जिला पुलिस कुरूक्षेत्र की अपराध शाखा-1 ने विनोद हत्या कांड में शामिल दो अन्य आरोपियों को किया गिरफ्तार - Discovery Times

Breaking

Home Top Ad

Responsive Ads Here

Top Ad

Responsive Ads Here

Post Top Ad

Responsive Ads Here

30 September 2020

जिला पुलिस कुरूक्षेत्र की अपराध शाखा-1 ने विनोद हत्या कांड में शामिल दो अन्य आरोपियों को किया गिरफ्तार

 

हत्या कांड में शामिल दो अन्य आरोपी किये गिरफ्तार  

जिला पुलिस कुरूक्षेत्र की अपराध शाखा-1 ने विनोद हत्या कांड में शामिल दो अन्य आरोपियों को किया गिरफ्तार | जिला पुलिस कुरुक्षेत्र पहले ही विनोद हत्या कांड के एक आरोपी जय पाल पुत्र सुखदेव राज वासी गाँधी नगर को गिरफ्तार कर चुकी है | मामले की गहनता से जांच करते हुए पुलिस ने हत्या कांड के दो अन्य आरोपी हरदीप सिंह उर्फ शन्टी पुत्र इन्द्रपाल वासी नियर सत्संग भवन बाई पास रोड कीर्ति नगर, कुरुक्षेत्र व सुरेन्द्र उर्फ गागा पुत्र इन्द्रपाल वासी अलकला मोहल्ला बाल्मिकी बस्ती कैराना जिला शामली यूपी को वारदात में शामिल मोटरसाइकिल सहित गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है |  यह जानकारी अपराध शाखा-1 के प्रभारी निरीक्षक प्रतीक कुमार ने दी |


                      यह जानकारी देते हुए निरीक्षक प्रतीक कुमार ने बताया कि 30 अगस्त 2020 को अनील कुमार पुत्र ईशवर सिंह वासी वशिष्ट कालोनी थाना शहर थानेसर, कुरुक्षेत्र ने पुलिस को दिए अपने ब्यान में बताया कि वह उपरोक्त नाम पते का रहने वाला है और किरयाने की दुकान करता है | उसका छोटा भाई विनोद कुमार उर्फ बोदा उम्र 32 वर्ष अपने बाल बच्चो सहित किर्ती नगर में रहता था| उसका भाई किर्ती नगर में शराब बेचने का काम करता था| दिनाक 29 अगस्त 2020 की रात को समय करीब 8/8.30 बजे रात अपने घर से किर्ती नगर अपने भाई विनोद कुमार को मिलने जा रहा था| जब वह राजेन्द्र सिंह की चक्की के पास पहुंचा तो वहा पर उसका  भाई विनोद कुमार व विकाश कुमार उर्फ विक्की पुत्र  जय नारायण गाँव नाहरा जिला पानीपत भी साथ में खड़ा था| विकाश कुमार उसके भाई का काफी पुराना दोस्त है| जिसको वह पहले से जानता है| वह तीनो आपस मे बातचीत कर रहे थे कि एकदम सन्टी वासी किर्ती नगर व गागा, जयपाल वासी गाँधी नगर, मुकेश किर्ती नगर वा अन्य 2 नौजवान लडके आये और सन्टी ने एक दम उसके भाई विनोद के सिर में दाहिनी तरफ गोली मारी जो गोली लगते ही उसका भाई विनोद कुमार सडक पर गिर गया| गागा ने विकाश कुमार के पिछे गर्दन में चाकु धोप दिया और जब विकाश संभल कर भागा तो सन्टी ने कहा कि विकाश बच गया है इसको गोली मारो और सन्टी विकाश की तरफ दौडा और जयपाल वा मुकेश ने अपनी मोटरसाईकिल लेकर काफी दुर तक विकाश का पिछा किया | गोली की आवाज सुनकर आस पडोस के काफी लोग इक्कठा हो गये और लोगो को आता देखकर सन्टी वा उसके दोस्त सभी अपने हथियारो सहित मौका से भाग गये| उसके बाद उसने अपने भाई विनोद कुमार व विकाश को अपने परिवार व दोस्तो के साथ प्राईवेट का व्हीकल से ईलाज के लिये सरकारी हस्पताल KKR ले आया| डाक्टर साहब ने उसके भाई विनोद कुमार को चैक करके मृत घोषित कर दिया| सन्टी व उसके दोस्त शराब के धन्धे को लेकर रंजिश रखते थे| उसके भाई से रंजिश रखते हुये सन्टी ने अपने दोस्तो के साथ मिलकर उसके भाई विनोद कुमार को गोली मारी और विकाश को चाक़ू मारा है। गोली लगने के कारण उसके भाई की मृत्यु हो गई है| इस कत्ल करवाने मे दीपू पंडित वासी श्याम कालोनी कुरुक्षेत्र का पूरा-2 हाथ है| जिसकी शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज करके जाँच शुरू कर दी | जिसकी जाँच बाद में अपराध शाखा-1 को सौंपी गई| जांच आगे बढ़ाते हुए अपराध शाखा-1 ने विनोद हत्या कांड का एक आरोपी जय पाल पुत्र सुखदेव राज वासी गाँधी नगर को गिरफ्तार कर लिया था | आरोपी को माननीय अदालत से दो दिन के रिमांड पर लिया गया था | जिससे गहनता से पूछताछ करने पर हत्या में शामिल अन्य आरोपियों के बारे में जानकारी हासिल की | अपराध शाखा-1 के प्रभारी निरीक्षक प्रतीक कुमार, उपनिरीक्षक वीरेंद्र, हवलदार सुरेन्द्र कुमार, सतीश व दिलबाग की टीम आरोपियों की तलाश में थी कि पुलिस टीम को गुप्त सुचना मिली कि विनोद हत्या कांड में शामिल अन्य आरोपी हरदीप सिंह उर्फ शन्टी पुत्र इन्द्रपाल वासी नियर सत्संग भवन बाई पास रोड कीर्ति नगर, कुरुक्षेत्र व सुरेन्द्र उर्फ गागा पुत्र इन्द्रपाल वासी अलकला मोहल्ला बाल्मिकी बस्ती कैराना जिला शामली यूपी इस समय सरस्वती पुल झांसा रोड़ पर मौजूद है | जो पुलिस की टीम ने मौका पर पहुँच कर उक्त आरोपी को वारदात में शामिल मोटरसाइकिल सहित काबू करके गिरफ्तार कर लिया | जिसको माननीय अदालत में पेश करके 3 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया है| 

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here