पंचकूला से ‘गांधी जयंती’ के अवसर पर हरियाणा में ‘स्वच्छता पखवाड़ा’ मनाए जाने की शुरुआत - Discovery Times

Breaking

Home Top Ad

Responsive Ads Here

Top Ad

Responsive Ads Here

Post Top Ad

Responsive Ads Here

04 October 2020

पंचकूला से ‘गांधी जयंती’ के अवसर पर हरियाणा में ‘स्वच्छता पखवाड़ा’ मनाए जाने की शुरुआत


  • चंडीगढ़, 2 अक्तूबर- हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने ‘स्वच्छ हरियाणा अभियान’ के तहत प्रदेश को खुले में शौचमुक्त बनाने के बाद आज पुन: पंचकूला से ‘गांधी जयंती’ के अवसर पर हरियाणा में ‘स्वच्छता पखवाड़ा’ मनाए जाने की शुरुआत की। इस दौरान उन्होंने शहरों में सीवरेज सफाई के लिए अभियान चलाने तथा 15 दिनों के अंदर-अंदर सभी जलघरों व तालाबों की गाद निकलवाने की घोषणा भी की।
  • श्री मनोहर लाल ने आज पंचकूला से ‘स्वच्छ पखवाड़ा’ की शुरूआत करने के बाद उपस्थित लोगों को सम्बोधित करते हुए कहा कि संयोग से आज राष्ट्रपिता महात्मा गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री श्री लाल बहादुर शास्त्री की जयंती भी है और दोनों ही महापुरुषों का देश की प्रगति व विकास में अहम योगदान रहा है। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने उनको श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए युवाओं से आग्रह किया कि स्वच्छता को अपनी जीवनशैली का हिस्सा बनाने का संकल्प लें। उन्होंने कहा कि सरकारी प्रयासों के साथ-साथ हर नागरिक का दायित्व बनता है कि वह अपने आस-पास सफाई रखने के लिए सरकार को सहयोग करें ताकि ‘स्वच्छ भारत मिशन’ के लक्ष्य को प्राप्त किया जा सके।
  • इस अवसर पर, मुख्यमंत्री ने एक स्टेट-ऑफ-द-आर्ट मोबाइल वॉटर टेस्टिंग लेबोरेटरी वैन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। यह वैन पूरी तरह से एक मल्टी-पैरामीटर सिस्टम से लैस है जिसमें विश्लेषक, सेंसर, प्रोब और इंस्ट्रूमेंटेशन जैसे कि क्लिमेंट्रीक, इलेक्ट्रोकैमिस्ट्री आदि शामिल हैं। इससे हरियाणा के ग्रामीण क्षेत्रों में पीने के पानी की गुणवत्ता की निगरानी का एक प्रभावी तरीका उपलब्ध होगा। इसके अलावा, मुख्यमंत्री ने सुपरसॉकर मशीन से सीवरेज सफाई के कार्य की शुरुआत भी की।
  • मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने 2 अक्तूबर से 17 अक्तूबर, 2020 तक हरियाणा के सभी शहरों में ‘स्वच्छ पखवाड़ा’ मनाने का निर्णय लिया है। इन 15 दिनों के दौरान स्वच्छता पर विशेष ध्यान दिया जाएगा। कोविड-19 स्थिति में, सफाई सुनिश्चित करना और भी अनिवार्य हो गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि लोगों की सक्रिय भागीदारी से इस उद्देश्य को प्राप्त किया जा सकता है। हमें अपने आस-पास तथा रहने के परिवेश को स्वच्छ बनाए रखने के साथ-साथ इसे अपनी आदतों में शुमार करना होगा और अपने स्वभाव को भी बदलना होगा।
  • श्री मनोहर लाल ने कहा कि आज हम राष्ट्रपिता महात्मा गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री, श्री लाल बहादुर शास्त्री, दो महान व्यक्तित्वों की जयंती मना रहे हैं, जिन्होंने हमारे राष्ट्र की स्वतंत्रता और समृद्धि को सुनिश्चित करने के लिए बेजोड़ योगदान दिया। उन्होंने कहा कि स्वच्छता महात्मा गांधी के दिल के सबसे करीब थी और वे सदैव भारत को स्वच्छ और हरा-भरा देखना चाहते थे। इसी प्रकार, पूर्व प्रधानमंत्री श्री लाल बहादुर शास्त्री ने ‘जय जवान-जय किसान’ का नारा दिया और देश की सुरक्षा व्यवस्था को मजबूत करने और समाज के कमजोर वर्गों के उत्थान के लिए काम किया।
  • उन्होंने कहा कि हालांकि भारत 1947 में स्वतंत्र हो गया लेकिन स्वच्छता के मामले में वांछित परिणाम 2020 तक भी प्राप्त नहीं किये जा सके। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने गांधी जयंती के अवसर पर वर्ष 2014 में ‘स्वच्छ भारत’ अभियान की शुरूआत की थी। प्रधानमंत्री के आह्वान के बाद हरियाणा सरकार ने राज्य में ‘स्वच्छ हरियाणा’ अभियान की शुरूआत की और ग्रामीण क्षेत्रों में 100 प्रतिशत ओडीएफ दर्जा प्राप्त करने वाला हरियाणा देश का पहला राज्य बन गया। उन्होंने कहा कि अब हरियाणा में सभी शहरी क्षेत्रों को खुले में शौच मुक्त (ओडीएफ) के रूप में भी प्रमाणित किया जा चुका है।
  • मुख्यमंत्री ने लोगों, विशेष रूप से युवाओं को प्रेरित करते हुए कहा कि आज के दिन उन्हें देश को स्वच्छ बनाने की दिशा में स्वैच्छिक रूप से काम करने का संकल्प लेना चाहिए। सरकार के साथ-साथ अगर देश की 130 करोड़ से अधिक की आबादी एक साथ मिलकर सहयोग करे तो निश्चित रूप से हम ‘स्वच्छ भारत अभियान’ के लक्ष्य को प्राप्त कर सकते हैं।
  • इस अवसर पर हरियाणा विधानसभा के अध्यक्ष श्री ज्ञान चंद गुप्ता, शहरी स्थानीय निकाय विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री एस.एन. रॉय, जनस्वास्थ्य एवं अभियांत्रिकी विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री देवेंद्र सिंह, उपायुक्त श्री मुकेश आहूजा, पुलिस आयुक्त श्री सौरभ सिंह, नगर निगम आयुक्त पंचकूला श्री महावीर सिंह, पुलिस उपायुक्त मोहन हांडा, जिला भाजपा अध्यक्ष श्री अजय शर्मा, ईआईसी मनपाल सिंह के अलावा जिला प्रशासन के अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here