पुलिस ने मारपीट करने व जाति सूचक शब्दों का प्रयोग करने के आरोपी को किया गिरफ्तार - Discovery Times

Discovery Times

RNI Registred No.-119642

Breaking

Home Top Ad

विज्ञापन के लिए सम्पर्क करें +91 921-533-0006

Wednesday, December 16, 2020

पुलिस ने मारपीट करने व जाति सूचक शब्दों का प्रयोग करने के आरोपी को किया गिरफ्तार

जिला पुलिस कुरुक्षेत्र ने रास्ता रोककर मारपीट करने व जाति सूचक शब्दों का प्रयोग करने के तीसरे आरोपी जामिल पुत्र सलामुद्दीन वासी कनिपला को गिरफ्तार किया है। यह जानकारी पुलिस अधीक्षक हिमान्शु गर्ग ने दी ।
यह जानकारी देते हुए श्री हिमान्शु गर्ग ने बताया कि दिनांक 30 नवंबर 2020 को अश्विनी कुमार पुत्र राजबीर वासी सिरसला ने थाना सदर थानेसर में दिए अपने ब्यान में बताया कि दिनांक 29 नवंबर 2020 को उसके छोटे भाई की शादी थी। जिसकी शादी में मिला दहेज का सामान लोड करके ट्रक उसके घर आ रहा था। उसके पास उसके छोटे भाई नवीन का फोन आया कि सामान के ट्रक को रास्ते में गांव कनिपला के पास कुछ लोगों ने रोककर उसके साथ मारपीट कर दी है। सूचना मिलते ही वह अपनी मोटरसाईकिल पर अपने दोस्त को साथ लेकर जैसे ही गांव कनिपला में पहुंचा तो ट्रक के चालक ने बताया कि उनके साथ चौंक पर दुकान पर बैठे लोगों ने मारपीट की है। उसने दुकान के मालिक कर्मबीर उर्फ गामी पुत्र कुलदीप से झगड़ा करने बारे जानने का प्रयाश किया तो वह एकदम गुस्से मे आ गया और अपनी दुकान से तलवार निकालकर उसको मारने का प्रयास किया। इसी दौरान उसके दो साथियों ने उसको पकड़ लिया। सुमित पुत्र कर्मबीर ने उसकी जाति पुछकर अपने हाथ में लिए डंडे से उसकी टांग पर कईं  वार किए। एक दुसरे लड़के ने उसका गला दबा दिया और उन्होंने डोली वाली गाड़ी को रुकवाकर उनके साथ भी जाति सूचक शब्दों का प्रयोग करते हुए गाली गलोच करना शुरु कर दिया। जिसकी शिकायत पर मामला दर्ज करके अनुसूचित जाति अधिनियम की धाराओं के तहत कार्यवाही करते हुए मामले की जांच  उप पुलिस अधीक्षक रविन्द्र तौमर को सौंपी गई। जिसने मामले की जांच करते हुए आरोपी कर्मबीर व सन्नी को पहले ही गिरफ्तार कर लिया था। दिनांक 15 दिसंबर 2020 को उप पुलिस अधीक्षक रविन्द्र तौमर, हवलदार नवनीत सिंह, प्रदीप कुमार व चालक हवलदार शीशपाल की टीम ने आरोपी जामिल पुत्र सलामुद्दीन वासी कनिपला को उसके घर से काबु करके गिरफ्तार कर लिया। आरोपी को माननीय अदालत में पेश करके कारागार भेज दिया ।

 

No comments:

Post a Comment