BREAKING NEWS

Monday

सुरक्षा व्यवस्था के बीच कुरुक्षेत्र के खरीद केन्द्रों पर शुरु हुआ सुचारु रुप से गेंहू खरीद का कार्य:धीरेंद्र


कुरुक्षेत्र/शाहबाद, ( अनिल धीमान ) 20 अप्रैल: उपायुक्त धीरेंद्र खडगटा ने कहा कि कोविड-19 कारण उत्पन्न हुई विकट परिस्थितियों में भी कुरुक्षेत्र जिले के 188 खरीद केन्द्रों पर गेंहू की खरीद का कार्य सुचारु रुप से शुरु हो गया है। इन खरीद केन्द्रों पर पहले दिन लगभग 500 किसानों को आमंत्रित किया गया और सभी किसान अपनी फसलों को लेकर अपने निर्धारित शैडयूल के अनुसार खरीद केन्द्रों पर पहुंचे। इन सभी खरीद केन्द्रों पर सामाजिक दुरियों का विशेष पालन किया गया और जहां भी कुछ दिक्कते आई, वहां पर किसानों, व्यापारियों और मजदूरों को सामाजिक दूरियों के बारे में सम्बन्धित मंडियों के अधिकारियों ने जागरुक किया। अहम पहलू यह है कि एक-दो दिन तक सभी खरीद केन्द्रों पर कोविड-19 के नियमों को जहन में रखकर खरीद कार्य बिल्कुल सुचारु से चलेगा। अहम पहलु यह है कि 21 अप्रैल को खरीद केन्द्रों पर लगभग 1200 किसान अपनी फसल लेकर पहुंचेंगे।

                           
उपायुक्त व पुलिस अधीक्षक ने किया अनाज मंडी शाहबाद का निरीक्षण, 188 खरीद केन्द्रों पर लगभग 500 किसान लेकर आए गेंहू की फसलों को, आज खरीद केन्द्रों पर पहुंचेंगे करीब 1200 किसान, अधिकारियों को दिए आवश्यक दिशा-निर्देश, सोशल डिस्टैसिंग का पालन करे किसान व व्यापारी


वे सोमवार को थानेसर, पिपली, शाहबाद, लाडवा व बाबैन अनाज मंडियों का दौरा कर किसानों व व्यापारियों से बातचीत कर रहे थे। इससे पहले उपायुक्त धीरेन्द्र खडगटा व पुलिस अधीक्षक आस्था मोदी ने गेंहू खरीद कार्यो के लिए किए गए पुख्ता प्रबंधों का जायजा लिया और अधिकारियों को कुछ आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिए। इन सभी खरीद केन्द्रों पर विशेष रुप से चैक किया गया कि सोशल डिस्टैंस के नियमों की पालना की जा रही है और सभी ने मास्क या फिर अन्य कपड़े का प्रयोग मास्क के रुप में किया है या नहीं। इन तमाम पहलुओं को बारीकि से देखा गया और जहां भी कुछ कमी नजर आई, वहां के अधिकारियों को कुछ आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए तथा किसानों, व्यापारियों और मजदूरों को सोशल डिस्टैंस के बारे में जागरुक भी किया गया है। इस दौरान सख्त आदेश भी दिए गए कि जिस भी मंडी में व्यापारी मजदूर और किसान सोशल डिस्टैंस की पालना नहीं करेगा तो उनके खिलाफ कार्रवाई भी अमल में लाई जा सकती है। यह सभी इंतजाम कोविड-19 से मजूदरों, व्यापारियों और किसानों को बचाने के लिए ही किए गए है।


उपायुक्त ने मार्किट कमेटी व अन्य संबधित अधिकारियों से मंडी में किसानों के लिए की गई व्यवस्थाओं के बारे में जानकारी भी ली है। उन्होंने किसानों को आश्वस्त किया कि उनकी फसलों का एक-एक दाना खरीदा जाएगा, किसानों को घबराने की जरूरत नहीं है। उन्होंने यह भी कहा कि मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल के तहत पहले हरियाणा के किसानों की गेहूं की फसल खरीदी जाएगी। किसानों ने प्रशासन द्वारा मंडी में किसानों की सहायता के लिए किए गए प्रबंधों की सराहना भी की। इस मौके पर आढ़तियों व किसानो ने उपायुक्त को बताया कि से मंडी में दो खरीद एजेंसी गेहूं खरीद का कार्य कर रही है, जिससे सभी संतुष्ट हैं। किसानों को अपनी गेहूं की फसल बेचने में कोई समस्या नहीं आने दी जाएगी। हरियाणा सरकार व जिला प्रशासन ने इसके लिए पुख्ता इंतजाम किए हैं। सभी किसान भी प्रशासन का सहयोग करें। पूरे प्रदेश में 20 अप्रैल से गेहूं खरीद का कार्य शुरू कर दिया गया है और गेंहू खरीद कार्य के लिए सभी पुख्ता प्रबंध भी किए गए है। उन्होंने किसानों को आश्वस्त किया कि उनकी फसलों का एक-एक दाना खरीदा जाएगा। उन्होंने आढ़तियों से भी चर्चा करते हुए कहा कि वे किसानों की फसलों को खरीदने में प्रशासन का सहयोग करे। प्रदेश सरकार द्वारा आढ़तियों की अधिकतर मांगों को पूरा करने का काम किया गया है। आढ़तियों ने हमेशा ही आगे आकर सरकार व प्रशासन का सहयोग करने का काम किया है। 


उन्होंने किसानों व आढ़तियों से कहा कि वे जो जारी हिदायतें व सावधानियां है उनकी पालना करते हुए स्वंय सुरिक्षत रहे तथा दूसरों को भी सुरक्षित करने का कार्य करे। किसान मंडी में मास्क व साफ-सुथरा कपड़ा मुंह पर रखकर ही कार्य करे। पुलिस अधीक्षक आस्था मोदी ने कहा कि प्रशासन द्वारा मंडी में सभी व्यवस्थाएं सुनिश्चित कर ली गई है, लेकिन वह समय-समय पर मंडी में निरीक्षण भी कर सकते है। उन्होंने कहा कि मंडी में सभी सोशल डिस्टेंस का विशेष ध्यान रखें ताकि कोराना संक्रमण के फैलाव से बच सके है। उन्होंने कहा कि हर अनाज मंडी तथा खरीद सेंटर पर सुरक्षा की दृष्टि से पुलिस अधिकारी और कर्मचारी तैनात किए हैं । इस अवसर पर मंडी के आढ़ती किसान तथा विभिन्न विभागों के अधिकारी और कर्मचारी मौजूद थे।

Share this:

 
Copyright © 2020 Discovery Times. Designed by OddThemes