महापुरुषों के सुशासन के सपने को सरकार कर रही है साकार :नायब - DISCOVERY TIMES

Breaking News

Post Top Ad

विज्ञापन व् ख़बरों के लिए सम्पर्क करे I +91 921-533-0006

Sunday, December 26, 2021

महापुरुषों के सुशासन के सपने को सरकार कर रही है साकार :नायब

कुरुक्षेत्र 26 दिसंबर :लोकसभा क्षेत्र के सांसद नायब सिंह सैनी ने कहा कि केंद्र प्रदेश सरकार द्वारा भारत रत्न एवं पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी तथा महान स्वतंत्रता सैनानी पंडित मदन मोहन मालवीय के सुशासन के सपने को साकार करने के लिए अनेक कदम उठाये गये है। जिला में स्वामित्व योजना के तहत अधिक से अधिक लाभार्थियों को स्वामित्व कार्ड बनाए गये है। 

                सांसद नायब सिंह सैनी, विधायक सुभाष सुधा ने सांसद निवास पर बूथ नंबर 136 द्वारा आयोजित पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी के जयंती दिवस के अवसर पर उनकी प्रतिमा पर पुष्प अर्पित करने उपरांत बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिजारी वाजपेयी का 25 दिसंबर 1924 को साधारण परिवार में जन्म हुआ। उन्होंने अपने राजनीतिक जीवन में अनेक आयाम स्थापित किये। अटल बिहारी वाजपेयी 1939 में आरएसएस के सदस्य बने। उन्होंने देश के स्वतंत्रता संग्राम में हिस्सा लिया तथा 1943 में जेल भी गये। उन्होंने 1957 से 1977 तक विपक्ष के नेता के रूप में भूमिका को बखूबी निभाया। उन्होंने पोखरण में परमाणु विस्फोट कर देश को ओर मजबूत बनाने के लिए साहसिक फैसला लिया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2014 में अटल बिहारी वाजपेयी के जन्मदिन 25 दिसंबर को सुशासन दिवस के रूप में मनाने का फैसला लिया। सुशासन के तहत जनता को बेहतर शासन मिलता है तथा उन्हें पारदर्शिता के साथ योजनाओं सेवाओं का लाभ प्राप्त होता है। 

                थानेसर विधायक सुभाष सुधा ने अटल बिहारी वाजपेयी के राजीतिक जीवन पर प्रकाश डालते हुए कहा कि 1979 में जनता पार्टी की सरकार में अटल बिहारी वाजपेयी को विदेश मंत्री बनाया गया तथा विदेश मंत्री के रूप में भी अटल बिहारी वाजपेयी ने देश के गौरव को बढ़ाया। महान स्वतंत्रता सैनानी पंडित मदन मोहन मालवीय ने शिक्षा के प्रचार-प्रसार में महत्वपूर्ण भूमिका अदा की। इस मौके पर जिला महामंत्री सुशील राणा, बीएलए -2 दुष्यंत, बूथ अध्यक्ष सुरेंद्र गाबा, प्रदेश सचिव महिला मोर्चा रेखा वाल्मीकि, प्रदेश संगठन महामंत्री रविंद्र रजू सहित आदि गणमान्य लोग उपस्थित थे।                                     


No comments:

Post a Comment