आयुष विभाग द्वारा 5वें राष्ट्रीय आयुर्वेद दिवस के अवसर पर किया गया हवन व संगोष्ठी का आयोजन - Discovery Times

Discovery Times

RNI Registred No.-119642

Breaking

Home Top Ad

विज्ञापन के लिए सम्पर्क करें +91 921-533-0006

Friday, November 13, 2020

आयुष विभाग द्वारा 5वें राष्ट्रीय आयुर्वेद दिवस के अवसर पर किया गया हवन व संगोष्ठी का आयोजन

कुरुक्षेत्र 13 नवम्बर: जिला आयुर्वेदिक अधिकारी डा. सुदेश जाटियान ने कहा कि भगवान धनवन्तरी के पावन जन्म दिवस को प्रत्येक वर्ष राष्ट्रीय आयुर्वेद दिवस के तौर पर मनाया जाता है। आयुष विभाग कुरूक्षेत्र द्वारा जिला आयुर्वेद अधिकारी कुरूक्षेत्र के कार्यालय में कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें विभाग के सभी अधिकारियों व कर्मचारियों ने शिरकत की है।

शुक्रवार को आयुष विभाग में कार्यक्रम के दौरान जिला आयुर्वेद अधिकारी डा0 सुदेश जाटियान द्वारा भगवान धनवंतरी की प्रतिमा के सम्मुख दीप प्रज्जवलित व पुष्प अर्पित किए। इस दौरान एक हवन का भी आयोजन किया गया जिसमें उपस्थित सभी आयुष स्टाफ द्वारा आहूति डालकर मन्त्रौच्चारण किया गया। राष्ट्रीय आयुर्वेद दिवस पर आयुर्वेदा फॉर कोविड-19 पैन्डीमिक विषय पर संगोष्ठी का भी आयोजन किया गया। जिला आयुर्वेद अधिकारी डा. सुदेश जाटियान ने कहा कि इस बार सरकार एवं विभाग द्वारा इस पर्व की थीम आयुर्वेदा फॉर कोविड-19 पैन्डीमिक रखी है ताकि कोविड महामारी में आयुर्वेद चिकित्सा का लोगों में अधिक से अधिक प्रचार प्रसार किया जा सके। आयुष विभाग द्वारा जिला कुरूक्षेत्र में कोरोना महामारी में आयुर्वेद का योगदान विषय पर भी प्रचार वाहन के माध्यम, पम्फलेटव वितरण, सार्वजनिक स्थानो पर फ्लैक्स बैनर लगाकर लोगों को जागरूक किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि सरकार एवं विभाग द्वारा राष्ट्रीय आयुर्वेद दिवस के साथ-साथ 14 नवम्बर को मनाये जाने वाले मधुमेह दिवस को भी इसी पर्व के साथ मनाने बारे दिशानिर्देश जारी किये गये है। जिसमें 15 नवम्बर तक मधुमेह जागरूकता अभियान एवं योग चिकित्सा शिविर के आयोजन किया जाएगा। आयुष विभाग द्वारा पूर्व में ही जिले के सभी डीपीआई व पीटीआई को योग का प्रशिक्षण देने के साथ साथ इम्युनिटी बूस्टर किट आयुष क्वाथ इत्यादि का भी व्यापक पैमाने पर वितरण किया जा रहा है। इसके अतिरिक्त विभाग के अन्तर्गत कार्यरत सभी औषधालय प्रभारी मधुमेह जैसी बिमारियों के प्रति लोगों को जागरूक करेंगे व आयुर्वेद की विभिन्न रोगों में उपयोगिता बारे भी भरपूर जानकारी देंगे। इस अवसर पर आयुष विभाग के सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों के साथ-साथ अन्य कई गणमान्य व्यक्ति भी मौजूद रहे। 

No comments:

Post a Comment