पलाट बेचने के नाम पर करीब 16 लाख रुपये ऐंठने व जान से मारने की धमकी देने के आरोप में किया गिरफ्तार - DISCOVERY TIMES

Breaking News

हमारा साथ देने व् जुड़ने के लिए डिस्कवरी टाइम्स समूह आपका आभारी है, आप सभी का तह दिल से बहुत बहुत धन्यवाद ... निष्पक्ष और विश्वनीय ख़बरें आपके लिए बहुत जरूरी है ... आप डिस्कवरी टाइम्स से अपने रिश्ते मज़बूत करें, आपके अनुभवो को बेहतर बनाने के लिए हम लाये है प्रिंट एडिशन के साथ साथ ई-पेपर सब्सक्रिप्शन ... कुरुक्षेत्र टाइम्स को आवश्यकता है पत्रकारों की जो पत्रकारिता में अपना भविष्य बनाना चाहते हैं इच्छुक व्यक्ति संपर्क करें. WhatsApp 9215330006

04 October 2020

पलाट बेचने के नाम पर करीब 16 लाख रुपये ऐंठने व जान से मारने की धमकी देने के आरोप में किया गिरफ्तार

कुरुक्षेत्र, 4 अक्टूबर (अनिल धीमान ):  थाना केयूके पुलिस ने पलाट बेचने के नाम पर करीब 16 लाख रुपये ऐंठने व जान से मारने की धमकी देने के आरोप में राजीव कुमार पुत्र ओमप्रकाश वासी पबनावा हाल वासी  आजाद नगर थानेसर  को गिरफ्तार करने में सफालता हासिल की है| यह जानकारी पुलिस प्रवक्ता  ने दी|

  यह जानकारी देते हुए पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि दिनांक 4 नवंबर 2019 को पुलिस अधीक्षक कुरुक्षेत्र को दी अपनी शिकायत में बताया था कि

वह  कुरुक्षेत्र शहर मे प्लाट खरीदने का इच्छुक था| आरोपी ने उसको एक पलाट नम्बर 150  जिसको कुल रकबा 174.22 वर्ग गज भुमि को दिलवाने के लिए उसके साथ एक इकरारनामा दिनांक 09 जून 2015 का लिखा हुआ था|  प्लाट को बेचने के लिए उससे 1567980 रुपये ( पन्द्रह लाख सतासठ हजार नौ सौ अस्सी रुपये ) ले लिये|  इकरारनामा में लिखा था कि आज के बाद क्रेता उक्त सौदे का मालिक व स्वामी बिना किसी भागीदार के होगा| आरोपी  ने इकरारनामा के समय जानबुझ कर धोखाधडी व जालसाजी करने की नियत से यह भी ना लिखवा है कि वह प्लाट  की रजिस्ट्री करवा देगा| अब आरोपी ने प्लाट का बैनामा करवाने से इंकार कर दिया । आरोपी ने  प्लाट बेचने के नाम पर उससे मोटी रकम ऐंठने के बाद भी आज तक रजिस्ट्री नहीं करवाई| जिसकी शिकायत पर जाँच उपरांत दिनांक 9 जनवरी 2020 को धोखाधड़ी का मामला दर्ज करके जाँच शुरूकर दी| जाँच उपरांत गत दिवस थाना केयूके के प्रभारी निरीक्षक की टीम ने राजीव कुमार पुत्र ओमप्रकाश वासी पबनावा हाल वासी आजाद नगर थानेसर को गिरफ्तार कर लिया| आरोपी को अदालत में पेश करके अदालत के आदेश से कारागार भेज दिया|


No comments:

Post a Comment