सुनील हत्याकांड में दो और आरोपी को किया जिला कुरुक्षेत्र की पुलिस ने गिरफ्तार - Discovery Times

Breaking

Home Top Ad

Responsive Ads Here

Top Ad

Responsive Ads Here

Post Top Ad

Responsive Ads Here

05 October 2020

सुनील हत्याकांड में दो और आरोपी को किया जिला कुरुक्षेत्र की पुलिस ने गिरफ्तार

कुरुक्षेत्र 5 अक्टूबर(अनिल धीमान): जिला कुरुक्षेत्र में होटलों में तोड़फोड़ की लगातार दो वारदातें हो गई थी। जो स्थानीय पुलिस के लिये सिर दर्द बना हुआ था। शहर थानेसर का मामला अभी सुलझा ही था कि नकाब पोशों द्वारा जी टी रोड़ स्थित एक होटल में 10 अक्टूबर को होटल में ताबड़तोड़ हमला बोल कर होटल में तोड़फोड़ की और होटल के कर्मचारियों पर जान लेवा हमला कर दिया तथा होटल में लगे सीसीटीवी कैमरों की डीवीआर भी साथ ले गए ताकि उनकी पहचाना ना हो सके। मामले की गंभीरता को देखते हुए मामले की जांच अपराध अन्वेषण शाखा.एक के निरीक्षक गुरविंद्र सिंह को सौंपी गयी थीद्य निरीक्षक गुरविंद्र सिंह ने मामले को सुलझाने के लिए अलग-अलग दो टीमों का गठन किया गया था पुलिस की टीम ने गुप्त सूचना के आधार पर आरोपी दीदार सिंह उर्फ दारी उर्फ फौजी वासी लोहरा, वजीर उर्फ रिंकू वासी लोहरा, प्रवीण उर्फ रोशन लाल वासी मुकर पुर व नरेंद्र वासी समानी,  फुल कुमार, हरीश कुमार, पंकज, सुखबीर, वीरेंद्र उर्फ चिनू व अंकित कुल 10 आरोपियों को गिरफ्तार किया था | इस मामले में अभी तक करीब 19 लोगों के शामिल होने का अंदेशा है | आज अपराध अन्वेषण शाखा-1 के प्रभारी निरीक्षक प्रतीक कुमार की टीम ने आरोपी रोहित पुत्र राजिन्द्र वासी बोडला व दिनेश पुत्र प्रेम नाथ वासी बीड मथना को गिरफ्तार किया है |  यह जानकारी उप पुलिस अधीक्षक ,(मुख्य )कुरुक्षेत्र, श्रीमती ममता सौदा ने दी ।

इस बारे में जानकारी देते हुए श्रीमती सौदा ने बताया था कि 10 अक्टूबर 2019 को अंशुल जसूजा कुरूक्षेत्र ने थाना सदर थानेसर में दी अपनी शिकायत में बताया था कि वह सेक्टर-13 का रहने वाला है और जी.टी. रोड पिपली से अम्बाला रोड पर उसका स्वागतम होटल है, जहां पर उसके करीब 20 कर्मचारी काम करते है। जो कल रात को समय करीब 12.15 बजे पर वह अपने होटल पर मौजूद था कि रात को 4-5 लडके होटल पर खाना खाने आये थे, जिन्होने शराब पी रखी थी और उन्होने खाना खा रहे थे। जब बेटर खाना देने आया तो इन्होने झगडा करना शुरु कर दिया उसने बीच बचाव किया व उनको जाने के लिये कह दिया जिनमे से पंकज पुत्र पुरुषोतम दास  व सुखबीर  पुत्र पाला राम , उन लडको मे थे । जो जाते समय पंकज व सुखबीर व चारो लडके दोबारा जान से मारने की धमकी दे कर चले गए। जो समय करीब 8 बजकर 30 मिनट पर विजय पुत्र राम चन्द्र  ने मुझे सुचना दी कि करीब 20-25 लडको ने हथियारो सहित होटल पर हमला कर दिया।  जिस सुचना पर वह होटल पहुंचा तो देखा कि होटल के शीशे, टीवी, डीवीआर प्रिन्टर, कैष काउटर टुटे पडे थे व सुनिल सिर मे चोट लगने के कारण घायल अवस्था मे पडा था व विजय टांगो मे चोट लगने के कारण घायल पडा था तो विजय ने मुझे बताया कि 20-25 लडके 6/7 गाडियों मे आये जिनके हाथ मे लोहे की राडे व डन्डे थे। जिन्होने होटल मे तोड फोड शुरु कर दी तो विजय ने उसको बताया कि जब वह सुनिल ने उन्हे रोकने की कोशिश की तो उनमे से एक लडका बोला जो रात हमारे साथ पंगा लिया था उसका मजा चखाते है व कहा उनको जान से मार दो फिर एक लडके ने जान से मारने की नियत से लोहे की राड से सिर पर सुनिल के सिर पर गहरी चोटे पहुंचाई व सभी लडको ने मिलकर मुझे व सुनिल को चोटे पहुंचाई व होटल का नुकसान किया व वे लडके जाते जाते टीवी डीवीआर कैश अंदाजा 52 हजार रुपये मैनेजर मनजीत वासी रोपड से छीन कर ले गए थे। उसको विजय ने बताया कि मैने विजय व सुनील को ईलाज के लिये सरकारी अस्पताल कुरुक्षेत्र भिजवाया दिया। सुनिल को ज्यादा चोटे होने के कारण उसको पीजीआई चण्डीगढ रैफर कर दिया गया। जिसकी दिनांक 13 अक्तुबर 2019 को ईलाज के दौरान मौत हो गई थी। मामले की जांच पहले ही अपराध अन्वेषण शाखा-1 को दी गई थी । अपराध अन्वेषण शाखा-1 की टीम ने गुप्त सूचना के आधार पर स्वागतम होटल में मार पीट व तोड़ फोड़ करने के चार आरोपियों को देवी लाल पार्क से गिरफ्तार किया था |  जिसके उपरान्त पुलिस ने अलग-2 समय में कुल 10 आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चूका था | आगे मामले की जांच अपराध अन्वेषण शाखा-1 के प्रभारी निरीक्षक प्रतीक कुमार को सौंपी गई | निरीक्षक प्रतीक कुमार की टीम लाडवा एरिया में मौजूद थी कि पुलिस टीम को गुप्त सूचना मिली कि सुनील की हत्या करने के 2 आरोपी इस समय खेड़ी दाबदलान मोड़ के पास बरेजा कार न० HR07Z 5850 में खड़े है | जिस सुचना के आधार पर पुलिस टीम ने आरोपियों को कार सहित काबू करके पूछताछ की जिन्होंने पूछताछ पर स्वीकार किया कि वह दोनों स्वागतम होटल में तोड़फोड़ व मारपीट करने में शामिल थे | जिनको पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है | आरोपियों को अदालत ने पेश करके आगामी जाँच की जायेगी | जांच जारी है |  

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here