केन्द्रीय सहकारी बैंक ने 41655 किसानों को क्रेडिट कार्ड जारी कर मुहैया करवाया 932.64 करोड़ का ऋण:राजेश - Discovery Times

Discovery Times

RNI Registred No.-119642

Breaking

Home Top Ad

विज्ञापन के लिए सम्पर्क करें +91 921-533-0006

Wednesday, September 30, 2020

केन्द्रीय सहकारी बैंक ने 41655 किसानों को क्रेडिट कार्ड जारी कर मुहैया करवाया 932.64 करोड़ का ऋण:राजेश

 


द कुुरुक्षेत्र केन्द्रीय सहकारी बैंक लिमिटेड के शुद्घ लाभ में हुआ इजाफा, वर्ष 2019-20 में 1.23 करोड़ का हुआ लाभ, कार्यशील पूंजी भी बढक़र हुई 666.97 करोड़, एनपीए घटकर पहुंचा 33.15 करोड़ पर, केन्द्रीय सहकारी बैंक की वार्षिक आम सभा में हुई चर्चा

कुरुक्षेत्र 29 सितम्बर: द कुरुक्षेत्र केन्द्रीय सहकारी बैंक लिमिटेड के चेयरमैन राजेश कुमार गर्जर ने कहा कि केन्द्रीय सहकारी बैंक लिमिटेड ने वर्ष 2019-20 में 41655 किसान के्रडिट कार्ड जारी किए गए। इन किसानों को कार्ड पर 932.64 करोड़ रुपए का ऋण भी जारी किया गया। इस बैंक के माध्यम से किसानों की आर्थिक व्यवस्था को मजबूत करने का प्रयास लगातार किया जा रहा है। अहम पहलू यह है कि केन्द्रीय सहकारी बैंक के शुद्घ लाभ और कार्यशील पूंजी में इजाफा हुआ है और बैंक के एनपीए में कमी आई है।

चेयरमैन राजेश कुमार गुर्जर रेलवे रोड़ पर स्थित द कुरुक्षेत्र केन्द्रीय सहकारी बैंक लिमिटेड के सभागार में वार्षिक आम सभा की बैठक को सम्बोधित कर रहे थे। इससे पहले चेयरमैन राजेश कुमार गुर्जर ने राज्य सरकार के आदेशानुसार सदस्यों से वीसी के जरिए बातचीत की। इस वीसी के जरिए महाप्रबंधक यशबीर सिंह, वाईस चेयरमैन सतीश कुमार शर्मा, निदेशक कुलदीप कौर, प्रदीप सिंह, तेवर खान, मुख्यतयार सिंह, मोहिन्द्र सिंह, सुभाष चंद, जसविन्द्र कौर खरींडवा, जयपाल से बैंक की कार्यप्रणाली को बेहतर बनाने और उपभोक्ताओं पर ओर अधिक सुविधाएं देने पर विचार-विमर्श किया गया और वर्ष 2019-20 की बैंक रिपोर्ट महाप्रबंधक यशबीर सिंह ने प्रस्तुत की और इस आमसभा में 4 एजेंडों को सर्वसम्मति से पारित भी किया गया।

चेयरमैन ने महाप्रबंधक यशबीर सिंह की रिपोर्ट के आधार पर बातचीत करते हुए कहा कि बैंक की अमानते वर्ष 2018-19 में 382.91 करोड़ रुपए से बढक़र वर्ष 2019-20 में 466.38 करोड़ पर पहुंच गई है, इस प्रकार बैंक की अमानतों में 83.47 करोड़ की बढौतरी हुई है। इन आंकड़ों को देखकर सहजता से आंकलन किया जा सकता है कि ग्राहकों का बैंक के प्रति विश्वास बढ़ा है। बैंक की तरफ से वर्ष 2018-19 में 884.07 करोड़ का ऋण वितरित किया गया, जबकि वर्ष 2019-20 में 932.64 करोड़ का ऋण वितरित किया गया है। इसी तरह बैंक का बकाया ऋण वर्ष 2018-19 में 635.62 करोड़ था जो कि वर्ष 2019-20 में बढक़र 666.97 करोड़ रुपए हो गया है। उन्होंने कहा कि यह बैंक के लिए उपलब्धि है कि वर्ष 2018-19 में शुद्घ लाभ 54 लाख रुपए था, जोकि वर्ष 2019-20 में बढक़र 1.23 करोड़ रुपए हो गया है। इसी तरह बैंक की कार्यशील पूंजी भी वर्ष 2019-20 में बढक़र 826.77 करोड़ रुपए हो गई है और बैंक का एनपीए भी गत्त वर्ष 44.15 करोड़ रुपए था जो कि इस वर्ष घटकर 33.15 करोड़ रुपए हो गया है।

उन्होंने कहा कि बैंक द्वारा होम लोन, वाहन लोन, आरसीसी, रुलर गोदाम, पर्सनल लोन, कैश क्रेडिट ट्रैडर्स के लिए ऋण मुहैया करवाए जा रहे है। बैंक के द्वारा ग्राहकों को 5 लाख रुपए तक का डिपोजिट का बीमा डीआईसीजीसी के माध्यम से किया गया है। बैंक के द्वारा 6721 ग्राहकों को रुपए डेबिट कार्ड जारी किए गए है, बैंक के द्वारा 30.98 करोड़ रुपए के आरसीसी के ऋण जारी किए जा चुके है। बैंक की मुख्य शाखा में एटीएम शुरु हो चुका है और सभी शाखाओं में माईक्रो एटीएम की सुविधा उपलब्ध है। बैंक को एक आधुनिक प्रणालीयुक्त बनाने में प्रबंधक निदेशक मनोज बंसल का विशेष योगदान रहा है। बैंक अपने ग्राहकों को पीएमजेजेबीवाई, पीएमएसबीवाई और एपीवाई की सुविधा भी प्रदान कर रहा है। महाप्रबंधक यशबीर सिंह ने मेहमानों का स्वागत करते हुए कहा कि बैंक ने ग्राहकों को लॉकर की सुविधा दी है। रुपए डेबिट कार्ड वाले ग्राहक का दुर्घटना बीमा मुफ्त में किया जा रहा है। बैंक किसानों की वितिय जरुरतों को पीएसीएस/सीएस के माध्यम से पूरा कर रहा है। बैंक ने आरटीजी और एनईएफटी की सुविधा भी दी है। जल्द ही बैंक मोबाईल बैंकिंग और मोबाईल एटीएम की सुविधा देगा।

No comments:

Post a Comment