री ने कहा कि रानी रामपाल  कस्बा शाहाबाद की हैं। इनके माता-पिता ने जीवन में संघर्ष करते हुए अपनी इच्छाओं  को दबा लिया। लेकिन कभी अपने बेटी का सपना पूरा  करने के लिए उसकी  परवरिश में कमी नहीं आने दी। ऐसे अभिभावकों को भी वे  सलाम करते हैं । 

उन्होंने बताया कि रानी रामपाल यह पुरस्कार पाने वाली पहली भारतीय हैं और उनके लिए गौरव की बात यह है कि वह खुद भारतीय हॉकी टीम के कप्तान रह चुके हैं। इसलिए इस खेल और खिलाड़ी को सम्मान मिलने से उनकी खुशी दोगुनी हो जाती है। खेल मंत्री ने कहा कि रानी रामपाल को देश का चौथा सबसे बड़ा नागरिक सम्मान पद्मश्री मिलना भी प्रदेश की बेटियों की एक बेहतरीन उपलब्धि है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल इसके लिए बधाई के पात्र हैं कि उन्होंने बेटियों को सम्मान दिलाने के लिए बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ जैसा अभियान शुरू किया। प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री के  इसी अभियान को आगे बढ़ाने में हरियाणा की बेटियां की बागडोर थाम रही हैं। रानी रामपाल प्रदेश की बेटियों के लिए एक प्रेरणा स्त्रोत हैं और उनके पद चिन्हों पर चलते हुए हमारी बेटियों को खेलों में एक बेहतर मुकाम हासिल करके अपनी एक अलग पहचान बनानी होगी। खेल मंत्रालय इसमें उनका पूरा सहयोग करने को तैयार है।
 
Copyright © 2020 Discovery Times. Designed by OddThemes