करोड़ों रुपये की धोखाधड़ी व अमानत में ख्यानत करने के करीब 200 मामलों में वांछित दो आरोपी किए पुलिस ने गिरफ्तार - Discovery Times

Breaking

Home Top Ad

Responsive Ads Here

Top Ad

Responsive Ads Here

Post Top Ad

Responsive Ads Here

17 October 2020

करोड़ों रुपये की धोखाधड़ी व अमानत में ख्यानत करने के करीब 200 मामलों में वांछित दो आरोपी किए पुलिस ने गिरफ्तार

जिला पुलिस कुरुक्षेत्र ने करोड़ों रुपये की धोखाधड़ी व अमानत में ख्यानत करने के करीब 200 मामलों में वांछित दो आरोपी किए पुलिस ने गिरफ्तार। थाना लाडवा पुलिस ने करोड़ों रुपये की धोखाधड़ी व अमानत में ख्यानत करने के करीब 200 मामलों में वांछित शक्ति भोग कम्पनी के मालिक केवल कृष्ण पुत्र जुगल किशोर व सिद्धार्थ पुत्र केवल कृष्ण को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। यह जानकारी पुलिस अधीक्षक कुरुक्षेत्र श्री राजेश दुग्गल ने दी।


यह जानकारी देते हुए श्री राजेश दुग्गल ने बताया कि दिनांक 14 फरवरी 2019 को थाना लाडवा में राज कुमार पुत्र छज्जु राम वासी अनाज मंडी लाडवा ने मामला दर्ज करवाया कि केवल कृष्ण पुत्र जुगल किशोर व सिद्धार्थ पुत्र केवल कृष्ण ने  बताया था कि केवल कृष्ण पुत्र जुगल किशोर व सिद्धार्थ पुत्र केवल कृष्ण शक्ति भोग कम्पनी के डायरेक्टर हैं। इनका समाना बाहु में शक्ति भोग मिल है। यह लोग मार्किट से धान खरीदकर उससे चावल निकालकर उसका निर्यात करने का काम करते थे। शिकायतकर्ता ने उसके पास 3 करोड़ 35 लाख रुपये के धान उनकी कम्पनी को दिए थे। आरोपियों ने उनके धान  के पैसों का भुगतान नहीं किया है, बल्कि आरोपियों ने जगह-जगह मार्किट में अपने बैंक चैक दे दिए। आरोपियों द्वारा दिए गए सभी लोगों के बैंक चैक डिसओनर हो गए। जिसकी शिकायत पर थाना लाडवा में मामला दर्ज करके जांच शुरु की गई। थाना लाडवा के प्रभारी निरीक्षक राजपाल की टीम ने दोनो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस जांच से पाया गया है आरोपी अपनी गिरफ्तारी से बचने के लिए अपने ठिकाने बदलकर रहने लगे। आरोपियों के विरुद्ध धोखाधड़ी, अमानत में ख्यानत व बैंक चैक डिसओनर होने के जिला कुरूक्षेत्र में 20, यमुनानगर में 122, करनाल में 28 इसके इलावा जिला पानीपत, कैथल आदि जिलों में करीब 200 भगौड़े अपराधी के मामले दर्ज होने पाए गए हैं। आरोपियों को माननीय अदालत से तीन दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया है। जांच जारी है।

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here